2080+ Shiksha Par Shayari In Hindi | शिक्षा पर शायरी

Shiksha Par Shayari In Hindi , शिक्षा पर शायरी
Author: Quotes And Status Post Published at: September 4, 2023 Post Updated at: June 10, 2024

Shiksha Par Shayari In Hindi : शिक्षा वहीं जो इंसान को इंसान बनाये, व्यर्थ है वो शिक्षा जो आतंक फैलायें। पानी को बर्फ़ में, बदलने में वक्त लगता हैं,ढले हुए सूरज को निकलने में वक्त लगता हैं…

हम वही बनते है जो हम ज्यादातर समय सोचते रहते है और यही सबसे शक्तिशाली रहस्य है।

शिक्षा भविष्य के लिए पासपोर्ट है जो आज इसके लिए तैयारी करते हैं।

जो तुम्हे छोटा समझते हैं उन्हें कुछ बड़ा कर दिखाओ,जो सोचते हैं तुम बस नौकरी कर सकते हो,,उन्हें अपना Business खड़ा कर दिखाओ।

जब रास्तों पर चलते चलते मंजिल का,ख्याल ना आये तो आप सही रास्ते पर है |

हर फिजा में और हर मोहल्ले में तुम्हारे चर्चे बहुत हैं,डरते हैं दोस्ती करने से, क्योंकि तुम्हारे खर्चे बहुत हैं

जब भी आप ख़ुद को बहुमत के पक्ष में पाए तो,यह रुकने और प्रतिक्रिया देने का समय होता है।

“जब तक शिक्षा मकसद केवल नौकरी पाना होगा, तब तक समाज में नौकर ही पैदा होंगे मालिक नहीं।”

जहां ज्ञान है वही सुख है,बिना ज्ञान पूरा जीवन दुख है।Jahan Gyan hai vahi Sukh hai,Bina Gyan pura jivan dukh hai.

मैने जो कुछ भी सीखा है, किताबों से सीखा है.

सत्य और न्याय के पथ पर चलनाशिक्षक हमे बताते है,संघर्षों से लड़ कर जितना शिक्षकहमे सिखाते है।

शिक्षा का लक्ष्य ज्ञान की उन्नतिऔर सत्य का प्रसार है।

“शिक्षा का मतलब ये है कि आप जो जानते हो या जो नहीं जानते हो उसमें अंतर कर पाना।”

दुल्हन वहीं जो पिया मन भाये, शिक्षा वहीं जो रोजगार दिलाये।Funny Education Shayari

The post खुबसूरत फूलों पर कुछ अनमोल, सुंदर सुविचार appeared first on ज्ञानी पण्डित - ज्ञान की अनमोल धारा.

अज्ञान को मिटा कर, ज्ञान का दीपक जलाया हैं, गुरू कृपा से मैने ये अनमोल शिक्षा पाया हैं.

ज्ञान ही शक्ति है। सूचना मुक्ति है। शिक्षा हर समाज में, हर परिवार में, प्रगति का आधार है। – Kofi Annan (कोफ़ी अन्नान)

शिक्षा से आदमी जिम्मेदारी लेना सीख जाता है।

अवसर आपके पास जरूर आते रहेंगे बस उनका किस,प्रकार प्रयोग करना हैं वह आपके उप्पर निर्भर करता हैं।

जो रिस्क से खेलना जानता है,वही बिजनेस का खिलाड़ी होता है।

ज्ञान पर किया गया निवेश सबसेबेहतरीन ब्याज देता है !!

लाख जलाओ दिए मगर क्या होगा,जीवन दियो से नहीं ज्ञान से रोशन होगा।Lakh jalao diye Magar kya hoga,jivan deo se nahin Gyan se Roshan hoga.

व्यापार आप किसी का भी करे लेकिन,जो भी करने वो प्यार के साथ करे।

धरती कहती है, नदियां कहती है, अंबर कहते बस यही तराना, गुरू आप ही वो पावन नूर है जिनसे रौशन हुआ जमाना।

बेटी बोझ नही सम्मान है,बेटी गीता और कुरआन है,घर की प्यारी सी मुस्कान है,बेटी माँ-बाप की जान है.

शिक्षा का सबसे बेहतरीनपरिणाम सहनशीलता है !!

कुछ देर की खामोशी है फिर शोर आएगा,तुम्हारा तो वक्त आया है अपना daur आएगा।

व्यापार का रहस्य हैं,आप कुछ ऐसा जानते हों,,जो कोई और न जानता हो।

“ज्ञान सबसे शक्तिशाली शस्त्र है जिसका उपयोग आप संसार को बदलने के लिए कर सकते हैं।”

मनुष्ये की शिक्षा उसे बुद्धिमान बनती है,और मनुष्ये के अनुभव उसे जीने की कला सिखाते है ।।

शिक्षा कभी बेकार नहीं जाती है, मेहनत की रोटी कमाना सिखाती है.

