2113+ Teri Yaad Aati Hai Shayari In Hindi | Teri Bahut Yaad aati hai shayari hindi

Teri Yaad Aati Hai Shayari In Hindi , Teri Bahut Yaad aati hai shayari hindi
Author: Quotes And Status Post Published at: July 29, 2023 Post Updated at: October 19, 2023

Teri Yaad Aati Hai Shayari In Hindi : सुलग रही है अगरबत्तियां सी मुझ में, तुम्हारी याद ने महका भी दिया, जला भी दिया … बता किस कोने में, सुखाऊँ तेरी यादें बरसात बाहर भी है, और भीतर भी है.

क्यूँ करते हो मेरे दिल पर इतना सितम, याद करते नहीं तो याद आते ही क्यूँ हो !

दिल से निकाले जाने वालेयादों को भी अपने साथ ले जाना

बरसात तो थम जाती हैं पर यादें नहीं,रोज-रोज मौसम का बदलना अच्छा नहीं..!!

कुछ खूबसूरत पलोंकी महक सी हैं तेरी यादें,सुकून ये भी हैकि ये कभी मुरझाती नहीं।

क्यूँ करते हो मेरे दिल पर इतना सितम?याद करते नहीं, तो याद आते ही क्यूँ हो।

तुम ही मेरी मोहब्बत तुम ही जीने की वजह बन गये, तुम ही मेरी मंजिल और तुम ही मेरी राह बन गए ।

हमने उनसे प्यार किया, ये मेरे प्यार की हद थी,हमने उन पर एतवार किया, ये मेरे एतवार की हद थी,मर कर भी खुली रही मेरी आँखे, ये मेरे इंतज़ार की हद थी.

“कुछ तस्वीर बाकी हैं अभी तक तेरी यादों की, ये दिल खाली नहीं किसी और के लिए, चाहा तो बहुत मिटा दूँ इन तस्वीरों को, पर मुमकिन नहीं ये इस आदमी के लिए।”

सरहदें तोड़ के आ जाती है किसी पंछी की तरह,ये तेरी याद है जो बंटती नहीं मुल्कों की तरह।

इतना न याद आओकि खुद को तुम समझ बैठूं,मुझे अहसास रहनेदो मेरी अपनी भी हस्ती है।

फिर उसकी याद,फिर उसकी आस,फिर उसकी बातें,ऐ दिल लगता है तुझे तड़पने का बहुत शौक है।

नहीं आती तो याद उन की महीनों तक नहीं आती मगर जब याद आते हैं तो अक्सर याद आते हैं

कभी करीब तो कभी जुदा था तूजाने किस-किस से ख़फ़ा है तूमुझे तो तुझ पर खुद से ज्यादा यकीन थापर ज़माना सच ही कहता था कि बेवफ़ा है तू।😭😭

तेरे बिना तन्हा हम रहने लगे हैं, दर्द के तूफानों को सहने लगे हैं! बदल गयी है इस कदर मेरी जिन्दगी, अश्क बनकर पलकों से बहने लगे हैं.

आज फिर वही यादों का चित्रहार चला कुछ पल तो रुका वो फिर उस पार चला मैं रह गया इस पार बेक़रार कुछ उम्मीद लियें वो कुछ और की उम्मीद में बेक़रार चला

बहुत मुश्किल से करते हैं तेरी यादों, का कारोबार मुनाफा कम ही सही, मगर गुजारा हो ही जाता है .

भूल जाता हूँ परेशानियां ज़िंदगी की सारी, माँ अपनी गोद में जब मेरा सर रख लेती है।

हर वक्त मुस्कुराना फिदरत हैं हमारी,आप यूँ ही खुश रहे हसरत हैं हमारी,आपको हम याद आये या ना आये,आपको याद करना आदत हैं हमारी❤❤

“हर तरफ जीस्त की राहों में कड़ी धूप है, बस तेरी याद के साए हैं पनाहों की तरह।”

वो अपनी ज़िन्दगी में होगए मसरूफ इतने कि,किस-किस को भूलगए अब उन्हें भी याद नहीं।

तुझे भूलने की कोशिश तोहबहुत की ए सनम,लेकिन तेरी याद गुलाब कीखुशबु की तरह रोज मेहकती हैं

अपनी मोहब्बत पर इस कदर यकीन है मुझे की , जो मेरा हो गया वो है वो किसी और का हो नहीं सकता !!

