1111+ Trust Broken Shayari In Hindi | Trust Shayari

Trust Broken Shayari In Hindi , Trust Shayari
Author: Quotes And Status Post Published at: September 13, 2023 Post Updated at: January 20, 2024

Trust Broken Shayari In Hindi : प्यार विश्वास दिलाने का मोहताज नही होता, एक दिल धड़कता है तो दुसरा समझता है। किसी के लिए भी अटूट विश्वास सफलता की नीव बनता है।

आसमाँ को छूने की कूवतें जो रखता था आज है वो बिखरा सा हौंसले बदल डाले

मैत्रीमध्ये जेव्हा आदर आणि विश्वास असतो तेव्हा बाकी कशाचीच आवश्यकता भासत नाही

भरोसा है खुद पर तोये दुनिया अपनी हैजो खुद पर भरोसा नहीं तोपूरी दुनिया में अपना कोई भी नहीं है।

दिल को तेरी चाहत पे भरोसा भी बहुत है, और तुझ से बिछड़ जाने का डर भी नहीं जाता !

नसीब से ज्यादा Trust तुम पर किया🥺फिर भी नसीब इतना नहीं बदला 😔जितना तुम बदल गये 💔

जो लोग कहते हैं कि वो हमेशा साथ देंगे,अक्सर वही लोग भरोसा तोड़ जाते हैं।

क्या खूब मजबूरियां थी मेरी भी 😔अपनी Khusi को छोड़ दिया 💞उसे खुश देखने के लिए💔

अपनी शोहबत में जिसे करते थे रोशन उसे जंगल के अंधेरे में अकेला छोड़ क्यों देते हैं…

खरं सांगायचे तर नाते तेच टिकते ज्यात गैरसमज कमी आणि विश्वास अधिक असतो

नहीं मिलेगा तुझे कोई हम सा🥰जा इजाजत है ज़माना आजमा ले ☝️

अब मुमकिन नहीं है किसी परदोबारा विश्वास करनामुमकिन है तो बस एक ही चीजहर शख्स से अपने आप को दूर करना !

किसी पर भी आँख मूंदकर #Trust कर लेना मूर्खता होती है.

रिश्ता मजबूत होना चाहिए मजबूर नहीं।

भरोसे जीतने में साल लगते है हारने में कुछ पल लगते हैं और दोबारा बनाने में पूरी ज़िन्दगी लग जाती है।

“विश्वास टूट जाने के बाद भरोसा रखना मुश्किल होता हैं, जैसे ज़मीन पर बर्फ का होना।”

विश्वास को केवल कमाया जा सकता है, और यह निश्चित समय के बाद ही कमाया जा सकता है -अर्थर एशे

एक में ही था जो तुम पर भरोसा कर बैठा, वरना बताने वालो ने सब कुछ ठीक ही बताया था.

कभी भी एक भरोसेमंद और वफादार व्यक्ति को इस हद तक मजबूर न करें, की उसे फिर फर्क ही न पड़े

किसी पर पूरी तरह से भरोसा करना आनंदित करने वाला है।

हर भूल तेरी माफ़ की, हर खता को तेरी भुला दिया, गम ये है कि मेरे प्यार का, तूने बेवफा बनके सिला दिया.

भरोसा करना सीखना जीवन के सबसे कठिन कार्यों में से एक है.

अगर आप किसी व्यक्ति का भरोसा जीतना चाहते हो तो आपको किसी तीसरे व्यक्ति की कोई जरूरत नहीं।

रिश्ते बेहतर तरह से निभाने का केवल एक मंत्र है,अपनों से उम्मीद कम औरअपनों पर विश्वास ज्यादा रखिए।

रिश्तों को अच्छी तरीके से निभाने का सिर्फ एक ही मंत्र है, अपनो से उम्मीद कम और विश्वास ज्यादा रखना।

एखाद्यावर पटकन विश्वास ठेऊ नका, कारण पाण्यात मिसळलेला विषाची चव पोटात गेल्यावरच कळते

जब आप यह सोचने लग जाते हैं कि इस व्यक्ति पर भरोसा किया जा सकता है या नहीं, आप उसी समय उस पर भरोसा करना छोड़ चुके होते हैं❗️

विश्वास और प्रेम में एक समानता है दोनों में से कोई भी जबरदस्ती पैदा नही किया जा सकता है।

बस अपने आप पर भरोसा रखो फिर तुम जानोगे की जिंदगी को कैसे जीना है।

इश्क़ किया है तो विश्वास रखो,अपनी यह कसम अपने पास रखो ।।

हम सभी स्वार्थी हैं और मैं खुद से ज्यादा विश्वास किसी पर नहीं करता "Lord Byron"

विश्वास समंदर की तरह है यह कितना गहरा होगा,यह आपकी सोच और ईमानदारी पर निर्भर करता है।

जो आपकी हर बात से सहमत हो, वो व्यक्ति भरोसे के लायक नहीं होता।

हर चीज वही मिल जाती है जहां वो खोई हो लेकिन विश्वास वहां कभी नही मिलता जहां एक बार खो जाता है।

“विश्वास का कच्चा छत्ता कभी पक्का नहीं होता, जिसे तोड़ा गया हैं उसे फिर से जोड़ना बेहद मुश्किल होता हैं।”

तुम्ही कोणावर कितीही विश्वास ठेवा पण ज्याच्या रक्तात बेईमानी आहे तो एकदिवस विश्वासघात करणारच हे कायम लक्षात ठेवा

आपको उन लोगों पर विश्वास जरूर करना चाहिए, जिनको अपने आप पर विश्वास हो।

विश्वास कच्चे धागे की तरह होता है जो टूट जाता है, तो कभी जुड़ता नहीं, जुड़ता भी है तो उस में गांठ पड़ जाती है  ❗️

जो आपके बुरे वक़्त में आपका साथ छोड़ गए, उन पर दोबारा भरोसा करने की गलती दोबारा मत करना।

जो ईश्वर पर विश्वास करके जीते है,वो लोग अपने जीवन में खुश होते है.

