21+ Thokar Shayari In Hindi | ठोकर लगना Quotes

Thokar Shayari In Hindi , ठोकर लगना Quotes
Author: Quotes And Status Post Published at: October 4, 2023 Post Updated at: May 3, 2024

Thokar Shayari In Hindi : अगर ठोकर लेन से कामयाबीमिलती है तो ऐसे ठोकरों काजिंदगी में स्वागत करें। जीवन के हर मोड़ परठोकर मिलती है, ठोकर खाकर चलने वालों कोही सफलता मिलती है।

दुनिया में हर चीज़ ठोकर लगने से टूट जाती हैंएक कामयाबी ही है जो ठोकर खाने सेमिलती है

जिंदगी की हर ठोकर ने एक ही सबक सिखाया है, रास्ता कैसा भी हो सिर्फ अपने पैरों पर भरोसा रखो !!

_मुकद्दर_ठोकर मारने वाला..वो पत्थर भी रोया है...दीदार-ए-मुफलीसी पर...मुकद्दर भी रोया है.....

जीवन के हर मोड़ परठोकर मिलती है, ठोकर खाकर चलने वालों कोही सफलता मिलती है।

ज़िन्दगी की ठोकर सबसे निराली होती है,जब भी लगती है तो किसी असलियत कोदिखा जाती है या फ़िर कुछ नया सिखा जाती है.

ठोकर खाया हुआ दिल है साहब भीड़ से ज्यादा तन्हाई अच्छी लगती है !!Thokar khaaya hua dil hai saahab bheed se jyaada tanhaee achchhee lagatee hai !!

जिंदगी की दौड़ में ठोकर खाकरसभी गिरते हैं, फिर बहुत लोग उठते है।लेकिन बहुत कम लोग मुश्किलों सेफिर दुबारा लड़ते है।

मुश्किलों का कोई गम नहीं हमें,कि हर रास्ते पर मुस्कुराकर चलते हैं,ठोकरें हमें क्या ठोकर मारेंगीहम तो खुद उन्हें ठुकराकर चलते है.साजन

काश! रहगुजर की वो ठोकरें,मेरा इश्क समझ लें....,ख्वाबों में नहीं,हकीकत में उसकी बाँहों में मुझें गिरा दें!!

दुनिया की हर चीज ठोकर लगने से टूट जाती है, एक कामयाबी ही है जो ठोकर लगने से मिलती है

ठोकर इसलिए नहीं लगती है कि इंसान गिर जाए,ठोकर इसलिए लगती है कि इंसान संभल जाएँ।

खा कर ठोकर ज़माने की, फिर लौट आये मयखाने में, मुझे देख कर मेरे ग़म बोले, बड़ी देर लगा दी आने में!

वक़्त लगेगा,पर संभल जाएंगे,ठोकर से गिरे हैंअपनी नजरों से नहीं।

अभी अंधेरों से मेरी यारी थोड़ी और रहने दो,इश्क़ ए मरीज़ हूं हुज़ूर, मुझे अभी ये बीमारी थोड़ी और रहने दो।

अपनी ज़िन्दगी की ठोकर सम्भाल लेगा इन्सानगाड़ियों की ज़िन्दगी की ठोकरों को कौन सम्भाले

छोटी से छोटी गलतियों से बचना सीखिए,हम ठोकर पत्थर से खाते है, पहाड़ से नहीं।

"सम्हल सम्हल कर ही चलते हैं हम फिर भी, कुछ वक्त काटकर लोग निकल ही जाते हैं..."

रोज तेरे बगैर चलने की कोशिश करता हूँ,पर जब ठोकर लगती है तो तेरा साथ ढूँढ़ता हूँ।

अगर ठोकर लेन से कामयाबीमिलती है तो ऐसे ठोकरों काजिंदगी में स्वागत करें।

आँधियों से शिकवा न था,तूफानों से गम न किया,साहिल को छू लेते मगरठोकरों को तूने कम न किया।साजन

जीवन के ये रास्तें लम्बें हैं सनम,काटेंगे ये जिंदगी ठोकर खाके हम।

Recent Posts