920+ Sunset Shayari In Hindi | Sunset Quotes In Hindi

Sunset Shayari In Hindi , Sunset Quotes In Hindi
Author: Quotes And Status Post Published at: September 15, 2023 Post Updated at: June 28, 2024

Sunset Shayari In Hindi : ढलते-ढलते जब सूरज बादलों में छिप जाता है, फिर धीरे-धीरे तेरे यादों का सूरज उग आता है. Sunset Love Shayari हर दिन उगता है सूरज, हर दिन डूबता है सूरज, फिर भी ना जाने क्यों तन्हा रहता है सूरज।

कृतज्ञता व्यक्त करत सूर्यास्त पाहणं म्हणजे मन:शांती

होंठों पर मुस्कान नज़रों में ख़ुशी,दुख का नामोनिशान न हो,हर शाम हो इतनी हंसी,जिसके ढलने की शाम न हो..!!

वो शाम में में आज तक नहीं भूल नहीं पाया हूँ जिस शाम तू मेरी जिंदगी से चली गयी थी।

मुझे पूरा यकीन है किजब तक मैं सूर्यास्त में सवारी नहीं करता,मैं देश के साथ रहना चाहता हूं।

গভীৰ নিশা + কাণত হেডফোন + কিছুমান প্রিয় গান = মই ভালে আছোঁ।

दूर कहीं क्षितिज पे सूरज ढल रहा है,फिर किसी दरिया का दिल जल रहा है.

मैं कभी भी सूर्यास्त से नहींमिला जैसा मैंने किया था !

तू तोड़ दे वो कसम जो तूने खाई है,कभी कभी याद करने में क्या बुराई है,तुझे याद किये बिना रहा भी तो नही जाता,तूने दिल में जगह जो ऐसी बनाई है।

जब मैं तुम्हारे साथ डूबते सूरज को देखता हूँइसलिए मैं रोता हूँ क्योंकि मुझे विश्वास नहीं होतामैं उतना ही भाग्यशाली हूं।

जब सूरज ढल चूका होता है,तो कोई मोमबत्ती उसका स्थान नहीं ले सकती।

सूर्यास्तामध्ये एका क्षणासाठी सर्व काही थांबवण्याची क्षमता आहे.

मुझे वह हर सूर्योदय और सूर्यास्तपसंद है वह समय अंकित हैआप वास्तव में इसे देखते हैं या नहीं।

सूखे होंटों 💋 पे ही होती हैं मीठी 😅 बातें प्यास जब बुझ 🤪जाये तो लहजे बदल🤨 जाते हैं ..!!😤😤

पंछी लौट रहे घर को सिंदूरी रंग चढ़ा अम्बर को,तनिक आभास नहीं छैल भंवर को,डूबा के सांझ कर दी दोपहर को,धीरज होता नहीं रजनीकर को,सज धज के बैठ गया सफर को।

कोई शोहरत पर नाज़ करता है,कोई दौलत पर नाज़ करता है,जिसको भी मिलते हैं हमारे मैसेज,वो अपनी किस्मत पर नाज़ करता है.. गुड इवनिंग

तेरे दुर जाने का दर्द दिल को और तड़पाती हैतेरी याद लिए खिड़की पर देखता हूं तो शाम हो जाती है।

सूर्यास्त इतने सुंदर होते हैं कि वे,लगभग ऐसा प्रतीत होते हैं,जैसे हम स्वर्ग के द्वार से देख रहे हों।

फोटोग्राफीमधला सर्वात मोठा क्लिक म्हणजे सनराईझ आणि सनसेट – कॅथरीन ओपी

🤨 सामने बैठे 🤝 रहो, दिल ❤️ को करार 😍 आएगा 😁जितना देखेंगे 🧐 तुम्हें, उतना ही प्यार 😍 आएगा … ।।

अब कैसे बताऊ की कैसे गुजरात हूँ में अपनी हर शाम तेरे बिन, इस जिंदगी को कोसता रहता हूँ में तेरे बिन।

ठहर कर कभी सूरज देखता ही नहीतभी तो रोज शाम संवरती हैं उसके लिए

फिजा में महकती saam ho tum,प्यार का छलकता जाम ho tum,सीने में छुपाये फिरते हैं तुम्हें,मेरी ज़िन्दगी का दूसरा नाम ho tum।

