2131+ Sun Shayari In Hindi | Best Sun Quotes In Hindi

Sun Shayari In Hindi , Best Sun Quotes In Hindi
Author: Quotes And Status Post Published at: September 25, 2023 Post Updated at: October 20, 2023

Sun Shayari In Hindi : आज जवानी पर ”इतरानेवाले” कल पछतायेंगे, चढ़ता सूरज धीरे_धीरे ढलता है ढल जायेगा।” आज कई दिनों के बाद #सूर्य की एक किरण दिखाई दी और कुछ #पलों में ही बादलों के बीच_छुपते हुए लुप्त हो गया।

अब तेरा नाम ही काफी है,मेरा दिल दुखाने के लिए।

कोई अजनबी ख़ास हो रहा है…लगता है मोहब्बतें एहसास हो रहा है!!💘

सुन मेरी जान, कोई अगर पूछे तो बस इतना कह देना, मैं तुम्हारा हूँ और तुम मेरी हो !!

जेब खाली होने पर भी, जिन्होंने पूरी की मेरी हर फरमाइश, वह हैं मेरे पापाजी।

मरना भी मुश्किल है जिस शख्श के वगैर, उस शख्स ने ख्वाबों में भी आना छोड़ दिया।😑

आँखें थक गई है आसमान को देखते देखते,पर वो तारा नहीं टूटता, जिसे देखकर तुम्हें मांग लूँ।

कुछ लोग जो बिछड़ेंगे तो वे फिर मिलने नहीं आयेंगे !!क्योंकि कुछ शाम बस यादों में रहकर हमें सतायेंगे !!

आसमान छूने की ख्वाहिश हर किसी की है,पर जो आसमान में रहते है,वो जमीन पर आने को तरसते है।

Group ✊में एक पगली 🤨बहुत ही Cute 😍सी है 🤨सच बोल रहा👍 हूँ किसी दिन🤨 भगा के ले जाऊँगा😍😍😍

मौसम चल रहा है इश्क का साहिबजरा सम्भल कर के रहियेगा !

हम न पा सके तुझे मुद्दतो चाहने के बाद,और किसी ने तुझे अपना बना लिया चन्द रस्मे निभाने के बाद.

सुन पगली!! एक दिन #Apple से भी बड़ी कंपनी बनाऊँगा, उसका नाम😏 रखूँगा #Pineapple !!😂

स्वयं को कभी कमजोर साबित न होने दें क्योंकि डूबते !!सूरज को देखकर लोग घरों के दरवाजे बंद करने लगते है !!

दिन कटता गया तेरी यादों के झरोखे में !!दिल की शाम दिदार को सराबोर हो गई !!

बार- बार इतनी ~खूबसूरत DP 😜 मत लगाया करो पगली, किसी काम में ~दिल 💞 नहीं लगता, सिवाय💃 तुम्हें देखने के !!

मुझे पता ना चला !!पर वो चलता रहा !!मैं देखता रहा !!और वो ढलता रहा !!

“हर सूर्यास्त एक नई सुबह का वादा लाता है।” -राल्फ वाल्डो इमर्सन

मैं लव हूँ पर मेरी बात तुम हो,और मैं तब हूँ जब मेरे साथ तुम हो

अजब तेरी है ऐ महबूब सूरत, नज़र से गिर गए सब ख़ूबसूरत !

फुर्सत मिले तो किसी शाम बाहर की दुनिया देखो,हकीकत और भी खूबसूरत और प्यारा लगता है.

तुम्हारा जाना मुझे उदास कर गया,तू पास था पहले अब अपनी यादों को पास कर गया।तेरी चाहतों को दिल से चाहा था मैं,तू मुझसे बेवफा मेरे दिल को उदास कर गया।

दूसरों के लिए उचित तैयार कीजिये , लेकिन किसी के लिए भी अपनी जिंदगी बर्बाद मत कीजिये,क्योंकि जिंदगी में कोई किसी का नहीं होता।

#ढलता हुआ सुरज बताता है ऐसा समय जीवन में आता है समंदर में समा जाता है सूरज किनारे से देखो तो ऐसा नजर आता है सूरज

तुम्हे चाहने वाले भले ही लाखो होंगे मगर तुम्हे महसूस सिर्फ मैंने ही किया है एक झलक देखकर जिस इंसान से प्यार हो जाये इतनी खुबसूरत हो आप.

