1066+ Shayari On Gulab In Hindi | गुलाब शायरी

Shayari On Gulab In Hindi , गुलाब शायरी
Author: Quotes And Status Post Published at: August 21, 2023 Post Updated at: June 10, 2024

Shayari On Gulab In Hindi : फूल गुलाब का भेज रहे है आपके लिए, लबों से छूकर जान इसमें डाल दीजिए. गुलाब से पूछो कि दर्द क्या होता है, देता है पैगाम मोहब्बत का और खुद काँटों में रहता है.

आप मिलते नहीं रोज रोज,आपकी याद आती हैं हर रोज,हमने भेजा हैं रेड रोज,जो आपको हमारी याद दिलाएगा हर रोज।“हैप्पी रोज डे”

तुम्हारी अदा का क्या जवाब दूँ, क्या प्यारा सा उपहार दूँ, कोई तुमसे खुबसूरत गुलाब होता तो लाते, जो खुद गुलाब है उसको क्या गुलाब दूँ.

लोगो के दामन अब नम दिखाई देते हैं, फूल अब गुलाबों के कम दिखाई देते हैं.

जो आसानी से मिले वो है धोखा, जो मुश्किल से मिले वो है इज्ज़त, और जो दिल से मिले वो है प्यार, जो नसीब से मिले वो हैं आप..!!

एक तुम ही हो जिससे हमें मोहब्बत है…..वरना हम खुद गुलाब हैं,जो किसी से खुशबू की तमन्ना नही करते..!!

हम दिल में प्यार ढेर सासंभल कर रखते हैंइसीलिए तो सैकड़ों तितलियोंके दिल गुलाब लेने को तैयार रहते हैं।

जिसको पा ना सके वो जनाब हो आप,मेरी ज़िन्दगी का पहला खवाब हो आप,लोग चाहे कुछ भी कहे आपको,लेकिन मेरे लिए सुन्दर सा गुलाब हो आप2023 रोज डे मुबारक हो

दिखाने के लिए तो हम भी बना सकते हैं ताजमहल। मगर मुमताज को मरने दे हम वो शाहजहाँ नही। रोज डे मुबारक हो।

लग गई बद्दुआ हमें उन गुलाबों की, जिनका कत्ल हमने तुम्हारी खातिर किया था।

फूल गुलाब का भेज रहे है आपके लिए,लबों से छूकर जान इसमें डाल दीजिए.

गुलाब खिलते रहे ज़िंदगी की राह् में, हँसी चमकती रहे आप कि निगाह में, खुशी कि लहर मिलें हर कदम पर आपको, देता हे ये दिल दुआ बार–बार आपको.,

इंसान गुलाब को कब डालियों में छोड़ते है,मोहब्बत का वास्ता देकर बड़े अदब से तोड़ते है.

खुद अपनी टहनी से दुर होकर,आज गुलाब 🌹 रिश्ते जोड़ रहा हैं..!!

पत्ती , पत्ती गुलाब बन जाती हर कली मेरा ख्वाब बन जाती अगर आप डाल देती अपनी महकदा नज़रे इन पर तो सुबह की ओस भी शराब बन जाती

काँटों से गुज़र जाता हूँ दामन को बचा कर फूलों की सियासत से मैं बेगाना नहीं हूँ।

बड़े ही चुपके से भेजा था, मेरे महबूब ने मुझे एक गुलाब, कम्बख्त उसकी खुशबू ने, सारे शहर में हंगामा कर दिया.,

दिल की किताब में गुलाब उनका था, रात की नींद में ख्वाब उनका था, कितना प्यार करते हो जब हमने पूछा, मर जायंगे तुम्हारे बिना ये जबाब उनका था.,

कोई काँटा न हो गुलाबों में,ऐसा मुमकिन है सिर्फ़ ख़्वाबों में,दिल को कैसे क़रार आता है,ये लिखा ही नहीं किताबों में…🌹🌹Happy Rose Day🌹🌹

ज़िन्दगी गुलाब का गुलिस्तां हो जाए, जो आपका और मेरा मोहोब्बत का तय रिश्ता हो जाए।

दिखती हैं हीर की तरह लगती हैं खीर की तरह दिल में चुभती हैं तीर की तरह और छोड़ जाती हैं फकीर की तरह…

मेरा हर ख्वाब आज हक़ीक़त बन जाये,जो हो बस तुम्हारे साथ ऐसी ज़िन्दगी बन जाये,हम लाये लाखो में एक गुलाब तुम्हारे लिए,और ये गुलाब मुहब्बत की शुरुआत बन जाये।

फूल खिलते रहे आपकी ज़िन्दगी की राहो में,हंसी चमकती रहे आपकी निगाहों मेंकदम कदम पर मिले खुशियाँ आपको,दिल देता हैं यही दुआ बार बार आपको

