1325+ Vidai Shayari In Hindi | विदाई समारोह के लिए शायरी

Vidai Shayari In Hindi , विदाई समारोह के लिए शायरी
Author: Quotes And Status Post Published at: September 14, 2023 Post Updated at: March 4, 2024

Vidai Shayari In Hindi : सिर्फ एक सफ़ाह पलट कर उसनेबीती बातों की दुहाई दी हैफिर वहीं लौट के आ जानायार ने कैसी रिहाई दी है। विदाई का है दिनमाहौल है गमगिनहै ये आशा पूरी हो तुम्हारीहरेक अभिलाषा।

उन्हें जाने की जल्दी थी सो मैंने आँखों सेजहाँ तक छोड़ सकता था वहाँ तक छोड़ आया

रिटायरमेंट का मतलब आपके सक्रिय जीवन का अंत नहीं है। यह सिर्फ एक और अध्याय और यात्रा का प्रतीक है। इसका आनंद लें।

विदा तो हो रहे हो इस कॉलेज सेबस आंखों के सामने से जा रहे होदिल से कैसे निकल के जाओगे आप।

ना जाने फिर कब बैठेंगे ऐसे एक साथ, ना जाने कॉलेज कैंटीन की तरह कब खरचेंगे मिल कर पैसे एक साथ।

है विदाई की ये बेला लगा है आँसुओंका रेला पर है खुशी साथ है आगेदुनिया बड़ी जहाँ मिलेगी तुम्हेजीवन की नई सौगात।

होंगे जुदा ऐसी कोई खबर आई हैदिन भी है बेचैन, साँसे थम आई हैदेंगे हम आपको फेयरवेल की पार्टी लेकिन…होने लगी है बेचैनी और आँखे भर आई है।

एक पिता प्रकृति द्वारा प्रदान किया गया ऐसा बैंकर है जो बहुत सौभाग्य से नसीब होता है। – फ्रांसीसी नीतिवचन

अब क्या खूबियां बताऊं आपके विदाई पर, हर दिन महकता रहे आपके मुस्कुराने पर, कामयाबी की मिशाल बन जाए रहो जहा भी आप मगर अधूरा सा लगेगा आपके जाने पर ।।

किसी को छोड़कर कोई कहीं नहीं जाता हैं, जब कोई शख्स हमारे दिल में बस जाता है.

आपने अपने जीवन का लंबा समय काम करते हुए बिताया है। इसलिए, आपकी रिटायरमेंट के लिए मेरी कामना है कि आपका स्वास्थ्य अच्छा रहे और आप लंबे समय तक रहें।

आसमा में जितने सितारों होखुशियों आपको मिले सारी होसफ़लता आपके कदम चूमेइस विदाई समोराह में बस यही दुआ हमारी हो।

कॉलेज एक परिवार होता हैं जहाँ हर दिन,रविवार होता हैं हर दिल में प्यार होता हैं,पर आखिरी दिन बड़ा बेकार होता हैं..!!

कुछ रिश्ते अनजाने में बन जाते हैंपहले दिल से फिर जिंदगी से जुड़ जाते हैंकहते हैं उस दौर को दोस्ती जिसमेंअनजाने ना जाने कब अपने बन जाते हैं

विदाई के इस उपलक्ष्य में शुभकामना है यही की जीत मिले तुम्हे हर साधित लक्ष्य में।।

ना जाने कुछ लोग कब अपने बन जाते हैयूं ही चलते फिरते दिल में बस जाते हैएक पल में ना जाने क्यों छोड़ कर चले जाते है।

अबके बिछड़े तो शायद हम किताबों में मिलेसूखे हुए फ़ूल जैसे किताबों में मिले

वफा की जंजीर से डर लग जाता हैकुछ अपनी तकदीर से डर लगत हैजो मुझे तुमसे जुदा करती हैहाथ की उस लकीर से दर लगता है।

भोर गमगीन होकर खबर लाई है दिन भी बेचैन है धूप घबराई है आपको हम विदाई दे दे मगर दिल सुबकने लगा आंख भर आई है

बाबुल के आंगन से चिड़िया की हो रही रिहाई है संभाले संभलता नहीं जज्बात जब हो रही एक बेटी की विदाई है

न जाने बेटी की खुशी के लिए कितने सामानों को जोड़ते हैं पिता,बेटी को सुखी करने के लिए न जाने कितने चक्रव्यूहों को तोड़ने हैं पिता।

जाने वाले को कहाँ रोक सका है कोई, तुम चले हो तो कोई रोकने वाला भी नहीं.,

बस रुँधे गाला है, यूँ परेशान कर दियादिल हुआ बर्बाद , मन तरल कर दियातेरी ये जुदाई, मुश्किल हो गईइस विदाई ने हमको, सजल कर दिया।

मिट्टी से सोना बना दियाभाग्य में नहीं था वो भी दिला दियाविदा तो हो रहे हो आज आप हमारी जिंदगी सेपर जाते-जाते भी आपने खुशी के आंसू रुला दिया।

तुम्हें जरूर कोई चाहतों से देखेगा, मगर वो आँखें हमारी कहाँ से लाएगा.

