429+ Shayari On Grandparents In Hindi | Amazing Grandparents Quotes in Hindi

Shayari On Grandparents In Hindi , Amazing Grandparents Quotes in Hindi
Author: Quotes And Status Post Published at: September 14, 2023 Post Updated at: June 22, 2024

Shayari On Grandparents In Hindi : दादा-दादी का तजुर्बा बच्चों को बचपन में मासूम भी बनाए रखता है, और समझदार भी बना देता है। थोड़ा वक़्त बचा लिया कीजिए अपने दादा-दादी के लिए, क्यूंकि उनके पास अब ज्यादा वक़्त बचा नहीं है।

याद आता है वो बचपन मेरा, और हर याद में आप ही रहते हो दादाजी अब मैं कहीं भी रहूँ, लगता है आप कुछ कहते हो

ऐ अँधेरे देख मुँह तेरा काला हो गया,दादी माँ ने आँखें खोल दी घर में उजाला हो गया…!

जीवन के संघर्ष की मिसाल हो तुम, हर चुनौती का जवाब हो तुम, ऐसे ही स्वस्थ बने रहना दादू तुम, क्योंकि हम सबकी सांस हो तुम। हैप्पी बर्थडे दादाजी!

दादा-दादी का बुढ़ापे में भी बचपन लौट आता है !!जब पोता गोद में खेल रहा होता है !!

घर के सबसे बड़े हैं आप, हम सबसे बुद्धिमान हैं आप, खुद में कई राज समेटे हैं आप, हम सबके सलाहकार हैं आप। जन्मदिवस की बधाई!

बचपन की ये दो बातें अक्सर याद आती है,सुलाने के लिए दादा जी की लोरी,और सोने के लिए दादी माँ की गोदी !

मेरी दादी का प्यार है सबसे कीमतीइनका प्यार ही मेरा असली गहना है !

नाना-नानी को खुश देखकरमैं बड़ा ही खुश हो जाता हूँ,क्या-क्या शैतानियाँ की मैंनेनाना को अकेले में बताता हूँ.

वीरों की गाथा सुनाने वाले, कंधे पर सारा गाँव घुमाने वाले दादाजी थे मेरे सबसे प्यारे, दादाजी थे मेरे सबसे न्यारे

“ दादी माँ ने जो सीख दियाउस पर खुद को जीवन भर चलाऊंगा,मुस्कुराकर हर चुनौतियों से लड़ जाऊँगा,दादी माँ की यादों को दिल में सजाऊंगा…!!

दादी जी जब हमारे साथ थी तो लगता था, खुशियों का संसार हमारे साथ थाअब जब दादी जी दुनिया छोड़ चली गई, तो लगता है हमारा सब कुछ खो सा गया है…!

ताक़त कम होने के बावजूद भी मुझे गोद में उठाने का शौंक था, मेरे दादा-दादी की तो बात ही निराली है।

दादाजी आप साथ थे, तो लगता था पूरी कायनात मेरे साथ है अब आप दुनिया छोड़कर चले गए, तो लगता है मेरा सब कुछ खो गया

बुजुर्गों के बिना कहाँ किसी का घर भरा-पूरा होता हैबुजुर्ग ना हों साथ तो जिंदगी का रंग अधूरा होता है

हर परेशानी में राह दिखाने वाले और मकान को घर बनाने वाले को ही दादा कहते हैं।

“ घर में दादी माँ कीसबसे प्यारी होती है मुस्कुराहट,जिस घर में नहीं होती हैवहाँ होती है मन में कड़वाहट….!!

मुझे पाल पोसकर बड़ा किया, मेरा लालन पालन खूब किया, सबसे ज्यादा प्यार किया, दादी तुमने कमाल किया,

दादा-दादी की यादें जब भी आती हैं, दिल खुशी से भर जाता है। (Dada-dadi ki yadein jab bhi aati hain, dil khushi se bhar jata hai)

दांत है टूटे, हाथ में बच्ची है बस हड्डी, फिर भी दिन रात जागकर, ख्याल मेरा रखती, और मेरे लिए सर्दियों में स्वेटर भी बुनती…

हर मुसीबत में जो साथ निभाए, वही फरिश्ता दादा कहलाए।

“ सख्त राहों में भीआसान सफ़र लगता हैये मेरी दादी माँ कीदुआओं का असर लगता है…!!

