1313+ Zindagi Ki Sachai Shayari In Hindi | Truth of the Life Quotes In Hindi

Zindagi Ki Sachai Shayari In Hindi , Truth of the Life Quotes In Hindi
Author: Quotes And Status Post Published at: August 21, 2023 Post Updated at: October 13, 2023

Zindagi Ki Sachai Shayari In Hindi : दूसरों की नज़रों में खुद की तलाश ना कर जिन्हें खुद की औकात नहीं पता वि ही तुझे जज करेंगे | बेचैन है हर इन्सान जिंदगी में मश्वरें सबके पास है मगर साथ किसी का नहीं

समेट रखा है खुद को इतने दिनबस एक बार बिखरना है तेरे गले लगकर..!

जो काम सच्ची लगन से किया जाता है उसमें सफलताअवश्य मिलती है

अगर जिंदगी में कुछ पाना हो, तो तरीके बदलो, इरादे नही।

“जो मुस्कुरा रहा है, उसे दर्द ने पाला होगा, जो चल रहा है उसके पाँव में ज़रूर छाला होगा,

अपना मूल्य समझो और विश्वास करो कि आप संसार के सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति हो

जिंदगी आगे बढ़ने का नाम है  रुकने का नहीं

बड़ी दूर तक जाना पड़ता है यह जानने के लिए कि आपके नजदीक कौन हैं।

डर से बड़ा कोई वायरस नहीं है…और हिम्मत से बड़ा कोई वैक्सीन नहीं है !!!

ज़िंदा रहना ज़िन्दगी नहीं है, बल्कि जज़्बा ज़िंदा रहना ज़िन्दगी है।

जब तक खुद को दर्द नहीं होता तब तक दूसरों के दर्द का एहसास नहीं होता।

किसी ने कहा है की अच्छे कर्म करने से मरने के बाद स्वर्ग मिलेगा और मैं कहता हूँ की माँ-बाप की सेवा करोगे तो जीते जी जन्नत मिलेगी।

दुख इतना कठिन होता है, जब जीवन के कुछ पल यादें बन जाते हैं, कि हमें उनकी कीमत तभी पहचाननी चाहिए जब वे हमारे साथ हों.!

मनपसंद इंसान से कुछ बातें पूरा दिन खुश रहने के लिए काफी है

जिंदगी में तूफान आना भी लाजमी है पता चल जाता है कि कौन साथ है और कौन नहीं।

दूसरों की जिंदगी में अपनीजगह ढूंढ़ना बंद कर दो… “खुश रहोगे”….

कमजोर कभी माफी नहीं मांगते क्षमा करना, तो ताकतवर व्यक्ति की विशेषता होती है !

जो लोग जिंदगी मेंतुम्हारे साथ रहकर भी छल करते हैं!..उनका साथ हमेशा के लिएछोड़ देना ही बेहतर होता है!..

ज़रूरी तो नहीं के शायरी वो ही करे जो इश्क में हो, ज़िन्दगी भी कुछ ज़ख्म बेमिसाल दिया करती है।

कभी किसी की भावनाओं के साथ मत खेलो,हो सकता है आप ये खेल जीत जाए,पर यह पक्का है कि उस इंसान से,आप हमेशा के लिए हार जाओगे.

हम अपने विचारों से आकार लेते हैं,जैसा हम सोचते हैं वैसे ही हम हो जाते हैं !

क्या बेचकर हम खरीदें फुर्सत... ऐ जिंदगी, सब कुछ तो गिरवी पड़ा है जिम्मेदारी के बाजार में

गिरगिट खतरा देखकर रंग बदलता है,और इंसान मौका देखकर….

ज़िंदगी के इस सफ़र में कुछकहानियां pen से लिखी जाती हैंऔर कुछ pain से !!

माचिस किसी दूसरी चीज को जलने से पहले खुद को जलाती है। गुस्सा भी एक माचिस की तरह है, यह दुसरो को बर्बाद करने से पहले खुद क बर्बाद करता है।

जीतने वाले ही नहीं बल्कि कहां पर हारना है यह जानने वाला भी महान होता है

ज़िन्दगी ये चाहती है कि ख़ुदकुशी कर लूँ, मैं इस इन्तज़ार में हूँ कि कोई हादसा हो जाए।

ज़िन्दगी को खुल कर जीने के मायने मिल जायेंगे,जिस दिन मुश्किलों में भी हसना सीख लिया !!

एक औरत के चेहरे पर सारे रंग एक मर्द की वजह से ही आते है, चाहे वह ख़ुशी के हो या गम के। – Gulzar

जिंदगी ने कुछ इस तरह का रूख लिया; जिसने जिस तरफ चाहा मोड़ दिया; जिसको जितनी थी जरुरत साथ चला; और फिर एक लम्हें में तन्हा छोड़ दिया।

जिंदगी की हकीकत को बस हमने इतना ही जाना है, दर्द में अकेले हैं और खुशियों में सारा जमाना है।

सबको पड़ी है अपने आप को सही साबित करने की जैसे यह जिंदगी, जिंदगी नहीं इल्जाम हो।

घड़ी आप चाहे कितनी भी मंहगी पहन लो, आपका समय वही रहेगा !

अगर हारने से डर लगता है, तो जीतने की इच्छा कभी मत रखना

अगर दिल लगाना है तो किताबों से लगाओ अगर बेवफा  निकली तो कुछ काबिल बना कर छोड़ेगी

मेरे बेजुबा इश्क को गम का तोहफा दे, गई जिंदगी बन कर आई थी और जिंदगी ही ले गई !