जाने वाले तू हमें याद बहुत आएगा जाने वाले तू हमें याद बहुत आएगा,best farewell shayari in hindi,

ना जाने क्यूँ एक ऐसा अहसास है, दूर होकर भी आप हमारे साथ है, आपको शायद ना हो लेकिन तुम्हारी कसम, हमे आपका हर पल अहसास है.,

तुम्हारे साथ ये मौसम फ़रिश्तों जैसा है तुम्हारे बा’द ये मौसम बहुत सताएगा

”आपके साथ.. कुछ लम्हे… कई यादें बतौर ईनाम मिले, एक सफर पर निकले और तजुर्बे तमाम मिले।”

ये यादें ये बातें अब और कहाँ होंगी, इतने खूबसूरत दिन और रातें ज़िन्दगी में अब और कहाँ होंगी।

वक़्त बदल गए कई दौर गुजर गए कईपर आज भी शिक्षक और शिक्षा का स्थान है सबसे ऊपर

चलते है फिर मिलेंगे ये कह करआप तो विदा हो गए, पर हम अकेले हो गए।

पत्थर थे हम सभी, ज़िंदा हो गए, जिनकी दुआ से सच्चे इंसान बन गए, ऐसे महान आत्मा को कैसे करे विदा, जिनकी सीख से कहाँ से कहाँ पहुँच गए.,

हंसते हैं, हंसाते हैं, जब रूठ जाता हूं, तो मुझे मनाते हैं पापा।

विदा होकर जहाँ भी आप जाओगे है शुभकामना हमारी जीवन में खुशियाँ ही पाओगे।।

इक शुरुआत सी, ख़ुशनुमा हो गईमिल के चलने की रुत सी, यहाँ हो गईजीत जाने की लौं, आपसे जो मिलीवो धुवाँ बन उठी, आसमाँ हो गई।

मेरी ताकत, मेरी हिम्मत, मेरी शान हैं मेरे पापा।

कॉलेज छूट जाने के बाद,कॉलेज के दिन और दोस्त बहुत याद आते हैं कभी कभी तो आँखों में खुशी के आँसू भी आ जाते हैं.

विदाई की घडी आयी है सबके आँखों में आँसू लाई है , आपके पूरे हो हर खाब दुआ ये सबके जुबान पर आई है

आकाश की बुलंदियों पर उड़े इन्सान रुपी पतंग, जब माँ सरस्वती की कृपा से चढ़े ज्ञान का रंग

जीवन की कश्ती डगमग थी किनारे लगा दिया,जमीं से उठाकर सिहासन पर बिठा दिया,और क्या तारीफ करूं आपकी आपने तो,खुद को मिटा कर हमें बना दिया..!!

जमाने का ये दस्तूर है पुराना, होता है यहां सबका आना जाना, आप जहा भी रहो ऐसी छाप छोड़ जाना, की हर कोई गुनगुनाता रहे बस आपका ही तराना

आखिरी अलविदा कहते हैंहो सके तो स्वीकार कर लेनाजब भी मिले वक्त आपको तो हमें याद कर लेना

उस को रुख़्सत तो किया था मुझे मालूम न थासारा घर ले गया घर छोड़ के जाने वालानिदा फ़ाज़ली

ज़िन्दगी गुज़री नहीं जी है इस कॉलेज में, ज़िन्दगी बर्बाद नहीं आबाद की है इस कॉलेज में।

कॉलेज एक परिवार होता हैं जहाँ हर दिनरविवार होता हैं हर दिल में प्यार होता हैंपर आखिरी दिन बड़ा बेकार होता हैं!!!

