1255+ Rajneeti Shayari In Hindi | राजनीति शायरी हिंदी

Rajneeti Shayari In Hindi , राजनीति शायरी हिंदी
Author: Quotes And Status Post Published at: September 27, 2023 Post Updated at: May 15, 2024

Rajneeti Shayari In Hindi : राजा बोला रात है राणी बोली रात है मंत्री बोला रात है संत्री बोला रात है यह सुबह सुबह की बात है सभी एक जैसा ही लिखते हैं, बस मतलब बदल जाते हैं, सरकारे वैसे ही चलती हैं, बस वजीर-ए-आजम बदल जाते हैं.

चोर, बेईमान और भ्रष्ट नेताओं की क्यों करते हो बात,लोकतंत्र की ताकत है जनता में, दिखला दो इनकी औकात.

“ जो सौदागर डॉलर का हैंवो खेती को क्या आँकेगा,धरती रोटी ना देगी तोखाने में सोना फँकेगा….!!

सच बातों पर चुप्पी और झूठ बातों पर चिल्लाए है,ये इसी देश के नेता हैं या चिड़ियाघर से आए हैं.

राजनीति में मूर्खता कोई बाधा नहीं है…!!

चुनाव पर ही कर देते है इतना खर्चा,तो देश के विकास की कैसे हो चर्चा।

वो जो खुद में से कम निकलतें हैंउनके ज़हनों में बम निकलतें हैंआप में कौन-कौन रहता हैहम में तो सिर्फ हम निकलते हैं।

जिधर हवा का बहाव है उधर मत बहना,देश के हित में मतदान तुम करना।

अब किसी के सामने जनता को हाथ नहीं जोड़ने देंगे,अपने हक की रोटी हम जरूर पा लेंगे,,बहुत किया झूठे वादोंपर विश्वास इस बार युवा आजमा कर देख लेंगे।

“ दुनिया सलूक करती हैंहलवाई की तरह,तुम भी उतारे जाओगे मलाई की तरह…..!!

अब की बार नहीं आएगी झाँसे में आवाम मियाँतुम पहुँचा दो सत्ता के गलियारों तक संदेश मेरा

जनता की समस्याओं के लिए,वो हमेशा जी जान से है लड़ते।हमारे युवा नेता बस विकास के,लिए ही शक्ति प्रदर्शन है करते।

चोर उचक्कों की करो कदर,, न जाने कौन कौनसी सर्कार में आ जायगा.

किसी भी देश के विकास में किसान, युवा और राजनीति का बहुत बड़ा योगदान होता हैं

छप के बिकते थे जो अखबार…सुना है आजकल वो बिक के छपा करते है.

मनुष्य अकेला पैदा होता है और अकेला ही मरता है; और वह अपने कर्मों के अच्छे और बुरे परिणामों को अकेले ही भोगता है; और वह अकेला ही नरक या परमधाम जाता है।

बातें समझदारी की करजो पूरी करते हैं अपने स्वार्थ नीति,सच को झूठ कर देवो होती है राजनीति।

होगी अब जमकर चुनाव की तैयारी,अबकी बार है युवा की बारी।

वो पगली लड़की नौ दिन मेरे लिए भूखी रहती है ,छुप -छुप सारे व्रत करती है , पर मुझसे कभी ना कहती है ,

किसी की सीट गंवाए बिना किसी के विचार को बदलने की क्षमता एक महान राजनेता की निशानी है…!!

लोकतंत्र की एकता का आधार चुनाव है,मतदान करके इसके महत्व को करो साकार।

आवाज़ उठेगी हर गाँव कीदर्द मिटेगी हर पाँव कीप्रधान पद हेतु हमें ज़रूरत हैयुवाओं के जोश और बुजुर्गों की छांव की

खुद हमें अपने अंदर एक नई,ऊर्जा का संचरण लाना होगा।बदलाव लाना है जिंदगी में तो,युवा नेता को मतदान करना होगा।

“ ख़्वाब टूटे हैमगर हौसले अभी ज़िंदा हैमैं वो शक्स हूँजिससे मुश्किलें भी शर्मिंदा है…!!

