1404+ Sad Shayari On Love Hurts In Hindi | Hurt Shayari

Sad Shayari On Love Hurts In Hindi , Hurt Shayari
Author: Quotes And Status Post Published at: July 26, 2023 Post Updated at: October 7, 2023

Sad Shayari On Love Hurts In Hindi : इस दर्द को भी कैसे न दिल से लगाएं? ये भी तो मेरे प्यार ने सौगात में दी है हर्फ़-हर्फ़ इस कदर था तल्खियों से भरा आखिरी ख़त तेरा दीमक से भी खाया ना गया

अब कहना ही छोड़ दिया मैंने कि तुम मुझसे बात करो,जब मेरे रोने से तुम्हे कोई फर्क नही पड़ता,तो मेरे होने या ना होने से क्या फर्क पड़ेगा..💔

गलतफहमी चाहे कितनी भी छोटी हो मगर वो बर्बाद अक्सर बड़े से बड़े रिश्ते को कर देती है।

चलो अब जाने भी दो क्या करोगे दास्ताँ सुनकर,खामोशी तुम समझोगे नहीं और बया हमसे होगा नहीं।

हो गए मशरूफ सब अपने यार में मुझको यार कह कर कोई बुलाता क्यों नहीं

आवाज़🤐 नहीं होती दिल💔 टूटने की लेकिन तकलीफ बहुत होती हैं💘

दबा रखे हैं कुछ राज़ हमने भी बता दिए तो कुछ कर गुज़र जाओगे खुद को खुदा के नाम कर जाओगे हम सच बोल दे तो तुम मर जाओगे

कितने अजीब हैं ये ज़माने के लोग खिलौना छोड़ कर जज़्बातों से खेलते हैं !!

जब वक्त खराब हो तो, सुकून देने वाले भी दर्द दे जाते हैं।

ज़िंदगी🤗 में मोहबत का पौधा🥀 लगाने से पहलेज़मीन परख लेनाहर एक मिटटी की फितरत मेंवफ़ा😏 नहीं होती दोस्तों

मसला ये नहीं हम रोते है हर बात पर,मसला ये है कि तुम मुझे रूलाने लगे हो.

टुटते हुवे तारे से भी तुझें मांगा हें ओर बता तुझसे कैसी मोहोबत करू…🙂🍁

चाहत यही है कि तुमसे मिल पाते, मेरी मौत हो जाती तो तुम जरूर आते.

कुछ सोचना🤔 चाहिए था उसे हर सितम😏 से पहले मै सिर्फ दीवाना नहीं था इन्सान👨‍🦱 भी था

क्या फायदा रोने सेजो प्यार नहीं समझ सकते, वो दर्द क्या समझेंगे

जो हक में नहीं था मेरे,मैं उसे खोने से डरता रहा,जिसका वजूद मेरे लिए नहीं थामैं उससे मोहब्बत करता रहा।

छोड़ दी, वो तमाम आदते जो दुःख देती थी….. सिवा, एक तुझे चाहने की……. 😢😢

अहद-ए-जवानी रो रो काटा, पीरी में ली आँखें मूँद यानी रात बोहत थे जागे, सुबह हुई आराम किया

अगर इतनी ही नफरत है हमसे तो, दिल से ऐसी दुआ करो, की आज ही तुम्हारी दुआ भी पूरी हो जाये और हमारी जिन्दगी भी!!

किसी को उजाड़ कर बसे तो क्या बसे, किसी को रुलाकर हँसे तो क्या हँसे.

छोड़ दिया जो जमना हमने,किसी से इश्क़ जाताना हमनेइश्क़ में बदमास हो गए थे हम,अब छोड़ दिया सतना हमने।

मेरी हर आह ! के बदले वाह ! मिली है मुझको कौन कहता है कि दर्द बिकता नहीं.