न जाने कितने सच और झूठ देखे, फिर भी उसी सच्चाई के साथ उगता हूँ ,मेरा तपना जलना कोई ना देखे, रोशनी सबको देता हूँ।

शाम को सूरज ढल रहा है,बादलों के पीछे कहीं छुप रहा है.

कुछ बिंदु पर मैंने सूर्यास्त को दिन के अंत,के रूप में देखना बंद कर दिया लेकिन,इसके बजाय रात की शुरुआत।

पत्ते गिर सकते है पर पेड़ नहीं,सूरज दुब सकता है पर आसमान नहीं।धरती सुख सकती है पर सागर नहीं,तुम्हे दुनिया भूल सकती है पर हम नहीं।

दुनिया है पत्थर की जज़्बात नही समझती,दिल में छुपी है जो बात नही समझती,चाँद तन्हा है तारो की बारात में भी,दर्द ये चाँद का ज़ालिम रात नही समझती.

अबकी बार ऐसी सरकार बनाएं,जो हफ्ते में दो इतवार लाएं.

हर दिन उगता है सूरज !!हर दिन डूबता है सूरज !!फिर भी ना जाने क्यों !!तन्हा रहता है सूरज !!

अंधेरी जिंदगी की राह दिखाने वाली मशाल हैं, जीवन की परेशानियों से बचाने वाली ढाल हैं, मेरे पापा मेरे लिए मिसाल हैं।

सच्चे प्यार वालों को हमेशा लोग गलत ही समझते हैजबकि टाइम पास वालो से लोग खुश रहते है आज कल

तुम तो डर गये हमारी एक ही कसम से,हमे तो तुम्हारी कसम देकर हजारो ने लूटा है।

झूठी हँसी से जख्म और बढ़ता गया,इससे अच्छा तो खुल कर रो लिए होते।

दूर तक छाए थे बादल और कहीं साया न थाइस तरह बरसात का मौसम कभी आया न था

जो हर परिस्थिति में हंसते और हंसाते रहते हैं, वह हैं मेरे पापाजी।

सामने मंजिल तो रास्ते ना मोड़ना,जो मन मे हो वो ख़्वाब ना तोड़ना।हर कदम पर मिलेगी सफ़लता,बस आसमान छूने के लिए जमीन ना छोड़ना।

ज़िन्दगी का खेल ही ऐसा है साहब,हँसना भी ज़रूरी है और रोना भी !!

उन्हें चाहना मेरी कमज़ोरी हैं;उनसे कह नहीं पाना मेरी मज़बूरी हैं;वो क्यों नहीं समझते मेरी खामोशी;क्या प्यार का इज़हार करना जरुरी हैं.

मुझे पता ना चला पर वो चलता रहामैं देखता रहा और वो ढलता रहा

तेरे बाद मैंने मोहब्बत को,जब भी लिखा गुनाह लिखा।

हर दिन इतवार जैसा लगानेजब हर शख्श दूसरो से ज्यादा खुद पर विश्वाश करने लगेगाजिंदगी में थोड़ा बहुत सुकून महसूस होने लगता हैंजब इतवार का दिन आता है

लोग बिना गलती के भी ताने सुनाते हैंसमझता कोई नहीं पर समझाने सब आते हैं

कैसे गुजरती है मेरी हर के शाम तेरे बगैर,अगर तू देख ले तो कभी तन्हा न छोड़े मुझे.

दिन और ज़िन्दगी दोनों ही ढालेंगे पर मायने ये रखता है,की हम ज़िन्दगी और उस दिन में क्या करेंगे।

नज़र नज़र का फर्क है, हुस्न का नहीं, महबूब जिसका भी हो बेमिसाल होता है. Nazar nzar ka fark hai husnn ka nahi mahbub jiska bhi ho bemisal hota hai.

आकाश सूर्योदय और सूर्यास्त के दौराननारंगी के रंगों को ग्रहण करता है जोरंग आपको उम्मीद देता है किसूरज फिर से उगने के लिए तैयार होगा !