एक मुद्दत से अजब रात यहाँ तारी हैशहर जलते हैं मगर नींद हमें प्यारी है

आगे आकर उतरेंगे मैदान में,युवा के सोच और युवा के जोश के साथ।कर गुजरेंगे कुछ ऐसा की कभी भी सर न झुके स्वाभिमान में

तरक्की के रास्ते पर ले जाने वाले युवा नेता कहलाते हैं,देश में बदलाव लाने की हिम्मत और जज्बा खुद में रखते हैं।

अच्छे लोगो की कमी के वजह से राजनीति में सबसे अधिक भ्रष्टाचार हैं।

“ स्वर्ग के सम्राट कोजा कर ख़बर कर देरोज ही आकाशचढ़ते आ रहे हैं वो” (दिनकर)…..!!!

गंदी राजनीति का यह भी एक परिणाम हैंबीस रूपये एक बोतल पानी का दाम हैं

खूब करो तुम , कोशिश हमें मिट्टी में मिलाने की,..शायद तुम्हे नहीं मालूम, कि ‘‘हम बीज हैं”आदत है हमारी बार-बार उग जाने की.

युवा सोच में नई तरक्की नज़र आती है,युवा नेतृत्व की दीवार पक्की नज़र आती है।

राजनीति में कोई किसी का दुश्मन नहीं होता है,यह सब दिखावे के लिए होता है,,अंत में आम इंसान को कुचल दिया जाता है।

राजनीति भी रंग-रंगीली हैंकुछ ने तो बाप की ज़ागीर समझ ली हैं

जरूरत पर सब यार होते हैं!!जरूरत न हो तो पलट कर वार होते हैं!!चुनाव नजदीक आ रहा हैं बच के रहना!!क्योंकि ज्यादातर नेता गद्दार होते हैं!!

हमने आपको वोट दिया फरिश्ता समझकरऔर आपने हमे बेच दिया पालतू कुत्ता समझकर!

पहले नेता बेहतर थे गाते राष्ट्र का गान, राजनीति कभी नही किया स्वदेश का बदनाम.

वे नीच लोग जो दूसरों के गुप्त दोषों की बात करते हैं, वे स्वयं को वैसे ही नष्ट कर देते हैं जैसे साँप चींटियों के टीलों पर भटक जाते हैं।

“ चंद चेहरे लगेंगे अपने से,खुद को पर बेकरार मत करना,आखरिश दिल्लगी लगी दिल परहम न कहते थे प्यार मत करना….!!

“ अपनी तिजोरी तो हर कोई भरता हैऐसे लोगो को नेता बनाओ जो जनतामें विकास करता है…!!

“ लगता था ज़िन्दगी कोबदलने में वक़्त लगेगापर क्या पता था बदलता हुआवक़्त ज़िन्दगी बदल देगा….!!

जब साड़ी पहने एक लड़की का, एक फोटो लाया जाता है ,जब भाभी हमें मनाती हैं , फोटो दिखलाया जाता है ,

जिसकी जो नियत थी उसने वो बहायाकिसानो ने दूध तो, सरकार ने खून बहाया

सियासत की रंगत में ना डूबो इतना!!कि वीरों की शहादत भी नजर ना आए!!जरा सा याद कर लो अपने वायदे जुबान को!!गर तुम्हे अपनी जुबां का कहा याद आए!!

राजनीति में अच्छे लोगो की कमी हमेशा से ही रही हैं क्योकि अच्छे लोग राजनीति में आना पसंद ही नही करते हैं।

“ बोलता ज्यादा हूँपर नेता नहीं हूँ,बिना मतलब केकिसी को कुछ देता नहीं हूँ…..!!

काजल के पहाड़ पर चढ़ना, और चढ़ना और पार करना, बेदाग हुए बिना यह सब करना बहुत मुश्किल है।

विकास के नए फूल खिला कर देख लो!!तरक्की की ख़ुशबू बिखरा कर देख लो!!बहुत देख लिया अनुभव का झूठा प्रचार!!इस बार युवा को आजमा कर देख लो!!

सरहदों पर बहुत तनाव है क्या!!कुछ पता तो करो चुनाव है क्या!!और खौफ बिखरा है दोनों समतो में!!तीसरी समत का दबाव है क्या!!

