2009+ Saree Shayari In Hindi | साड़ी पर शायरी

Saree Shayari In Hindi , साड़ी पर शायरी
Author: Quotes And Status Post Published at: September 23, 2023 Post Updated at: June 21, 2024

Saree Shayari In Hindi : साड़ी में उनकी एक झलक क्या देखी,इन आँखों ने पलक झपकना ही बंद कर दिया. आज मैंने साड़ी क्या पहनी,मुझे खुद से इश्क़ हो गया.

सारी बीच नारी है कि नारी बीच सारी है,सारी ही की नारी है कि नारी की ही सारी है.

तन पे डालें जब साड़ी मम्मा लागे मेरी बड़ी प्यारी।

कांजीवरम बनारसी साड़ी की खुबसूरती एक तरफ और माँ की पुरानी साड़ी की खुबसूरती एक तरफ

हमारी गलतियों को छुपा करहमेशा जो सबसे बचाती रहती हैवो माँ ही होती है

“ ना जाने कितने दिलोंका वो कत्ल करने आई है,एक खूबसूरत हसीनालाल साड़ी पहनकर आई है…!!

ख्वाब आंखों से गए और नींद रातों से गई,वो गए तो यूं लगा जैसे जिंदगी हाथों से गई ।

हर ख्वाहिश तेरी पूरी हो जाए,जो हो कुछ अधूरी तो वह मेरी हो जाए,दुआ है रब से बहना तेरा हर पल,खुशियों की बारिश से भीग जाए।

करनी है खुदा से गुजारिश,तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले,हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा,या फिर कभी जिंदगी न मिले.

घायल_शेर 🦁 की साँसे उसकी दहाड़ 🥴️ से भी ज्यादा खतरनाक 🔫 होती है

मेरा वक़्त 🛣 बदलेगा रुतबा 🤴 नहीं, तेरी क़िस्मत ⏰ बदलेगी औकात 😲 नहीं

औकात 💪 तो कुत्तों 🐶 की होती है हमारी तो है सियत 😎 है

गज़ब हो तुम ये नखरे तुम्हारे बवाल,पहनती हो जब तुम साड़ी लगती हो कमाल..!!

“ कयामत तो नहीं देखी,मगर हां, उसे साड़ी में देखा है…!!!

कहीं अंधेरा तो कहीं शाम होगी,मेरी हर ख़ुशी तेरे नाम होगी,कभी मांग कर तो देख हमसे ए दोस्त,होंठो पर हसीं और हथेली पर जान होगी.

यूँ तो हर कपड़े में खूबसूरत दिखती हो,पर साड़ी में तो हद ही पार कर देती हो.

खुदा न करे आपको कोई ग़म हो,और सिर्फ खुशियां और हंसी मिले.ग़म जब भी बढ़ चले आपकी और,खुदा करे रास्ते में उसे पहले हम मिले..🎂Happy Birthday🎂🎀🎁

मौत से लड़ कर जिसने हमें जन्म दिया,उस माँ का दिल कभी मत तोड़ना।

“ ना जाने कितने दिलोंका वो कत्ल करने आई है.एक खूबसूरत हसीनालाल साड़ी पहनकर आई है…!!!

“ लाल साड़ी की कीमतभले ही ज्यादा हो,लेकिन लाल साड़ीतो मैं हर हफ्ते में लेती हु…!!

नाम 🤔 और पहचान 🦹‍♂️️ चाहे छोटी 🤨 हो पर अपने दम 💪 पर होनी चाहिए 🔫

“ जब आप एक साड़ी को गलेलगाते हैं तोआप अलग चमकते हैं…!!

दर्द को दर्द से न देखो,दर्द को भी दर्द होता है।दर्द को ज़रूरत है दोस्त की,आखिर दोस्त ही दर्द में हमदर्द होता है।

अपने दिल को अगर दुखाना हैं,बहारों में अगर घर जलाना हैं।प्यार करो एक बेवफा से,अगर मोहब्बत को आजमाना हैं।

माँ तेरे दूध का हक मुझसे अदा क्या होगा,तू नाराज है तो खुश मुझसे खुदा क्या होगा।

“ तन पे डालें जब साड़ीमम्मा लागे मेरी बड़ी प्यारी…!!!