मिट्टी से सोना बना दिया भाग्य में नहीं था वो भी दिला दिया विदा तो हो रहे हो आज आप हमारी जिंदगी से पर जाते-जाते भी आपने खुशी के आंसू रुला दिया।

मेरी छोटी-सी खुशी के लिए जो सबकुछ सह जाते हैं, वह हैं मेरे पापा।

बिछड़ने का दिन है आज , माहौल थोड़ा गमगिन हैहमारी दुआ है रब से, के आप यूं ही मुस्कुराते रहो ,हँसते रहो, सबके दिल में बसते रहो।

तुम्हे लगता था कि मैं जानता कुछ भी नहीं, मुझे पता था की रास्ता बदल रहे हो तुम !

आपके जाने से हर तरफ सन्नाटा छाएगा,आपको याद करके ये दिल भी उदास होगा,आपको हो न हो पर आपकी कमी का एहसास हमे जरूर होगा.

विदा होकर आज यहाँ से चले जाओगे,पर आशा है यही की जहाँ भी जाओगे खुशीयाँ ही पाओगे…

मै सोचता हु की रिटायरमेंट मतलब हमारी चिंता को दोगुना करना है। जिसमे हमें पहले काम की चिंता होती है और फिर काम ना होने की चिंता होती है।

जीवन के सारे आशाओं को पूरा कर देते हैं, गुरू, शिष्य के जीवन को खुशियों से भर देते हैं.

एक Joke जो सदियों से Student बोलते आ रहे हैंऔर आगे भी बोलेंगे: Next Semester में पूरी जान लगा दूँगा

आप जैसा बड़प्पन, नहीं है कहीं,आप जैसा सरल मन, नहीं है कहीं,आपको हम विदा, आज कर दें मगर,सीनियर ऐसा सज़्ज़न, नहीं है कहीं.

जब आती है विदाई की घड़ी,दिल की बढ़ जाती है मुश्किलें बड़ी,फिर भी आप हमारे दिल के पास रहेंगे,आप हम सबको हमेशा याद रहेंगे.

विदा तो होना ही था आपको आज हो या कलपर जुदा कभी मत होना ये वादा करो अब।

मौसम भी फ़रिश्तों जैसा है तुम्हारे साथ, बहुत सताएगा ये मौसम तुम्हारे बाद ।।

कॉलेज एक परिवार होता हैं जहाँ हर दिन,रविवार होता हैं हर दिल में प्यार होता हैं,पर आखिरी दिन बड़ा बेकार होता हैं..!!

आज वो दिन है जब हम सब के दिल भर जाएंगे, पर बस इतना कहूंगा की आप जहाँ भी जाएंगे बहुत याद आएँगे।

पिता के लिए बेटी भार नहीं,आधार होती है जीवन का।

मुश्किलों से .भाग जाना .आसान होता है मुश्किलों .से .भाग .जाना .आसान होता है हर पहलू जिंदगी का इम्तिहान होता है

विदाई की घडी आयी हैसबके आँखों में आँसू लाई है ,आपके पूरे हो हर खाबदुआ ये सबके जुबान पर आई है

कॉलेज एक परिवार होता है, जहाँ हर दिन रविवार होता है, हर दिल में प्यार होता है, पर आखिरी दिन बड़ा बेकार होता है.

इसके जमाने का दस्तूर बहुत पुराना है,यहां आना जाना लगा ही रहता है,जहां भी रहना वहां छाप ऐसी छोडना,कि हर कोई गाते रहे तुम्हारा ही तराना।

मिलें है तो बिछड़ेंगे भी ये तो दस्तूर है, पर दो बिछड़े फिर से मिलते हैं ये भी दस्तूर है।

तेरी निगाहे पाक की लहरों में बह गएकहना था अलविदा तेरे होकर रह गए।

अगर तलाश करूँ तो कोई मिल ही जाएगा मगर आपके जैसा अब और कौन मिल पाएगा। Agar talash krun to koi mil hi jayega magar apke jesa ab aur kon mil payega.

आपकी जिस सख्ती से थी नफरत,आज उसी पर प्यार आता है,काश! आज फिर से आपकी मिलती डांट,तो फिर तस्वीरों से न करनी पड़ती बात।

”आपके साथ.. कुछ लम्हे… कई यादें बतौर ईनाम मिले, एक सफर पर निकले और तजुर्बे तमाम मिले।”

जीवन की कश्ती डगमग थी किनारे लगा दिया, जमीं से उठाकर सिहासन पर बिठा दिया, और क्या तारीफ करूं आपकी आपने तो, खुद को मिटा कर हमें बना दिया.,

आंखो से दूर दिल के करीब थामैं उसका और वो मेरा नसीब थासोचा ना था होंगे कभी उनसे जुदारिश्ता हम दोनों का कितना अजीब था।

Recent Posts