दुनिया को नफरत का यकीन नहीं दिलाना पङता,मगर लोग मोहब्बत का सबूत ज़रूर मॉगते हैं।

किसी पर इतना विश्वास रखो, कि कोई उसे तोड़ ना पाए, चाहे कोई कितनी भी कोशिश कर ले, रिश्तों का कुछ उखाड़ ना पाए !

भरोसा करना मुश्किल है,ये जानना कि किस पर भरोसा किया जाये, और भी मुश्किल है❗️"Maria V. Snyder"

मुझे सिर्फ इतना बता दो इंतज़ार करू तुम्हारा या बदल जाऊ तुम्हारी तरह।

भरोसा एक कांच की तरह है एक बार टूट जाए फिर दोबारा वैसा करना बहुत मुश्किल है।

जो खास हो उसी पर विश्वास होता है,तोड़ना मत, दिल में दर्द का एहसास होता है।

हर बार मुसीबत के मुँह के आगे,अपने आत्मविश्वास को परोसा कर,जीतेगा तू ही बस खुद पर भरोसा कर।

दूसरों पर विश्वास करना अच्छा है लेकिन नही करना ज्यादा अच्छा है।

भरोसा भी हमेशा वहां टिकता है जहाँ उसे प्यार दिखता है।

विश्वास को खरीदा या बेचा नहीं जा सकता है, इसे सिर्फ कमाया जा सकता है।

जो चाहे वो पा लेता है इंसान, विश्वास में इतना दम होता है, जो इंसान को ईश्वर देता है वो कभी भी कम नहीं होता हैं.

इंसान की खामोशी ही काफ़ी है,ये बताने के लिये की वो अंदर से टूट चुका है।

मैं किसी पर भरोसा नहीं करता , खुद पर भी नहीं।

जब विश्वास टूट जाता है तोफिर हर रिश्ता टूट जाता है।

अगर तुझे कुछ ख़ास करनाहै तो कुछ नहीं करना बसखुद पर विशवास करना है।

तोड़कर जोड़ लो चाहे हर चीज़ इस दुनिया की,Trust को छोड़कर हर चीज़ मरम्मद के काबिल है इस दुनिया की!

अगर तुम खुद से ज्यादा किसी पर विश्वास करते हो,तो तुम धोखा खाने के लिए भी तैयार रहो.

सिर्फ प्यार ही नही बल्कि भरोसा भी जरुरी होता है,जिन्दगी भर साथ रहने के लिये!

रिश्ता वो ही हसीं होता है जिसमे खुद से ज्यादा एक दूसरे पर यकीन होता है।

शेवटच्या क्षणापर्यंत साथ देईन तुला विश्वास ठेव माझ्यावर

इस जिंदगी में कोई किसी का नही होता,हम सोचते है, कोई तो है जो सिर्फ हमारा है,पर वक़्त आने पर तो वो भी हमारा नही होता।

धोका खाने के बाद लोगों पर भरोसा करना दुनिया का सबसे मुश्किल काम है।

रिश्ते दिल टूटने पर नहींभरोसा टूटने पर बिखरते है।rishte dil tootane par nahinbhaarosa tootane par bikharate hai.

हाथों की लकीरों पर ऐतबार कर लेना, भरोसा हो तो हदों को पार कर लेना, खोना पाना तो नसीबों का खेल है, दिल जिसे अपना ले उसी से प्यार कर लेना.

मतलब की दुनिया थी इसलिए छोड़ दिया सबसे मिलना,वरना ये छोटी सी उम्र तन्हाई के काबिल नही थी।

विश्वास कच्चे धागे की तरह होता है जो टूट जाता है, तो कभी जुड़ता नहीं, जुड़ता भी है तो उस में गांठ पड़ जाती है।

भरोसे के बिना रिश्ता,सिग्नल के बिना फ़ोन के जैसा ही है।

कभी किसी पर भरोसा मत करो, अँधेरे में तो आपकी परछाई भी आपका साथ छोड़ जाती है।

मौके का फायदा उठानाअच्छी बात है लेकिन किसी केविश्वास का फायदा उठानाबहुत गलत बात है !

अगर आप हर किसी को शक की निगाह से देखोगे, तो आपको ज़िन्दगी में कभी भरोसेमंद व्यक्ति नहीं मिलेगा।

यदि रिश्ते अच्छे से निभाने है तो अपनों से उम्मीद कम रखो और विश्वास ज्यादा रखो।

भरोसा बस तू खुद पर और खुदा पर करफिर देख ऐसी कोई मंज़िल नहीं होगीजहाँ तेरा आशियाना नहीं होगा।

रिश्ता चाहे कोई भी हो,पासवर्ड एक ही होता है“विश्वास”

Recent Posts