इश्क़ उतना ही कर जितना तू सह सकेबिछड़ना भी पड़े तो कम से कम ज़िंदा रह सके।

जब भी साड़ी पहनूंगी मैं, तो मुझे ऐसे देखते मत रहना

कुछ दिन बहुत खुश थे हमअब उसी खुशी का कर्ज उतार रहे हैं।

नहीं होते हो, तब भी होते हो तुम,हर वक़्त जाने क्यों, मेहसूस होते हो तुम..!!!

मुसीबतों ने मुझे काले बादल की तरह घेर लिया, जब कोई राह नजर नहीं आई तो मां याद आई।

“खूबसूरती की इंतहा बेपनाह देखी…जब मैंने मुस्कराती हुई माँ देखी..”

तमन्नाओं से भरी हो जिंदगी, ख्वाहिशों से भरा हो हर पल…दामन भी छोटा लगने लगे, इतनी खुशियाँ दे आपको आने वाला कल…जन्मदिन की शुभकामनायें…🎂🎀🎁

“ लाल साड़ी में खूबसूरत लगते हैऐसा वो हमेशा कहते है.अब उन्हें कैसे बताएंहम तैयार भी तो उनके लिए ही होते है…!!

साड़ी में उनकी एक झलक क्या देखी, इन आँखों ने पलक झपकना ही बंद कर दिया.

गुल को गुलशन मुबारकशायर को शायरी मुबारकचाँद को चांदनी मुबारकआशिक़ को उसकी मेहबूबा मुबारकहमारी तरफ से आप को जन्मदिन मुबारक।

जिस रफ्तार 🐎 से तू निकल रही हैं ना ज़िन्दगी 👴, एक चालान ️🀄️ तो तेरा भी 🤜 बनता हैं ।।

“ अगर आप 6 यार्ड को लपेटकर,प्लीट्स खराब हुए बिनादिन भर भागदौड़ कर सकती हैंतो यकीन करें आपकुछ भी करने में सक्षम हैं…!!

ये मोहब्बत का नया दौर हैजहा हम थे वहां कोई और है!

हम आपके लिए सारे जहां की खुशियां लाएंगेआपके लिए दुनिया को फूलों से सजाएंगेआपका हर दिन खूबसूरत बनाएंगेआपके लिए अपने प्यार से सजाएंगे।Happy Birthday

दुनिया का सबसे छोटा शब्द“माँ”यह है तो एक ही अक्षर का लेकिनइसमें दुनिया भर का प्यार छुपा है।

हर घड़ी दौलत कमाने में इस तरह मशरूफ रहा मैं,पास बैठी अनमोल मां को भूल गया मैं।

तुझसे लाख तकरार होती है पर,बहना दिल में बस तेरे लिए प्यार होता है।

अच्छा तो कुछ भी नहीं,पर जो भी हैं सही हैं..Accha to kuch bhi nahi,Par jo bhi hain sahi hain..

क्रोध भी क्या करू तुमसे,आज भी हस्ते हुए अच्छी लगती हो…Krodh bhi kya karoon tumse,Aaj bhi hastein hue acchi lagti ho…

ना जाने कितने दिलों का वो कत्ल करने आई है,एक खूबसूरत हसीना लाल साड़ी पहनकर आई है.

मेरे प्यार को दुनिया मे कोई समझ न पाया,रोता था जब तन्हा कोई मेरे साथ न आया।मिटा दिया खुद को उसके प्यार मे,और लोग कहते हैं कि मुझे प्यार करना न आया।

नारंगी साड़ी में ये कातिलाना मुस्कानक्या सच में ले लोगी मेरी जान

देखा उसे साड़ी में तो दिल के धड़कने का एहसास हुआ,मन में पल रहे ख्वाबों को सम्भालना आसान न हुआ.