तेरे नाजुक लबों की क्या कहिए,पंखुड़ियां है गुलाब की,आरूज है की चूम लूं इन लबों को,छलकता जिसमे है नशा ए शराब की।

इंसान गुलाब को कब डालियों में छोड़ते है, मोहब्बत का वास्ता देकर बड़े अदब से तोड़ते है।

जैसे गुलाब, गुलाब के गुच्छे बगैर नहीं रह सकता,मेरा सच्चा प्यार आप हो, मैं तुम्हें प्यार करता हूं,आपके बिना मैं रह नहीं सकता।Happy Rose Day

चेहरा आपका खिला रहे गुलाब की तरह नाम आपका रोशन रहे आफ़ताब की तरह गम में भी आप हस्ते रहे फूलो की तरह चाहे हम रहे या न रहे।

फूल बनकर मुस्कुराना जिन्दगी हैमुस्कुरा के गम भूलाना जिन्दगी हैजीत कर कोई खुश हो तो क्या हुआहार कर खुशियाँ मनाना भी जिन्दगी है

तलाश करो कोई तुम्हेंमिल जाएगामगर मेरी तरह तुम्हें कौन चाहेगाजरूर कोई आपको चाहत की नजर से देखेगामगर आंखे हमारी कहाँ से लाएगा।

बड़े ही चुपके से भेजा था,मेरे मेहबूब ने मुझे एक गुलाब,कम्भख्त उसकी खुशबू ने,सारे शहर में हंगामा कर दिया।

Gamlon mein lage gulaab,Dhudhte hai komaltayein, गुलाब का फूल शायरी फोटो डाउनलोडNa jaane kon se hath,Tod inhe le jaye.

दोस्ती का रिश्ता अनोखा हैना गुलाब सा है ना काँटों सादोस्ती का रिश्ता तो उस डाली की तरह हैजो गुलाब और काँटों दोनों को एक साथ जोड़े रखता है।

सात फरवरी को साथ तेरा पाने को,दिल से तेरे दिल मिलाने को,आया हूँ लेकर गुलाब तेरे बालों में सजाने को,आ जा गले से लगाले अपने इस दीवाने को।

सारी उम्र में एक पल भी आराम का न था वो जो दिल मिला किसी काम का न था कलियाँ खिल रही थी हर गुलाब था ताज़ा मगर कोई भी गुलाब मेरे नाम का न था

गुलाब का दिन आ गया,सोचता हूँ कुछ उपहार दू…..जो खुद ही गुलाब हो,उसे क्या गुलाब दू..!!🌹🌹Happy Rose Day🌹🌹

आपका मुस्कुराना हर रोज हो कभी चेहारा कमल तो कभी रोज होसौ पल खुशी हजार पल मौज हो बस ऐसा ही दिन आपका हर रोज हो

वक़्त और समझ किस्मत वालों को ही मिलता है। क्योंकि वक़्त हो तो समझ नहीं आती और समझ आती है तो वक़्त नहीं होता। हैप्पी रोज डे..

गुलाब तो टूट कर बिखर जाता है, पर खुशबु हवा में बरकरार रहती हैं, जाने वाले तो छोड़ कर चले जाते हैं, पर एहसास तो दिलों में बरकरार रहते हैं.,

किताब-ए-दर्द का सूखा हुआ गुलाब नहीं होना मुझेमोहब्बत में इस तरह भी कामयाब नहीं होना मुझे..

आपके होंठों पर सदा खिलता गुलाब 🌹 रहे,आप जिन्हें चाहे वो सदा आपके पास रहे..!!

सारे शहर की खुशियाँ मैं तुम पर लुटा दूँ, जिस रास्ते से आप गुजरे वहां फूल बिछा दूँ.

मेरे इश्क़ के साथहादसा कुछ ऐसा हुआ,उसे ख्वाहिश थी चाँद तारों कीऔर मैं काटों से लड़कर गुलाब चुनता रहा।

Muskan Shayari फूल चाहे कितनी भी ऊँची टहनी पर लग जाए gulab shayari in hindiलेकिन मिट्टी से जुड़ा रहता है, तभी खिलता है ।

गुलाब से पूछो कि दर्द क्या होता हैदेता है पैगाम मोहब्बत काऔर खुद कांटो में रहता है

- हुआ है तस्वीर इक तसव्वुर गुलाब सोचूं गुलाब देखूं।

बड़ी नाजुक से पली हो तुम,तभी तो गुलाब सी खिली कली हो तुम,shayari on gulab in hindi जिससे मिलने को बेकरार है हम,दिल मैं आने वाली खलबली हो तुम

गुलाब खिलता रहे जिंदगी की राहों में,हंसी चमकती रहें आपकी निगाह में,कदम कदम पर मिले ख़ुशी ही बाहर आपको,दिल देता है ये दुआ भर भर आपको

