508+ Pehli Mulakat Shayari In Hindi | पहली बार मिलने की शायरी

Pehli Mulakat Shayari In Hindi, पहली बार मिलने की शायरी
Author: Quotes And Status Post Published at: September 2, 2023 Post Updated at: May 8, 2024

Pehli Mulakat Shayari In Hindi : तुमसे मिलकर हम अपने,दिल की हर बात कह गए, मुलाकात हुई थी सपनों में, सुबह हम तन्हा रह गए। मेरी नजरो को आज भी तलाश हे तेरी बिन तेरे ख़ुशी भी उदास हे मेरी खुदा से मांगा हे तो सिर्फ इतना मरने से पहले आपसे मुलाक़ात हो मेरी.

पहली ही मुलाकात में जादू छा गया उनकी बातों का !!दिल दे बैठे उनको दिन में, चैन छिन गया रातों का !!

कहते है प्यार में लोग जान तक दे देते है,पर जो किसी को टाइम नहीं दे सकता,वो जान क्या देगा।

रूठी जो ज़िन्दगी तो मना लेंगे हम,मिले जो गम वो भी सह लेंगे हम,बस आप रहना हमेशा साथ हमारे तो,निकलते हुए आंसुओं से भी मुस्कुरा लेंगे हम।

सामने मंजिल तो रास्ते ना मोड़ना,जो मन मे हो वो ख़्वाब ना तोड़ना,हर कदम पर मिलेगी सफ़लता,बस आसमान छूने के लिए जमीन ना छोड़ना।

“कितनी अनमोल होती है वह पहली मुलाकात जो आखरी भी हो |”– shafique

मोहब्बत भी बड़ी अजीब चीज़ है,कही कोई अपने प्यार से बोहत खुश है,तो कही कोई अपने प्यार को कोस्ता है,विश्वास करो यारो प्यार बड़ी दिलचस्प चीज़ है।

अब राहा नहीं जाता तुम्हारे बिनाजल्दी बताओ कब आओगे मिलने मेरीजान…😍

नहीं गुजरता हैं अब कोई दिनआपके बिना,मेरी मोहब्बत की हर शरारत तुमही तो हों…!

जब लुत्फ़ का मंजर देखता रहता हूँ बारिश में, बदन जलता है और मैं भीगता रहता हूँ बारिश में !

मुलाक़ात हुआ करती हैजब ख़यालों में दबे पांव वो आ जाता हैवो मुलाक़ात मुलाक़ात हुआ करती हैमीना नक़वी

जो तुम्हारे लिए अपने हाथो की नाश काट हूँगा, ऐसा कर लूँगा – वैसा कर लूँगा अंत में बस इतना कहना चाहता हूँ की,

बस एक तुम ही चाहिए,पूरी दुनियाँ का मैं क्या करूँगा..!!

दो बातें ही कर लोअगर चार बातें ना हो सके,याद ही कर लिया करोअगर मुलाक़ात ना हो सके.

“उससे वह पहली मुलाकात आज भी याद है मुझे,उसे देर हो रही थी फिर भी मेरा हाथ थाम रखा था उसने |”– life_talks26

तुम्हारा नाराज़ होना बहुत खलता है मुझेंअच्छा..ये बताओ मुझसे नाराज़ होकर क्या मिलताहै..!

जब वो लड़की मुझे पहलीबार देख कर मुस्कुराई थी,हम तो तभी समझ गये थे येलड़की हमे उम्र भर रुलायेगी।

खुशिया किसी की मोहताज नहीं होती,दोस्ती यूँ ही इत्तेफाक नहीं होती,कुछ तो मायने होंगे इस पल केवर्ना यूँ ही आपसे मुलाकत नहीं होती।

अपनी हर ख़ुशी तुझ पर वार दूँ,जिंदगी तेरी चाहत में संवार लूँ,पहली मुलाक़ात कुछ इस तरह होकि उससे सारी जिंदगी गुजार लूँ.

जख़्म इतना गहरा हैं इज़हार क्या करें,हम ख़ुद निशां बन गये ओरो का क्या करें,मर गए हम मगर खुली रही आँखे हमरी,क्योंकि हमारी आँखों को उनका इंतेज़ार हैं।

मजबूरियाँ ओढ़ के निकलता हूँ घर से आजकल, वरना शौक तो आज भी है बारिश में भीगने का !