जेबो को लूट कर खुशियां भरा करती है,व्यापारी तो नहीं है जनाब,पर बहने सौदा खरा करती है।

ये जो खामोश से अल्फ़ाज़ लिखे हैं ना,पढना कभी गौर से, चीरवते कमालहै..!!

दिल छोड़ कर और कुछ माँगा करो हमसे, हम टूटी हुई चीज़ का तोहफा नही देते है.

“ मैं तेरी साड़ी कापिन बनना चाहता हूँलगने से पहले होंठोमें दबना चाहता हूँ…!!

जज़्बात ए शहर में फ़रेब का ठिकाना है, वरना अल्फाज़ यू आज बेघर नही होते.

तुम्हारी तारीफ में शब्द कम है, तुम्हारी याद में मेरी आंखें नम है।

नारंगी साड़ी में ये कातिलाना मुस्कान,क्या सच में ले लोगी मेरी जान.

खुशियों से बिते हर दिन,हर सुहानी रात हो…जिस तरफ पड़े आपके कदम –वहाँ पर फूलों कि बरसात हो…Wish you a very very Happy B’day

वो कभी सुनाती है, तो कभी पुचकारती है,मेरी प्यारी बहन एक पल झगड़ती है,तो दुसरे पल गले लग जाती है,यही प्यार भरा रिश्ता है हमारा।

नींद चुराने वाले पूछते हैं, सोते क्यों नही, इतनी ही फिक्र है तो, फिर हमारे होते क्यों नही.

कयामत तो नहीं देखी,मगर हां, उसे साड़ी में देखा है.

मां अपना आर्शीवाद बरसाएआप के घर खुशहाली आएऔर आप पिया का ढेर सारा प्यार पाएंHappy Hartalika Teej

जिसका मिलना किस्मत में नहीं होती,उससे मोहब्बत भी बेइंतहा होती हैं..Jisse milna kismat me nahi hoti,Usse mohabbat bhi beimtaha hoti hain..

ना जाने कितने दिलों का वो #कत्ल करने आई है,एक खूबसूरत हसीना लाल साड़ी #पहनकर आई है.

इतनी हिम्मत तो नहीं मुझमे,की दुनिया से छीन लू तुझे।लेकिन तुझे मेरे दिल से कोई निकाले,इतना हक़ तो मैने खुद को भी नहीं दिया।

कितना भी खुश रहने की कोशिश कर लो,जब कोई याद आता है तो बहुत रुलाता है।

तुम्हारी तारीफ करते हुए हमारी जुबान चुप नही रहती है, ये निगाहें तुम पर से हटती नही है।

जख्म जब मेरे सीने से बहार आयेंगे,आंसू भी मोती बनकर बिखर जायेंगे।ये न पूछों कि किसने कितना दर्द दिया है,वर्ना कई अपनो के चेहरे उतर जायेंगे।

“ बिना साड़ी के भारतीयजीवन को अुनभवनहीं किया जा सकता…!!

जिंदगी के हर दर्द कीऔर हर सुकून कीबस एक ही दवा हैऔर वह है माँ।

खिलते फूलों की रिदा हो जाए,हर तरफ़ प्यार भरी फ़िज़ा हो जाए,मांगते ही हाथ पर खुशियां रख दे,इतना मेहरबान तुझ पर मेरा खुदा हो जाए.जन्म दिन मुबारक हो!

“ अब उन्हें कैसे बताएं,हम तैयार भी तोउनके लिए ही होते है…!!

एक “माँ” ही ऐसी इंसान है।जो हमें दुनिया से 9 महीने से ज्यादावक्त से पहचानती है।Love you maa😘😘

“ साड़ी के पल्लू को कमरमें यूँ ना सरेआम दबाया करोकमर का तो पता नहीं,दिल हमारा लचक जाता है…!!

Recent Posts