सूर्यास्त प्रमाण है जो कुछ भी हैहर दिन खूबसूरती से खत्म हो सकता है।

“शेर 🦁 ” को “जगह और ⏳वक़्त” से कुछ लेना-देना नहीं 🤨 होता,शेर﹏जिस वक़्त ⏳जहा भी होता है, वहा 😎 ही होता है 👑 … ।।

जहाँ से तेरी 😎 बदमाशी ख़तम होती हैं, 🤩 वहां से मेरी 👑 नवाबी शुरू होती है 😇😇 … ।।

#आपकी यादों के साथ शाम आती है!! आपकी ही सपनों में रात गुजरती है!! हमें तो इन्तज़ार है बस उस शाम का जब आए आपको अपने साथ लेकर!!

जेव्हा मी सूर्यास्ताच्या चमत्काराचे अथवा चंद्राच्या सौंदर्याचे कौतुक करतो तेव्हा सृष्टीच्या उपासनेत माझं मन रमतं

ढलते-ढलते जब सूरज बादलों में छिप जाता है,फिर धीरे-धीरे तेरे यादों का सूरज उग आता है।

एक उम्मीद और एक ख़्वाब हमेशा ज़िंदा रखना,यही तो जीने का मज़ा बनाए रखती है।

#सूरज डूबा और आँखों में नमी-सी है आज फिर एक बार आपकी कमी-सी है

#दुआ करता हूं आपके दिल से!! हमको आज कुछ हुआ है फिर से!! याद आती है आपकी शाम ढलते ही लगता है आपसे प्यार हुआ आज फिर से!!

#ठहर कर कभी सूरज देखता ही नहीं तभी तो रोज शाम सँवरती है उसके लिए

ज़िंदगी में आपकी एहमियत हम आपको बता नहीं सकते,दिल में आपकी जगह हम आपको दिखा नहीं सकते,कुछ रिश्ते बोहत अनमोल होते है,इससे ज्यादा हम आपको समझा नहीं सकते।

ख़्वाबों का हकीकत से कोई फ़साना नहीं रहा,अब बीएस थक गये, अब और हारने का बहाना नहीं रहा.

इश्क़ वो हैं,जब मैं शाम होने परमिलने का वादा करूँऔर वो दिन भर सूरज केहोने का अफ़सोस करें।

अपने सपनों पर विश्वास करो!!वे तुम्हें एक कारण के लिए दिया गया था!!

😕 जाते हुए उसने 🤔 सिर्फ इतना ही कहा 🤨 था मुझसेओ 🤪 पागल.. अपनी 🤗 जिंदगी जी लेना, वेसे ❤️प्यार अच्छा 😍 करते हो … ।।

विसरू नका सुंदर सूर्यास्ताला नेहमी ढगाळ आकाशाची गरज असते – पाउलो कोयल्हो

मला असं वाटतं क्षितिजावर होणारा सूर्यच जाता जाता ताऱ्यांमध्ये प्रकाश टाकून जातो.

“चढ़ते सूरज के पुजारी तो लाखों है यहाँ,डूबते वक्त हमने सूरज को भी तन्हा देखा है।”

जब मैं तुम्हारे साथ डूबते सूरज को देखता हूँ,इसलिए मैं रोता हूँ क्योंकि मुझे विश्वास नहीं होता,मैं उतना ही भाग्यशाली हूं।

सूरज जब ढलता है तो लम्बी परछाई होती है, याद जब आती हो तो तन्हाई ही तन्हाई होती है

दिल के कोने से एक आवाज़ आती हैहमें हर पल उनकी याद आती हैदिल पूछता है बार – बार हमसेके जितना हम याद करते है उन्हेंक्या उन्हें भी हमारी याद आती है।

हर ”सूर्यास्त” फिरसे शुरुवात करने का #अवसर होता है

🤔 बेशक तू बदल ले 🤪 अपने आपको 🤨लेकिन ये याद रखना.. 😤 तेरे हर झूठ 😞 को सच मेरे सिवा कोई 🤫 नही समझ सकता … ।।

फुर्सत अगर मिलती ढलते सूरज का गम मनाने से,तो शायद पीछे मुड़कर चाँद की रौशन हंसी देख लेता.