प्यार जबरदस्त हो या ना होलेकिन kissजबरदस्ती वाली हीअच्छी लगती है…🤭❤️

तुम मेरी जो इतनी परवाह करते हों,सच बताना ये आदत हैं या हमसे प्यारकरते हों..❣️❣️

इतना प्यार तो मैंनेखुद से भी नहीं किया,जितना तुमसे हो गया है ।

मेरी ज़िन्दगी में खुशियां तेरेबहाने से हैं आधी तुझे सताने से हैंआधी तुझे मनाने से हैं..।

आज तो मिल के भी जैसे न मिले हों तुझसेचौंक उठते थे कभी तेरी मुलाक़ात से हमजाँ निसार अख़्तर

जिंदा रहने के लिए तेरी क़सम एक मुलाक़ात ज़रूरी है सनम

तेरा होना ही मेरे लिये खास है,तू दूर ही सही मगर मेरे दिल केपास है।

उसने पूछा मन में क्या चल रहा तुम्हारें,मैंने कहा सिर्फ ख्यालआपका…❣️❣️

कौन कहता है मुलाक़ात मेरी आज की है… तू मेरी रूह के अंदर है कई सदियों से..

प्यार के रास्ते बेवफा हो नहीं सकते,हम आपसे खफा हो नहीं सकते,आप बेशक हमें भूल कर सो जाओ,मगर हम आपको याद किये बिना सो नहीं सकते।

बनके अजनबी मिले है ज़िंदगी के सफर में,इन यादों को हम मिटायेंगे नहीं,अगर याद करना फितरत है आपकी,तो वादा है हम भी आपको भुलायेंगे नहीं।

करनी है ख़ुदा से एक गुजारिशतेरे प्यार के सिवा कोई बंदगी ना मिले,हर जनम मे साथी हो तुम जैसाया फिर कभी जिन्दगी ही ना मिले।

नजर यूं ही नहीं ढूढ़ती तुम्हें,इन्हें भी सुकून की तलाशहैं ।

तू मेरी सबसे खूबसूरत भूल हैं,तेरी हर खुशी और गम मुझे कबूल हैं..

मैं बताऊँ मेरी खुशी क्या है,एक ही तस्वीर में हँसते हुए हमदोनों..!!

काश तुम पूछो के तुम मेरेक्या लगते हो,मै गले लगाऊँ और कहू सब कुछ❤️🥀

दिल से आपका ख्याल जाता नहीं,आपके सिवा कोई याद आता नहीं,जी चाहता है कि आप को रोज़ देखु,वह वक्त कभी आता नहीं..💞💞

एक लड़का तेरी पसंद की चीज़ों कोघंटों तक बाजारों में ढूढ़ता,ये वही लड़का है जिसे अपनी कमीजका नाप तक याद नही..!

सबकी अपनी अपनी दुनियाहैं, मेरी तो दुनिया ही आपहो..।

सुबह को जो नींद से जागे तब रात का ख्याब याद आ गयाक्या खूब रही थी सपनो में मुलाक़ात आपसे.

तुमसे उम्र भर इश्क़ करेंगेये ठान लिया है,तेरे हंसते मुखड़े को हीजिंदगी मान लिया है।🌹

दिल में तेरी चाहतलबों पे तेरा नाम हैतू मोहब्बत कर या ना करमेरी जिंदगी तेरे नाम है

जान से ज्यादा प्यार उन्हें किया करते थे;याद उन्हें दिन रात किया करते थे;अब उन राहों से गुज़रा नहीं जाता;जहाँ बैठकर उनका इंतजार किया करते थे।

आपसे से दुनिया मेरी मेरी तो दुनियाआप हो आप से है खुशियाँ मेरी मेरी तोखुशियाँ आप हो ।

किस किस से छुपाऊं तुम्हें,अब तो तुम मेरी मुस्कुराहट में भीनज़र आने लगें हो..!!

पहली मुलाकात की शायरीसुबह को जो नींद से जागे तबरात काख्याब याद आया गयाक्या खूब रही थीसपनो में पहली मुलाक़ात आपसे

वो रख ले अपने पास हमें कैद करके,काश हमसे ऐसा गुनाह हो जाए..!