आपकी हर याद बहुत सताती है मुझे, उनकी हर आहट पास बुलाती है मुझे मम्मी पापा तो बहुत प्यार करते है मगर, दादाजी के प्यार की कमी खलती है मुझे

सबसे ज्यादा प्रेरणा और हिम्मत देने वाले इंसान को दादा जी कहते हैं।

खुशियों का प्याला पीते रहें आप, जुग-जुग जीते रहें आप, बस खुदा से यही करता हूं मैं दुआ, सौ साल तक जीते रहें आप। हैप्पी बर्थडे माय डियर दादा!

बहुत ताकत होती है,उन झुर्रियों वाले हाथों में !!जिंदगी जीने के तजुर्बे मिलते हैं,दादा दादी की बातों में !!

दुःख का बादल उनकी वजह से घर से दूर ही होता है,किसी ने सच ही कहा है !!

“ दादी तेरी ममता की छाँव में नाजाने मैं कब बड़ी हो गयीलेकिन आपका प्यार और दुलारआज भी बहुत याद आ रहा है…!!!

दादी का साया जब तक साथ था, तब तक हर बुरी बला से मेरा दूर का वास्ता था। – I Miss u Dadi

मैंने भी कह दिया, तू भले ही सबकी संसार है,पर मेरे दादा मेरी जान है।

दादू तुम हो गोल-मटोल, कहां से लाते हो इतने वचन अनमोल, मुझे बहुत भाता है आपका हर बोल, मानो जैसे हो वो अमृत का घोल। हैप्पी बर्थडे!

जब ऐसा लगने लगे की सब कुछ खो गया है ज़िन्दगी में, तो एक बार अपने दादा-दादी से मिल लेना।

“ मेरी लम्बी उम्र के लिएवो हमेशा दुआएं किया करती थीवो मेरी दादी माँ है जो मुझसेबहुत प्यार किया करती थी…!!

“ मेरी दादी माँ मुझे बहुत प्यार करती थीबचपन में जब मैं ठोकर खाकरगिरता, मुझे उठाकर अपनीगोदी में बैठा लेती थी….!!

जब दादा पोते की बात हो तो हमारा नाम आता हैमेरे प्यारे दादा जी को जन्मदिन की ढेर सारी शुभकामनाये।।

मेने अपनी ऊँगलीयो को उनके हाथ में रखा था, उन्ही की मदद से मेने पूरा कर जहाँ देखा था…

“ दादी की हर बात मानने का जूनून था,कितना फुर्तीला बचपन का खून था,दादी माँ की कहानियाँ सुनकरबचपन में मिलता बड़ा ही सुकून था….!!

उस घर की नीव कभी कमज़ोर नहीं होती जिसकी छत को सहारा बुजुर्ग देता है।

दादी माँ आपकी बहुत याद आती है, आपकी कमी मुझे हर दिन सताती हैदूर आपके चले जाने के बाद, आपकी याद अक्सर मुझे रुलाती है..!

जन्मदिन मुबारक हो दादा जी।।

ताक़त कम होने के बावजूद भी मुझे गोद में उठाने का !!शौंक था मेरे दादा-दादी की तो बात ही निराली है !!

दादा-दादी वो दोस्त होते हैं जो दुनिया के हर सवाल का जवाब जानते हैं। (Dada-dadi wo dost hote hain jo duniya ke har sawal ka jawab jante hain)

“ बच्चों के लिए सबसेज्यादा सयानी होती है,दादी माँ के पास हरतरह की कहानी होती है….!!!

“ घर के बुजुर्गों के संगवक़्त गुजारा करो,जो बड़े खुशनसीब होते हैउन्हीं की दादी माँ होती है….!!!

बचपन में मुझे खुश रहने के लिए किसी चीज की जरुरत नहीं होती थी क्योंकि मेरे पास दादाजी थे, जो हर पल मुझे हंसाया करते थे

“ उनके चेहरे पर मुस्कान बनी रहीयही मेरी खुदा से फरियाद है,दादी माँ के संग बिताया खूबसूरतवक़्त मुझे आज भी याद है….!!

कभी जिसने रुकना, झुकना, मुड़ना, टूटना और रोना नहीं सिखाया, वो ही हर बच्चे का दादा है कहलाया।

काश ये जिंदगी मुझे कुछ पलो के लिए पीछे !!लौटा दे मुझे मेरी दादी माँ के करीब पंहुचा दे !!