ना भुला सकती हूँ नाम तेरा ना ही तुझे याद करने की इजाजत है दिल में बस तू ही तू है सनम इस दिल को तुमसे बेइन्तेहाँ मोहब्बत है…

हम कैसे याद नहीं करते उन्हें इस बात की हैरानी है, यहां तो हर सांस में तेरे मेरे प्यार की कहानी है।

सिलसिला खत्म हुआ जलने जलाने वाला, अब कोई याद नही आता यहाँ तुम्हारे सिवा।

तुझे पाना.. तुझे खोना… तेरी ही याद मेँ रोना….

कुछ ऐसे तुम्हारे चेहरे की यादों में झूल जाते हैं,याद करते रह जाते हैं और लिखना भूल जाते हैं।

काश आंसुओ के साथ यादे भी बह जाती …

रहें दुरियाँ… तो क्या हुआ, याद नज़रों से नहीं, दिल से किया जाता है…..!!

वो वक़्त वो लम्हे कुछ अजीब होंगे,दुनिया में हम सबसे खुशनसीब होंगे,दूर से जब इतना याद करते हैं आपको,क्या होगा जब आप हमारे करीब होंगे?

भूख तो एक रोटी से भी मिट जाती माँ, अगर थाली की वो रोटी तेरे हाथ की होती।

बरसो गुजर गए रोकर नहीं देखा,आँखों में नींद थी सोकर नहीं देखा,आखिर वो क्या जाने दर्द मोहब्बत का,जिसने किसी को कभी खोकर नहीं देखा.

इंतजार तो अब किसी का भी नहीं है,फिर भी ना जाने क्यूँ पलट के देखने की आदत नहीं जाती।

हमें तो कब से पता था के तू बेवफा हैऐ बेखबर तुझे चाहा ही इस लिए की शायद तेरी फितरत बदल जाये…!!

तेरे बिना कैसे गुजरेगी ये रातें,तन्हाई का गम कैसे सहेंगी ये रातें,बहुत लंबी है घड़ियां इंतजार की,करवट बदल-बदल कर कटेंगी ये रातें.

“अब हिचकिय आती है तो पानी पे लेते है ये वहम छोड़ दिया की कोई याद करता है।”

तुम सिर्फ मेरी खुशियां ही नहीं हो, मेरा नसीब भी हो मैं जितना तुमसे दूर हूँ तुम उतना ही मेरे करीब भी हो !

हम कल भी तुझसे प्यार करते थे, हम आज भी तुझसे प्यार करते हैं बस फर्क इतना है कि कल हक था आज हक नहीं है ।

बस यही सबूत है मोहब्बत हमारी वफ़ा का,जब भी किया उसने कोई वादा हमने ऐतबार कर लिया.😐 😢 😭

डर लगता है मुझे रात के उस पहर से भी,जब उतरती हैं दिल के आँगन में यादें तेरी।

जो कभी भूला ही नहीं वो ख्याल हों तुम, मेरी जिंदगी के सभी सवालों का जवाब हो तुम ।

हर घुट में तेरी याद बसी है,कैसे कह दूँ चाय बुरी हैं।

हम तुम्हे याद करेंगे तुम हमे याद करना,देखते है हिचकियां किसे आती है !

यादों से दिल भरता नहीं दिल से यादें निकलती नहीं, यह कैसी कशमकश है आपको याद किये बिना, दिल को चैन मिलता नहीं.

कुछ तस्वीर बाकी हैं अभी तक तेरी यादों की,ये दिल खाली नहीं किसी और के लिए।चाहा तो बहुत मिटा दूँ इन तस्वीरों को,पर मुमकिन नहीं ये इस आदमी के लिए।

काश वह चुपके से आए और मुझे गले लगा कर कहे, तुम्हारे बिना अब रहा नहीं जाता ।

दिन नहीं ढलता आपके बिना,नींद भी नहीं आती आपके बिना,एक पल का भी चैन नहीं आपके बिना,नहीं रहा जाता एक पल भी आपके बिना।

याद आते हैं तो कुछ भी नहीं करने देते​,​ आप की यही बात बहुत बुरी लगती है।

“माँ” की एक दुआ जिन्दगी बना देगी, खुद रोएगी मगर तुम्हे हँसा देगी… कभी भुल के भी ना “माँ” को रूलाना, एक छोटी सी गलती पूरा अर्श हिला देगी…!!