दो उसी का साथ,जो करेगा देश का विकास।

“ इन तीनों को बिल्कुल फुर्सत नहीं हैकिसान को रोटी उगाने सेग़रीब को रोटी कमाने सेऔर हमारे देश के नेताओं कोराजनीतिक रोटिया पकाने से…..!!;

सरहदों पर बहुत तनाव है क्या,कुछ पता तो करो चुनाव है क्याऔर खौफ बिखरा है दोनों समतो में,तीसरी समत का दबाव है क्या

हर किसी के मन में अच्छे,विचारों की ऊर्जा बढ़ाएंगे।हमारे गांव में युवा नेता ही,विकास की नई सोच लाएंगे।

युवा नेता ही हमारे लिए यारों,विकास के नए रास्ते खोल देंगे।हम सब की तरक्की के नए फूल,खिलाकर देश को जगमगा देंगे।

हर सुबह है वही मातम दर ओ दीवार के साथ कितनी लाशें मेरे घर आएंगे अखबार के साथआज वो चुप हैं जो पहले बहुत बोलते थेलोग समझौता किए बैठे हैं सरकार के साथ।

ग्राम प्रधान के चुनाव में विकास का मुद्दा होता नही है,इस पद का उम्मीदवार जीत के लिए रात-रात भर सोता नही है।

सांप्रदायिक बातें कर बढ़ाते हैं अलगाँव,नेता संग चमच्चे भी लगाते हैं राजनीति में दांव।

विपक्ष को समझ में नहीं आतीपर कुछ बात तो है BJP मेंक्योंकि नफरत की राजनीति करकेकोई इतना बड़ा नहीं बनता है।

भले ही हम कितना ही कर ले हाहाकार,पॉलिटिक्स में झूठे नेताओं की होती है जय-जयकार।

राजनेताओं के परिवार नेतागिरी पर समझते हैं अपना एकाधिकार,झूठ मुठ के दावों और भ्रष्टाचारी से देते हैं हमें उपहार।

जैसे पिछली बार जितायेइस बार भी जिताईयेउत्तर प्रदेश में भाजपा कीसरकार फिर से बनाइये ।।

सब वही लिखते हैं, बस मायने बदल जाते हैं, सरकारें वैसे ही चलती हैं, बस वजीर-ए-आजम बदल जाता है।

व्यक्ति को अधिक ईमानदार नहीं होना चाहिए। सीधे पेड़ पहले काटे जाते हैं और ईमानदार लोगों पर पहले शिकंजा कसा जाता है।

आपका विश्वास मेरा प्रयास ,मिलकर करेंगे पंचायत का विकास।आपने संजोये हैं जो विकास के सपने,हम आयेंगे आपके द्वार इनको पुरा करने।

समय की रफ़्तार को बदल देगा,बड़ी -बड़ी कठनाईयों को चूर -चूर कर देगा।याद करो इतिहास को तूम,जोश युवाओं का पूरा भूगोल ही बदल देगा।

बुलंदी पर पहुँचेगा पंचायत का विकास,अब युवाओं पर दिखाना होगा विश्वास।गाँव की नई दिशा नई राह तभी निकलेगी,पंचायत की कमान जब होगी युवाओं के पास।

राजनीति का जनून भी बड़ा गजब होता हैवही लोग दुश्मन बनता है, जो सबसे ख़ास होते है

समाज की मुख्यधारा मे आकर गरीब का सम्मान हुआ है फ़सलो का पाकर सही दाम, खुश किसान हुआ है।

भ्रष्ट राजनीती सदैव एक आंदोलन को जन्म देती हैं और यही इसके पतन का कारण भी बनती हैं।

सवाल जहर का नहीं था, वो तो मैं पी गया,तकलीफ लोगों को तब हुई, जब मैं फिर भी जी गया.

जहाँ सच हैं, वहाँ पर हम खड़े हैं, इसी खातिर आँखों में गड़े हैं.

रोजगार नहीं मिल रहापढ़े-लिखे बैठे बेकार है,राजनीति के रंग में रंगीपता नहीं यह कैसी सरकार है।

जो धरापुत्र का वध कर दे, वह राजपुरूष नाकारा हैंजिस धरती पर किसान का रक्त गिरे उसका शासक हत्यारा हैं

Recent Posts