उन्होंने पूछा तोहफे में क्या चाहिए हमने कहा की वो मुलाकात जो कभी ख़त्म ना हो।

मेरी नजरो को आज भी तलाश हे तेरी बिन तेरे ख़ुशी भी उदास हे मेरी खुदा से मांगा हे तो सिर्फ इतना मरने से पहले आपसे मुलाक़ात हो मेरी.

मौसम-ए-इश्क़ है तू एक कहानी बन के आ, मेरे रूह को भिगो दें जो तू वो पानी बन के आ !

सब हालात रहे बस में सदा आपकेखुशियों से सदा आपकी मुलाकात रहेमंजिले मिलती रहे रब की महेरबानी सेईश्वर की कृपा आप पर दिन रात रहे

किस किस को बताए हाल मेरा,सुबह उठते ही आ जाता हैं ख़यालतेरा…❣️❣️

फ़िक्र तो होंगी ना तुम्हारी,इकलौती मोहब्बत होंतुम…❣️❣️

अगर बिछड़ने से मुस्कुराहट लौट आये तुम्हारी,तो तुम्हे हक है की मुझसे दूरियां बना लो।

बस इतनी सी दुआ है रब से तेरा हर दर्द,मेरा हो जाए मेरी हर खुशी तेरी हो जाए..

सीधी-साधी मुलाक़ात थी, कौन जानता था उम्रकैद़ थी sidhi-sidhi mulaaqaat thee, Kaun jaanata tha umrakaid thi.

तुम मुझे अच्छे या बुरे नहीं लगते,तुम मुझे बस मेरे लगते हो…….!!💔🥀

चेहरा देखकर दिल लगाया ही नहीं कभी, हॉ,मुस्कुराहटों पर तेरी कई बार जान लुटाई है।हमनें..!

तेरे रूठ ने से पहले ही तुझे मना लेता हूं..तेरी याद में तेरी तस्वीर देख के भीमुस्कुराता हूं..।

इस मुलाक़ात ने इक रौशनी फैलाई हैलोग बढ़ते हैं तो तहज़ीब बढ़ा करती है

चाहने के लिए एक ही चेहरा काफी है,मुंह मारने के लिए पूरा शहर भी कमहै…❤️

“वह उसकी बाहों में मुझे यूं नींद आना,पहली बार मिलने पर,मेरा हाथ मिलाना और उसका मुझे सीने से लगाना |”– Tripti Arya

“मेरे जज्बातो से भरा खत,तुझ तक पहुंचाऊँ कैसे,तेरे लिए जो मोहब्ब है,भला तुझे दिखाऊँ कैसे..!!

छत टपकती हैं उसके कच्चे घर की वो, किसान फिर भी बारिश की दुआ करता है !!

तेरा साथ है तो मुझे क्या कमी है,तेरी हर मुस्कान से मिली मुझे खुशी है,मुस्कुराते रहना इसी तरह हमेशाक्योंकि तेरी इस मुस्कान में मेरी जान बसी है।

उदासीयों की वजह तो बहुत हैं जिंदगी में,वेवजह खुश रहने का कारण तुमहों..!

मोहब्बत मुकद्दर है कोई ख़्वाब नही,ये वो अदा है जिसमें हर कोई कामयाब नही,जिन्हें मिलती मंज़िल उंगलियों पे वो खुश है,मगर जो पागल हुए उनका कोई हिसाब नही।

मत पूछो कितनी मोहब्बत है मुझे उनसे, बारिश की बूंद भी अगर उन्हें छू जाती है, तो दिल में आग लग जाती है !

सच खूबसूरत है वो इश्क़,जो हमे आप से हुआ हैं..!

मैं तेरी याद में रात भर नहीं सोयाआखिरी मुलाकात के बादसच कहो क्या तुम्हारा दिल नहीं रोयाआखिरी मुलाकात के बाद

खुशिया किसी की मोहताज नहीं होती, दोस्ती यूँही इत्तेफ़ाक़ से नहीं होती कुछ तो मायने होंगे इस पल के, वरना यूँही आपसे मुलाक़ात नहीं होती.

तेरी उस अधूरी मुलाकात ने मुझे परेशान कर दिया !!और तुमने सोचा कि मिलकर के एहसान कर दिया !!

Recent Posts