“ एक बार फिर कहीं से आ जाओं ना दादी,मुझे वो परियों की कहानीसुना जाओ ना दादीकोई लगा ना दे मुझे बुरी नजर,फिर वह मेरे माथे पर कलाटिका लगा जाओ ना दादी…!!

उस घर के संस्कार,उन घर के लोगों से कभी,अलग नहीं होते जहाँ,बुजुर्ग अपने बच्चों के साथ रहते हैं !!

बचपन में मेरा सबसे ज्यादा ध्यान रखती थी, मेरी दादी मुझे खुद से भी ज्यादा चाहती थी।

कुछ पैसे साड़ी में गाँठ मार कर रखती है,मेरी दादी माँ भी इक छोटा ATM रखती है..!

हर रिश्ते में फरिश्ते हैं मेरे दादा, दुनिया से निराले हैं मेरे दादा, दुआ है खुदा हर किसी को नवाजे यह रिश्ता। हैप्पी बर्थडे मेरे दादा!

आशीर्वाद तुम्हारा इतना है की, मैंने सब कुछ पाया जीवन में दुर्भाग्य रहा पर इतना मुझपर, देख न पाया अंत समय में

“ घर में सबसे प्यारी मेरी दादी माँ,दादा के चेहरे की मुस्कान मेरी दादी माँ,घर के बच्चों की जान मेरी दादी माँईश्वर का वरदान मेरी दादी माँ….!!

सुंदर कपड़े और खिलौने,मुझे दिलाए दादी-माँ।बात सुनाए, गीत सुनाए,रूठूँ तो मनाए दादी-माँ।

मुझे मोहब्बत है अपने हाथों की सब लकीरों से, ना जाने मेरी दादी ने कौन सी ऊँगली को पकड़कर मुझे चलना सिखाया था।

मेरी दादी मुझसे बहुत प्यार करती हैजब भी मैं ठोकर खाकर गिरतावो मुझे अपनी गोदी में उठा लेती है।

छोड़ हमारे सर पर अपना आशीर्वाद और प्यार गए मेरे पूज्य दादाजी आज स्वर्ग सिधार गए

दादा-दादी का तजुर्बा,बच्चों को बचपन में मासूम भी बनाए रखता है,और समझदार भी बना देता है !!

मामा के घर जाता हूँ तोनाना-नानी के गले मिल जाता हूँ,उनके चेहरे की मुस्कान देखकरमैं ख़ुशी से खिल जाता हूँ.

खुशियों की लहर वो मेरे घर लाता है, हर गम में वो साथ निभाने के लिए आता है, मुसीबत आने पर वो ढाल बन जाता है, दादा जी होने का फर्ज बखूबी निभाता है।

माँ-बाप का तो सर पर बस हाथ काफी होता है, पर दादा-दादी की तो सिर्फ दुआ ही काफी होती है।

खुशियों का छांव हो, मेरे दादू का नाम हो, उनकी झोली में दुनिया भर का सम्मान हो। हैप्पी बर्थडे दादाजी!

“ उनके चेहरे पर मुस्कान बनी रहे,यहीं मेरी भगवान् से फ़रियाद हैदादी माँ के साथ बितायाखुबसूरत वक्त मुझे आज भी याद है…!!

जिनकी एक मुस्कुराहट से सज जाए मेरी दुनिया, उन प्यारे दादा जी को जन्मदिन पर लाखों बधाइयां। हैप्पी बर्थडे दादू!

दादी की कहानियां तब तक चलती थी जब तक मैं सो न जाऊं दादी मुझे सुलाने के चक्कर में खुद ही सोना भूल जाती थी।

जब तक साथ है जी भर के बातें कर लो, इनकी हर नसीहत से अपनी झोली भर लो पछताओगे बहुत जब दूर चले जायेंगे, दादा है ज्ञान गंगा मौका है तो संवर लो

हर दादा-दादी की आखिरी ख्वाहिश अपने पोते को खुश देखने की होती है।

हमें सुबह-सुबह उठाकर जिसने सूरज को उगता देखना हमारी भी पसंद बना दिया, वो मेरे दादा जी हैं।

खुद को बहुत खुशनसीब समझना, क्योंकि हर किसी को दादा जी नसीब नहीं होते।

सदा खुश रहो आपकभी न टूटे हमारा साथ,

जिंदगी का बहुत सारा तजुर्बामैंने नाना-नानी से सीखा है,जिंदगी के हर मसीबतों कोमैंने हँसकर आसानी से जीता है.

Recent Posts