कभी अपनों को भूलाना ना आया;किसी के दिल को दुखाना ना आया;दुसरो की याद में तड़फन्ना तो सिख लिया;अपनी यादो में किसी को तड़फ़ाना ना आया.

तुम मेरी याद में चुपके से आ जाती हो। रोज नया नया एहसास करा जाती हो। Tum Meri Yad Me Chupke Se Aa Jati Hai, Roj Nya Nya Yehsas Kra Jati Ho, i miss u.

भूल जाएंगे हम याद तुम भी ना रखना, मैं ठीक हूं फिक्र मेरी तुम भी ना करना।

जब तुम्हारी याद के ज़ख़्म भरने लगते हैं,फिर किसी बहाने तुम्हें याद करने लगते हैं।

हम कहीं लिखना भूल न जाएँ, तुम यूँ ही दिल को दुखाती रहा करो।

सुनो मेरी जान आंखें खुलते हीदिल में तुम्हारी याद होती है ,मेरी जान हमेशा खुश रहो तुमयही खुदा से फरियाद होती है

आधी रात को सपना आ जाता है,फिर सोना मुश्किल हो जाता है।खुदा की कसम यारो मैंने प्यार नहीं किया,ये प्यार तो अपने आप ही हो जाता है।

तुम्हारे बाद किसी को दिल में बसाया नहीं हमने,तुम चले गए तो क्या,यादों को मिटाया नहीं हमने !

एक ख्वाहिश सी है मेरी, लम्बी सड़क, हल्की बारिश, बहुत सारी बातें और बस हम और तुम ।

तेरे बिना कैसे गुजरेंगी ये रातें, तन्हाई का गम कैसे सहेंगी ये रातें, बहुत लम्बी है घड़ियाँ इन्तजार की करवट बदल-बदल कर कटेंगी ये रातें।

तुझे याद करना न करना अब मेरे बस में कहाँदिल को आदत है हर धड़कन पे तेरा नाम लेने की।

छू जाते हो तुम मुझे हर रोज एक नया ख्वाब बनकर, ये दुनिया तो खामखां कहती है कि तुम मेरे करीब नहीं।

था जो याद कुछ-कुछ अब वो भी ना रहा,पहले सा ज़िन्दगी अब तुझसे मोह भी ना रहा।

भूल जाना उसेमुश्किल तो नहीं है लेकिन,काम आसान भी हमसे कहाँ होते हैं।

बात चाहे हम पूरी दुनिया से कर ले ,पर तेरी कमी कोई भी पूरी नहीं कर सकता ।

उसकी डांट में भी प्यार नजर आता है, माँ की याद में दुआ नजर आती है।

बेशक तुझसे कहा नहीं जाता मगर ये सच है मेरी जान तुम्हारे बिन अब रहा नही जाता ।

गुजर गई वो सितारों वाली प्यारी सी रात,आ गयी याद वो आपकी एक मीठी सी बात।हर पल होती रहती थी हमारी मुलाकात,अब तो बिन आपके होती होती है।

तुझे याद करना भी एहसास है,ऐसा लगता हैकी हर पल तू मेरे पास है।

बहुत खूबसूरत होते है,वो पल जब कोई दोस्त साथ होते है।लेकिन उससे भी खूबसूरत होते है,वो लम्हे जब दूर रहकर भी वो हमें याद करते है।

साथ भीगे बारिश में ये मुमकिन नहीं,चल भीगी यादों में तुम कहीं, मैं कहीं।

मुश्किलों सी निखरती है शख्सियत यारो,जो पत्थरो सी ना उलझे वो झरना किस काम का।

“ये मत कहना कि तेरी याद से रिश्ता नहीं रखा, मैं खुद तन्हा रहा मगर दिल को तन्हा नहीं रखा।”

Recent Posts