सारे 🧑‍🦯ज़माने में बट गया🫂 वक्त उनका !!हमारे हिस्से 😭में सिर्फ़ बहाने 💗आए !!

पता नहीं उनकी क्या नाराज़गी थी मुझसे, बिना बताये बहुत दूर हो गयी हैं वो मुझसे।

कुछ अजीब है ये दुनिया यहाँ झूठ नहीं,सच बोलने से रिश्ते टूट जाते है।

बहुत अकेला कर दिया है हमारे अपनों ने हमेंसमझ नही आता कि हम बुरे हैं या हमारी किस्मत।🥺🥀

टूट जाएगी तुम्हारी जिद की आदत भी उस दिन,जब पता चलेगा की याद करने वाला अब याद बन गया।🙂🥀

​💔​🤥​😔​ “ये इक तरफ़ा प्यार भी अजीब है जो रोने से पहले सोने नहीं देती.” ​💔​🤥​😔​

तू पसंद है मुझको बस कहने से डरता हूँ ! चोरी-चोरी बस तुझसे ही इश्क करता हूँ !

कुरेद-कुरेद कर बड़े जतन से हमने रखे हैं हरे, कौन चाहता है कि उनका दिया कोई ज़ख्म भरे।

लाख करो गुज़ारिशें लाखों दो हवाले, बदल ही जाते हैं आखिर बदल जाने वाले..!!!

दर्द 💌सबसे ज्यादा तब🌵 होता है !!जब हम अपना 💖दर्द किसी को🧏 बता नही पाते !!

#ज़िन्दगी में ऐसे लोग भी होते है..!जिन्हें हम प् नही सकते #सिर्फ चाह सकते है….!

#नींद आने पर सो भी लिया करो क्योकि,रातों में जागने से, #मोहब्बत लौटा नहीं करती..!

कोई भी सफ़र कभी खत्म नहीं होताया तो रास्ता बदल जाता है, या फिर वास्ता खत्म हो जाता है

लोग सच में Change हो जाते है !किसी से भूल के भी दिल्लगी मत करना.

तमन्ना💯 थी, कि कोई 💔टूटकर चाहे हमे !!मगर हम खुद 💥ही टूट गए किसी 🌵को चाहते चाहते !!

मैंने रो रो कर ख़तम किये आंसू होता अगर वो मेरा आता मेरे पास मुझको यकीन है इश्क़ पे मेरे याद करेगा रोएगा वो भी मेरे बाद

कभी मिले😭 फुरसत तो इतना🧏 जरूर बताना !!वो कौनसी मोहब्बत 🧏थी जो हम तुम्हे 🌌ना दे सके !!

आए खुदा क्या चीजMohabbat तू ने बनाईं हैं,किसी को ये मिल जाती है,और कोई सहता उम्र भर की Tanhai हैं।

अजीब सी बेताबी है तेरे बिना,रह भी लेते हैं और रहा भी नही जाता..!!

मैं तुम्हारा इंतज़ार करती रही पर तुम कभी नहीं आए।

चलता रहुगा पथ पर चलने में #माहिर बन जाऊँगा,या तो #मंजिल मिल जायेगी या अच्छा #मुसाफिर बन जाऊँगा..!

मेरी मौत की दुआ करना, मेरा दिल तोड़ने से पहले, मेरा साथ छोड़ने से पहले।

किसी की अच्छाई😇 का इतनाफायदा मत😤 उठाएँ कीवो बुरा बनने के लिए मजबूर😟 हो जायेयाद रहे बुरा वही बनता हैजो पहले अच्छा बनकर टूट चुका होता है🤨

दर्द सबसे ज्यादा तब होता है, जब हम अपना दर्द किसी को बता नही पाते।

मैंने पूछा उस से, कैसे भुला दिया तूने मुझे? चुटकियाँ बजा के वो बोली…ऐसे, ऐसे, ऐसे।

आकर जरा देख तेरी खातिर हम किस तरह से जिए,आँसू के धागे से सीते रहे हम जो जख्म तूने दिए।

अगर नसीब खराब हो तो रास्ते में पड़े पत्थर भी गहरी चोट देते हैं..!