खामोश बैठी ग़ज़ल को अलफ़ाज़ दे आया, आज एक गुलाब को गुलाब दे आया।

मोहब्बत भरी नज़रों में ख़्वाब मिलेंगे कहीं कांटे तो कहीं गुलाब मिलेंगे मेरे दिल की किताब को पढ़ के तो देखो कहीँ आपकी याद तो कहीं खुद आप मिलोगे

हर दुआ कबूल नहीं होती हर आरज़ू पूरी नहीं होती जिनके दिल में आप जैसे लोग रहते हों उनके लिए धड़कन भी जरूरी नहीं होती! हैप्पी रोज डे।

दिल की किताब में गुलाब उनका था,रात की नींद में ख्वाब उनका था,कितना प्यार करते हो जब हमने पूछामर जायेंगे तुम्हारे बिना ये जवाब उनका था.

तुमसे मोहब्बत 💕 है यूं ही,बेवजह बेमतलब बेहिसाब..!!

गुलाब जैसी हो,गुलाब लगती हो,हल्का सा जो मुस्कुरा दो,तो लाजवाब लगती हो.

जैसे गुलाब,गुलाब के गुच्छे बगेर नही रह सकता,मेरा सच्चा प्यार आप हो “मैं तुम्हें प्यार करता हूँ”आप के बिना मैं रह नहीं सकताHappy Rose Day

- दिल में छप कर भी ख़ुशबुएं देगी, हर तमन्ना गुलाब है प्यारे।

दोस्ती का रिश्ता अनोखा है ना गुलाब सा हैना काँटों सा, दोस्ती का रिस्ता तो उस डाली की तरह हैजो गुलाब और कांटे,दोनों को एक साथ जोड़े रखता हे आखरी दम तक.

एक रोस उनके लिएजो मिलते नही रोज़-रोज़,मगर याद आते है हर रोज़।

एक नन्हीं सी किरण चुराने आए हैंखुशियों का अहसास दिल में बसाने आए हैंनीद की मदहोसी से जो लिपटे हुए हैंहम उन्हें प्यार से जगाने आए हैं।हैप्पी रोज डे

मेरी दीवानगी की कोई हद नहींतेरी सूरत के सिवा मुझे कुछ याद नहींमैं गुलाब हूँ तेरे गुलशन का,तेरे सिवाए मुझ पे किसी का हक़ नहीं

टूटा हुआ फूल खुशबू दे जाता है बिता हुआ पल यादें दे जाता है हर शख्स का अपना अंदाज़ होता है कोई ज़िन्दगी में प्यार, तो कोई प्यार में ज़िदंगी दे जाता हैं

चेहरा आपका खिला रहे गुलाब की तरह नाम आपका रोशन रहे आफताब की तरह ग़म में भी आप हँसते रहे फूलों की तरह अगर हम इस दुनिया में न रहें आज की तरह

होंटो से अपने लगा लेना गुलाब हमारा तुम अपना बना लेना मेहसूस करना इसमें मेरे प्यार की खुशबू फिर सांसो से सीधे दिल में उतार लेना।

डॉव से नहाकर क्या करना है 2016 में तो सभी को मारना है 1 साल ख़ुशी से जी लो यारो अगले जन्म में फिर जॉनसन बेबी से शुरू करना है

गुलाब है तू तेवर तेरे कांटे हैं, खुशबूदार तेरा बदन मीठी तेरी बातें है।

चेहरा आपका खिला रहे गुलाब की तरह, नाम आपका रोशन रहे आफताब की तरह, ग़म में भी आप हँसते रहे फूलों की तरह, अगर हम इस दुनिया में न रहें आज की तरह।

कुछ भी कहो लाज़वाब हो तूममेरी जिंदगी का हसीन ख्वाब हो तूमतुम चाहे मानो या ना मानो मेरी जिंदगी का ख़ूबसूरत गुलाब हो तूम।

कुछ ऐसा है तेरे इश्क का नशा,जैसे किसी ग्लास में रखी शराब है,उसको क्या गुलाब दूं जो पहले से ही गुलाब है।

मेरी जिन्दगी गुलाब की तरह खिल जाती, अगर ‘मोहब्बत’ के बदले मोहब्बत मिल जाती।

आप तो गुलदस्ता का सबसे खुबसूरत फूल हैं हम तो बस आपके कदमो का धुल हैं.

तेरे नाजुक लबों की क्या कहिए,पंखुड़ियां है गुलाब की,आरूज है की चूम लूं इन लबों को,छलकता जिसमे है नशा ए शराब की।

- आज ख़ुशबू भरे गुलाबों से मेरे दामन को भर गया कोई।

कुछ ऐसा है तेरे इश्क का नशा,जैसे किसी ग्लास में रखी शराब है,उसको क्या गुलाब दूं जो पहले से ही गुलाब है। गुलाब शायरी

चलते चलते राह में उन से मुलाकात हुई,वो कुछ शरमाई फिर सहम सी गई,

Recent Posts