धीमे धीमे तारे निकले धीरे धीरे नभ में फैले,सौ रजनी सी वह रजनी थी,क्यों संध्या में यह सोचा था,निशि में होगी कुछ बात नई,लो दिन बीता लो रात हुई।

😎 भाई बोलने का ✊ हक़ मैंने सिर्फ दोस्तों 🤝 को दिया है, 😣 वरना दुश्मन तो आज 👑 भी हमें बाप के नाम 🙏 से पहचानते है … ।।

आज जवानी पर इतरानेवाले कल पछतायेगा,चढ़ता सूरज धीरे धीरे ढलता है ढल जायेगा.

“सूर्यास्त एक ऐसा वक्त होता है,जो यादो में जान भरने का काम करता है।”– ज्ञानी पंडित

हर सूर्यास्त एक नई सुबह का वादा लाता है।

मावळत्या सुर्याकडून काहीतरी शिकावे, मावळत असतानाही नव्या सामर्थ्याने जगावे

अगर मैं सूर्यास्त चाट सकता हूँतो मैं शर्त लगा सकता हूँ कि इसका स्वादडेस्टिनी आइसक्रीम जैसा होगा।

“हर एक अच्छे दिन का भी एक सूर्यास्त होता ही है।” – अज्ञात

चिड़ियाँ चहकीं, कलियाँ महकी,पूरब से फिर सूरज निकला,जैसे होती थी सुबह हुई,क्यों सोते सोते सोचा था,होगी प्रात कुछ बात नई,लो दिन बीता, लो रात हुई।

सूरज ढलते ही आँखों में नमी आ जाती हैं, सच बात ये हैं की आपकी कमी महसूस होती ही।

आज कई दिनों के बाद #सूर्य की एक किरण दिखाई दी और कुछ #पलों में ही बादलों के बीच_छुपते हुए लुप्त हो गया।

हर पतंग जानती है आखिर नीचे आना है,लेकिन उससे पहले आसमान छूकर दिखाना है।

मुस्कराहट का कोई मोल नहीं होता,कुछ रिश्तो का कोई तोल नहीं होता,वैसे लोग तो मिल जाते है हर मोड़ पर,पर कोई आप की तरह अनमोल नहीं होता।

दिल का हाल बताना नही आता,हमे ऐसे किसी को तड़पाना नही आता,सुनना तो चाहतें हैं हम उनकी आवाज़ को,पर हमे कोई बात करने का बहाना नही आता।

दोन वेगवेगळ्या ठिकाणी पाहिलेला सूर्यास्त एकसारखा नसतो हे निसर्गाचे आश्चर्यच नाही का

उस नज़र की तरफ मत देखोजो तुम्हे देखना से इनकार करती हैदुनिया की इस महफ़िल में उस नज़र को देखोजो आपका इंतज़ार करती है।

🤨 निकले हैं वही 😁 लोग मेरी शख्सियत 😜 बिगाड़ने , 😐 किरदार जिनके खुद ही 🤭 मरमत मांग रहे हैं … ।। 😇😇

😇 अरे पगली रिलेशनशिप 😍 मे रहना है तो आ 🤗 ओर फ्यूचर 🤟 सेट कर,🔥 तेरे लाख़ नखरे उठाऊंगा,वरना ये 🤟 As a Friend वाले 💥 नखरे हमसे नही झेले जाते … ।। 😜😜

कैसे गुजरती है मेरी हर के शाम तेरे बगैर,अगर तू देख ले तो कभी तन्हा न छोड़े मुझे.

ये जिंदगी कितनी खूबसूरत है,बस अब आप आइये आपकी ही जरूरत है।

#उगते हुए सूरज को सलाम करने वालों मैंने डूबते हुए सूरज के सजदे में सिर झुकाया हूँ।

#ढलती हुई शाम या संध्या जैसी हसीन हो तुम लेकिन शाम की ही तरह हमसे बहुत दुर हो तुम।

“जो आज ऊजाले को देखते हैं, उन्हें आने वाली रातों का भी इंतजार होता है।”

तुम आओ तो पंख लगा कर उड़ जाए ये शाममीलों लम्बी रात सिमट कर पल दो पल हो जाए !

🙃 पुरानी होकर भी 😇 ख़ास होती जा रही 😁 है ,ये मोहब्बत ❤️ बेशरम है, बेहिसाब 😍 होती जा रही है 🤩🤩 … ।।

अब कौन मुंतज़िर hai हमारे लिए वहाँsaam आ गई hai लौट के घर जाएँ हम तो क्या

Recent Posts