राज ज़ाहिर ना होने दो तो एक बात कहूँ मैं धीरे- धीरे तेरे बिन मर जाऊँगा!!

अंगारे आँखों में है गर्माहट साँसों में है निगाहें हैं रुकी लक्ष पर ज़िक्र मंज़िल का बातों में है

होने लगी है अब घुटन दिल की दीवारों से अपना कह कर मुझको कोई बुलाता क्यों नहीं

कैसे तुमको हम समझाएं कितना तुमसे प्यार है दुनियां की अब फ़िक्र करें क्यों जो तू मेरा यार है

थक गए थे खुद को साबित करते करतेअच्छा हुआ तुमने हमें गलत समझ लिया।🙂🥀

गठरी बाँध बैठा है अनाड़ी,साथ जो ले जाना थावो कमाया ही नहीं।

इक टूटी सी ज़िन्दगी को समेटने की चाहत थी, न खबर थी उन टुकड़ों को ही बिखेरे बैठेंगे हम।

जो भी आता हैएक नयी चोट🤕 देकर चला जाता है🤨माना मजबूत हूं मैं लेकिन, पत्थर🗻 तो नहीं

छोड़ कर जाने वालों ने सिखाया है कि आने वालों को औकात में रखना…

इंसान की 👥सबसे बड़ी हार❣️ तब हो जाती है !!जब उसे पता चलता 🫀है की जिसे हम🕗 अपना सब कुछ 🙋समझते हैं !!उसके 🫂लिए हम कुछ भी😃 नही हैं !!

टूटे हुए सपने से खुली, आज सुबह फिर आँख सपना आज फिर चुभेगा दिन भर!!

जो मुझसे ही अनजान है, बस ज़रा सी जान है जो कभी सच हो ना सके, एक ख्वाब है मेरी जिंदगी

ऐ दिल❤️  थोड़ी सी हिम्मत 💪 तो कर ना यार दोनों मिल कर उसे भूल😤 जाते है

मानता ही नहीं कमबख्त दिल उसे चाहने से, मैं हाथ जोड़ता हूँ तो ये गले पड़ जाता है !

जो बात हमें आहत करती है, वह हमें ठीक करती है। – पाउलो कोइल्हो

रूकती नहीं ज़िन्दगी किसी के जाने से खुद को इतना पागल करना ठीक नहीं इश्क़ तो बस सफर का नाम है इश्क़ को मंज़िल समझना ठीक नहीं

वही तू और वही मैं … फिर भीकितना कुछ बदल गया है, दरमियाँ तेरे मेरे

कोई कितना ही खुश मिजाज क्यों न हो, रुला देती है किसी की कमी कभी कभी.

तेरा हाल देखकर लगता है कोई अपना था, वरना इतनी सादगी से बर्बाद कोई गैर नहीं करता।

फिक्र इस बात की नही कि वो बदल गएइस बात की है हम नही बदल पाते..!

वो हमसे बात अपनी मर्जी से करते हैं औरहम भी कितने पागल हैं कि उनकी मर्जी का इन्तजार करते हैं

बहुत दुःख होता है जब ज्यादातर लोग वैसे बन जाते हैं जैसा उन्होंने कभी कसम खाई थी के नहीं बनेंगे।

वो देखे बिना यूं मुंह फेर कर निकल गए, जैसे मुझे पहचानते ही नहींमेरे दिल को मिले हैं लाखों जख्म, पर कमबख्त उन्हें बेवफा मानता ही नहीं

“कई बार हमारी Feelings इतनी Hurt हो जाती हैं, कि हमें ऐसा महसूस होता है की हमारे शरीर का खून बह रहा है”।।- लेडी गागा

Recent Posts