ठहर कर कभी सूरज देखता ही नहीं !!तभी तो रोज शाम संवरती है उसके लिए !!

तन्हाई की ये रातें, बिना किसी आवाज़,दिल में छुपी हुई बेताबियों की छाया.कह ना सके वो दर्द, जो दिल में छुपा है,क्या करूँ जिंदगी, जब खुदा भी रहा दूर.

तेरे जाने के गम में रो कर रात गुजरती है,आखिर क्यों तूने मुझे धोखा दिया,तेरे बिना जिंदगी अब अधूरी सी लगती है,किस लिए तूने मुझे अकेला छोड़ दिया।

दुनिया को आग लगाने की ज़रूरत नहींतो मेरे साथ चसल आग खुद लग जाएगी

तलब ये के तुम मिल जाओ….हसरत ये के उम्र भर के लिए!!🥰

पाने से खोने का मज़ा कुछ और है,बंद आँखों से सोने का मज़ा कुछ और है।आँसू बने लफ़ज़ और लफ़ज़ बनी जुबा,इस ग़ज़ल में किसी के होने का मज़ा कुछ और है।

अभी मैंने खुद को शीशे में देखा,तो पता चला कि दुनिया में मासूम लोगआज भी जिन्दा हैं.

मैं शून्य 0️⃣ हूं, मुझे पीछे ही रखना !मेरा फर्ज सिर्फ और सिर्फ आपकी 💸 कीमत बढ़ाना है !!

शाम का ये खूबसूरत समा है,सूरज भी अब छुपने लगा है,अंधेरा हो चला है,पर तू न जाने कहां घूम रहा है।

कभी आसमाँ से चाँद उतरे तो जाम हो जाए,तुम्हारे नाम की एक खूबसूरत शाम हो जाए।

हर सूर्यास्त एक नई सुबह का वादा लाता हैं !!

कैसे बयान करें सादगी अपने महबूब की,पर्दा हमीं से था मगर नजर भी हमीं पे थी।

विश्व का कण कण शिव मय हो अब हर शक्ति का अवतार उठे. जल थल और अम्बर से फिर बम बम भोले की जय जयकार उठे. हैप्पी सावन सोमवार…

मेरी बात सुन #पगली अकेले हम ही शामिल नही है इस जुर्म में , जब_नजरे मिली थी तो #मुस्कराई_तू भी थी

दुनिया मे मोहब्बत आज भी बरकरार है,क्योंकि एकतरफा प्यार अब भी वफादार है..

ਜਿਸ ਦੇ ਬਗੈਰ ਮਰਨਾ ਔਖਾ ਹੈ,ਉਹ ਬੰਦਾ ਸੁਪਨੇ ਵਿੱਚ ਵੀ ਆਉਣਾ ਬੰਦ ਹੋ ਗਿਆ।

लहरों को अपने पैरों से मारो औररेत को अपना आसन बनने दो।

सुन पगली……. देखना है तो प्यार से देख ऐसे टेड़े-टेड़े गुस्से में तो……. तेरे घर वाले भी देखते हैं…..!!

अपना गम हर किसी से बहुत सोच समझ क्र बाटना चाहिये,क्योंकि आज कल लोग हम दर्द कम सिरदर्द ज्यादा होते हैं.

सूरजमुखी का फूल ख़ुशी का प्रतीक मन जाता है। आप अपने चाहने वालों को इसको गिफ्ट कि तरह दे सकते है।

पगली तू सिर्फ #StYLe देख……… #StAtuS तो अपना बच्पन से.. High-LEvEl है …..!!

मतलबी रिश्तेदारों का बस इतना ही फ़साना है,शराफ़त का फायदा उठाने के लिए रिश्तें को दिखाना है.

ना वो सपना देखो जो टूट जाये,ना वो हाथ थामो जो छुट जाये।मत आने दो किसी को करीब इतना,कि उससे दूर जाने से इंसान खुद से रूठ जाये।

चाहा था मुक्कमल हो मेरे गम की कहानी,मैं लिख ना सका कुछ भी तेरे नाम से आगे।

Recent Posts