जब कभी आप कुछ नया करते हैं तो आप गलती करते हैं, यह सबसे सही है,उन्हें जल्दी से Accept कर लें और अपने अन्य तरीक़ो के सुधार में लग जाएँ।

शिक्षा का उद्देश्य एक खुले दिमागके साथ एक खाली दिमाग को बदलना है।

“जीवन में कभी-कभी बुरा समय, आपको कुछ अच्छे लोगों से मिलवाने के लिए आता है।”

किताबे ना होती तो हम पढ़ते कैसे,गुरु ना होते तो हम जीवन में आगे बढ़ते कैसे।

आप दो महीनो में ही दुसरे लोगो में रूचि लेके बहोत से दोस्त बना सकते हो लेकिन खुद में दूसरो को रूचि दिखाकर तुम्हे दोस्त बनाने में दो साल तक लग जाते है।

सफ़लता रंगों से नही,काविलयत से मिलती है।

ज़िन्दगी बहुत हसीन है,कभी हंसाती है, तो कभी रुलाती है।लेकिन जो ज़िन्दगी की भीड़ में खुश रहता है,ज़िन्दगी उसी के आगे सिर झुकाती है।

“कोई भी व्यक्ति जीवन में कुछ नहीं पा सकता, जब तक की वो उसे खुद के प्रयासों से प्राप्त नहीं कर लेता।”

पैसा कमाना एक कला है,और काम करना भी एक कला है।और अच्छा व्यवसाय सबसे अच्छी कला है।

ऊपर उठना है तो गिरने का भय मिटाना होगा ।

कुछ भाग्य को कोसते हैं,कुछ भगवान को कोसते हैंसफल वही होते हैं जो,सही मार्ग खोजते हैं।

काम की शुरुवात करने से पैसा नहीं बनता,काम में विश्वास के साथ लगे रहेने,,और मजबूती से टिके रहने से बनता है।

मेहनत सीढ़ियों की तरह होती है और भाग्य लिफ्ट की तरह लिफ्ट तो किसी भी समय बंद हो सकती है पर सीढ़िया हमेशा ऊंचाई की ओर ही ले जाती हैं!

“खुद को परिपूर्ण बताकर सीखना छोड़ना मुर्खता है लेकिन खुद को अज्ञानी मानकर सीखते रहना बुद्धिमानी है।”

खुल जाएंगे सभी रास्ते,रुकावटों से लड़ तो सही।सब होगा हासिल,तू जिद्द पर अड़ तो सही।

आपका विद्वान बनने के लिए धनवान होना आवश्यक नहीं है।

आपकी जीत आपकी मेहनत पर निर्भर करती है ।

कोई भी व्यवसाय तभी सफ़ल होता है,या तो उससे प्रेम हो या फिर उसकी ज़रूरत हो।

“हम भगवान से ये प्रार्थना करें की हमारे उपर कोई खतरे ना आये। बल्कि उनका सामना करने में हम हमेशा निडर रहें।”

कार्य सदैव वह करिये जिसमे आपका मन लगता हो,क्योंकि बे मन से किया कार्य कभी सफल नहीं होता।

शिक्षा का उद्देश्य है कि जीवन को अँधेरे से उजाले की ओर ले जाना।

“मृत्यु के लिए बहुत से रस्ते है पर जन्म के लिए केवल एक और वो माँ है।”

वह विद्यालय सबसे बेहतर है जहाँ के विद्यार्थी सीखने के लिए अति-उत्साहित है।

“जो हमें तुम्हेँ मिला नहीं उस पर अफ़सोस करने के बजाय जो तुम्हारे पास है उसे मत गवाओं।”

निर्देश कक्षा के बहार समाप्त हो जाते हैं। लेकिन शिक्षा जीवन के साथ समाप्त होती है।

तुमको देखा तो तुम्हें दिल में बसा लिया,बिना पूछे ही तुमको अपना बना लिया

सीधा-साधा भोला-भाला, तू ही सबसे सच्चा है,हो जाए चाहे कितना भी बड़ा, तू आज भी मेरा बच्चा है।

बदल जाओ वक्त के साथ,या फिर वक्त बदलना सीखो।मजबूरियों को मत कोसो,हर हाल में चलना सीखो।

प्यारी सी सूरत देखकर,मुझे उनसे प्यार हो गया,फिर उनसे मिलने को,मेरा दिल बेकरार हो गया

जिंदगी का हर पहलू हमने जिया हैजिंदगी का हर इम्तिहान हमने दिया हैऔर तो कुछ नहीं मगर इस हर नाकामकोशिश को शिक्षा ने पूरा किया है ।

बच्चों को शिक्षित किया जाना चाहिए , पर उन्हें खुद को शिक्षित करने के लिए भी छोड़ दिया जाना चाहिए.

जब आप व्यवसाय शुरू करते हैं तो,आपको सबसे अधिक जिम्मेदारी का एहसास होता हैं,,और यही आपको सफल भी बनाता हैं।

गुरु आपकी ये अमृत वाणी हमेशा मुझको याद रहे, जो अच्छा है जो बुरा है उसकी हम पहचान करे।

सपनों को सच करने से पहले सपनों को ध्यान से देखना होता है।

शिक्षा से बड़ा कोई दूसरा मित्र नही हो सकता है !

मैं पढ़ाने वाला नहीं बल्कि जगाने वाला हूँ.

एक चीज़ें सीख लो आज से,व्यापार बड़ा बन सकता है तो बस प्यार से।

जब आप कोई बिज़नेस शुरू करते हैं तो,आपको सबसे अधिक ज़िम्मेदारी का अहसास होता है,,और यही आपको सफ़ल भी बनाता है।

अपनी कामयाबी से बेटा तुमने हमेशा हमारा मान बढ़ाया है, घर की खुशियों पर हमेशा चार चांद लगाया है।

“एक राजा की तरह जिंदगी जिये।”

बुद्धि और चरित्र – यही सच्ची शिक्षा का लक्ष्य है.

शिक्षा हमे अन्धकार से रोशनी की और ले जाती है

Recent Posts