हम किसी की नज़र बदल सकते है,पर किसी का नजरिया नहीं !!

“बेहतर से बेहतर की तलाश करो, मिल जाए नदी तो समंदर की तलाश करो, टूट जाता है शीशा पत्थर की चोट से, टूट जाए पत्थर ऐसा शीशा तलाश करो।”

इस जवानी से तो बचपन अच्छा था जब कुछ बुरा लगता था वही रो देते थे अब तो रोने के लिए भी जगह ढूंढ़नी पड़ती है

“सबके लबो पर एक दिन तेरा ही नाम होगा, हर कदम पे तेरे, दुनिया का सलाम होगा। ”

जिंदगी की सफलता का राज़ इच्छाओं को पहले इच्छा में बदलो।

बहुत कुछ सिखाया जिंदगी के सफर अनजाने ने,वो किताबों में दर्ज़ था ही नहीं जो पढ़ाया सबक जमाने ने।

ज़िन्दगी से पूछिये ये क्या चाहती है बस एक आपकी वफ़ा चाहती है कितनी मासूम और नादान है ये खुद बेवफा है और वफ़ा चाहती है.

चिरागो को जलायाजा रहा हैहवाओ पर जोर लगायाजा रहा हैना अपनी हार और नाअपनी जीत होगीक्या करे सिक्का उछालाजा रहा है।

नियत और सोच अच्छी होनी चाहिए,बातें तो कोई भी अच्छी कर सकता है।

“साहिल पे पहुंचने से इनकार किसे है लेकिन, तूफ़ानो से लड़ने का मज़ा ही कुछ और है।”

मजबूरी ही मजदूरी करवाती है साहेब..!!

“मिले ना मिले यह तो किस्मत की बात है, हम कोशिश ही ना करें ये तो गलत बात है।”

वक्त बड़ा धारदार होता है जनाब….कट तो जाता है, मगर बहुत कुछ काटने के बाद…

मौका मिलने पर पलट जाती है बाज़ी, किसी का बुरा न करो वरना जिंदगी बहुत रंग दिखाती।

जिंदगी हर रोज सूर्य की पहलीकिरण के साथ नई उम्मीद देती है,यही इंसान के लिए जीने की वजह देती है.!

किसी से हद से ज्यादा उम्मीद लगाओगे, तो एक दिन उस उम्मीद के साथ खुद भी टूट जाओगे।

जीवन एक साइकिल की तरह है जिसमें संतुलन बनाने की बहुत जरूरत होती है अगर संतुलन नहीं है तो आप गिर भी सकते हैं।

एक रोटी के चार टुकड़े हो और खाने वाले पाँच तब मुझे भूख नहीं है ऐसा कहने वाली सिर्फ माँ होती है।

इस भीड़ में अपना नजर आये कोई मुझको !!मैं गुमशुदा बच्चे की तरह खौफज़दा हूँ !!

मौत को तो मैंने कभी देखा नहीं; पर वो यकीनन बहुत खूबसूरत होगी; कमबख्त जो भी उससे मिलता है; जिंदगी जीना ही छोड़ देता है।

बस एक नजर है ले-दे के अपने पास,क्यूँ देखें ज़िन्दगी को किसी की नज़र से।

जब हम कुछ हासिल करते हैं तो हमें बहुत खुशी लो होती है लेकिन जब हम असफल होते हैं। तो यह दुख की नहीं बल्कि बहुत बड़ी सीख की बात होती है।

सोच ‘ खूबसूरत हो तो सब कुछ अच्छा नज़र आता हैं ,

जिंदगी ने बहुत कुछ सहना सिखा दिया, जिंदगी ने जिंदगी जीना सिखा दिया.

“एक से बढ़कर एक इम्तेहान बाकी है, जिंदगी की जंग में है ‘हौसला‘ जरुरी, जीतने के लिए सारा जहान बाकी है।”

“हर मुसीबत का सामना करना तू डट कर, देखना समय एक दिन तेरा भी गुलाम होगा। ”

“लहरों को शांत देखकर ये मत समझना, की समंदर में रवानी नहीं है, जब भी उठेंगे तूफ़ान बनकर उठेंगे, अभी उठने की ठानी नहीं है। ”

इस जिन्दगी को जीने की आरजू बिन तेरे है अधूरी, तेरा साथ जो मिल जाए, मेरी जिन्दगी हो जाए पूरी।

मोहब्बत होने में कुछ लम्हे लगते हैपूरी उम्र लग जाती है उसे भुलाने में

काश अपनी ज़िन्दगी का दुलारा होता , जीत मेरी होती, मामला कोई भी होता।

जिंदगी में अगर खुश रहना है तो दूसरों किबकवास को अनदेखा करना सीखो….

जिन्दगी के सफर में, ये बात भी आम रही, मोड़ तो कई आये, मगर मंजिले गुमनाम रही।

अगर कुछ बड़ा हासिल करना हैतो तपती धूप भी झेलनी पड़ेगी…जो पौधे छांव में पला करते हैं,वह जल्द ही मुरझा जाया करते हैं।

ज़रूरी तो नहीं के शायरी वो ही करे जो इश्क में हो, ज़िन्दगी भी कुछ ज़ख्म बेमिसाल दिया करती है।

आजकल के रिश्ते भीबड़े अजीब से हो गए हैंझूठ बोलने से नहींयह सच बोलने पर टूट जाते हैं।

जिंदगी ख़तम हो जाती है लोगों की.. पर लोग जीना शुरू नहीं कर पाते..। – गुलज़ार

यार क्या ज़िंदगीहै सूरज कीसुबह से शाम तकजला करना।

Recent Posts