1872+ Mom Shayari In Hindi | माँ के लिए शायरी

Mom Shayari In Hindi , माँ के लिए शायरी
Author: Quotes And Status Post Published at: September 14, 2023 Post Updated at: October 13, 2023

Mom Shayari In Hindi : सीधा साधा भोला भाला में ही सबसे अच्छा हूँ,कितना भी हो जाऊ बड़ा माँ में आज भी तेरा छोटा बच्चा हूँ। भीड़ में भी सीने से लगा के दूध पिला देती है,बच्चा अगर भूखा हो तो माँ शर्म को भुला देती है।

मैंने खुदा से कहा किआप सब की दुआ पूरी करते हो,तो मेरी भी कर दोबस मेरी सारी खुशियांमेरे माँ के नाम कर दो।

किसी को घर मिला हिस्से में तो किसी की दौलत आई हिस्से मेंमैं तो वह खुश किस्मत हूं घर का है जिसके किस्मत में माँ आई हिस्से में

कितनी दुआएं मांगी होंगी,मेरी मां ने मेरे लिए।ये वक़्त ऐसा आया है,हर जनम में मां मिले,ये दुआ मैं करता हूं।

आशा करते है की आपको हमारी यह Heart Touching Mother Shayari in Hindi पसंद आई होगी. अपने दोस्तों के साथ जरुर शेर करे.

कौन कहता है कि बचपन वापस नहीं आता,कभी माँ की गोद में सर रखकर तो देखो,😌😌बड़े होने का मन ही नहीं करेगा।Love you maa 😘😚

हर गली, हर शहर, हर देश-विदेश देखा,लेकिन मां तेरे जैसा प्यार कहीं नहीं देखा।

500rs मांगो तो 400rs देती है,     1 रोटी बोलो तो 2 रोटी देती है,     इधर आप बिल्कुल नहीं मारूंगी कहकर कुछ देती है बताओ वह कौन है?

कहीं भी चला जाऊं दिल बेचैन रहता है, जब घर जाता हूं तो माँ केआंचल में ही सुकून मिलता है। Mother’s Day Status

माँ सबकी जगह ले सकती है,लेकिन माँ की जगह कोई नहीं ले सकता।

कुछ नहीं होगा तो आँचल में छुपा लेगी मुझे, माँ ! कभी सर पे खुली छत नहीं रहने देगी।

हां मेरी माँ आज भी अनपढ़ हैमैं एक रोटी माँगता हूं वो दो ला देती है

फ़ना कर दो अपनी सारी ज़िन्दगी अपने माँ के कदमो मेंदुनिया में यही एक मोहब्बत है जिसमे बेवफाई नहीं मिलती

किसी को घर मिला हिस्से में या कोई दुकान आई ,मैं घर में सबसे छोटा था मेरे हिस्से में माँ आई

घर से निकलते ही, कुछ दूर चलते ही, बस माँ याद आती है।

भूल जाता हूँ परेशानियां ज़िंदगी की सारी,माँ अपनी गोद में जब मेरा सर रख लेती है।

मुसीबतों ने मुझे काले बादल की तरह घेर लिया,जब कोई राह नजर नहीं आई तो मां याद आई।

मेरी आँखों से पढ़कर वो मुझे जान लेती हैइक माँ ही तो हैं जो मुझसे पहले मुझेपहचान लेती है। Love You Mummy.

दुनिया सिर्फ हालात पूछती है फिक्रसिर्फ मां करती है..

कोई कितना भीअच्छा क्यों ना हो परमाँ की जगहकोई नही ले सकता!!

भीड़ में भी सीने से लगा के दूध पिला देती है,बच्चा अगर भूखा हो तो माँ शर्म को भुला देती है।

घर में धन, दौलत, हीरे, जवाहरात सब आए,लेकिन जब घर में मां आई तब खुशियां आई।

किसी भी ​मुश्किल का अब किसी को हल नहीं मिलता, ​शायद अब घर से कोई माँ के पैर छूकर नहीं निकलता​।

अकेला हूँ मैं इस सारे जहां में,माँ तेरी याद का सहारा है,तू मुझसे दूर न होना कभी भी,तू मंजिल है मेरी तू ही किनारा है।

हर गली, हर शहर, हर देश-विदेश देखा,लेकिन मां तेरे जैसा प्यार कहीं नहीं देखा।

ऐ अंधेरे! देख ले मुंह तेरा काला हो गया,माँ ने आंखें खोल दीं घर में उजाला हो गया।

मैं सितारा था तेरी आँखों का, मम्मी देख मुझे अब कहाँ हूँ मैं. Main sitara tha teri aankhon ka, Mummy dekh mujhey ab kahan hun mai.

हर गली, हर शहर, हर देश-विदेश देखा, लेकिन मां तेरे जैसा प्यार कहीं नहीं देखा।

मुसीबतों ने मुझे काले बादल की तरह घेर लिया,जब कोई राह नजर नहीं आई तो मां याद आई।

हँसकर मेरा हर गम भुलाती है माँ, मैं रोता हूँ तो सीने से लगाती है माँ, बहुत दर्द दिया है इस ज़माने ने मुझको, सबकुछ झेलकर जीना सिखाती है माँ

उसके🙁 आँचल में मुझे🤗 बहुत सुकून😇 मिलता है,🤗ज़िंदगी 🌎खुशनुमा लगती 😇है जीने का जूनून😇 मिलता है💥💥💥

कौन सी है वो चीज़ जो यहाँ नहीं मिलती,सब कुछ मिल जाता है पर माँ नहीं मिलती

सख्त राहों में भी आसान सफ़र लगता है, ये मेरी माँ की दुआओं का असर लगता है.

दुनिया में दर्द देने वाले तोहजारों मिलते हे मगरहर दर्द के समय साथ देने वाली माँसिर्फ एक माँ ही हे।

जब जब कागज पर लिखा, मैने “माँ” का नाम,कलम अदब से बोल उठी, हो गये चारो धाम।”

जिंदगी में कभी कोई यह नहीं कहता किहमसे भी आगे निकलो।लेकिन एक माँ ही ऐसी शख्स होती है।जो हमेशा यह दुआ देती हैं, कि हमसे भी आगे बढ़ो

जब मेरी चिंता बढ़े माँ सपने में आए…हालात बुरे थे मगर अमीर बनाकर रखती थी,हम गरीब थे, ये बस हमारी माँ जानती थी…मुनव्वर राना

दुआ है रब से वो शाम कभी ना आए,जब माँ दूर मुझसे हो जाए।

माँ की तरह कोई और ख्याल रख पाए,ये बस ख्याल ही हो सकता है। I Love You Maa

जो खुद रुलाएं फिर मनाएं वो है पापा,और जो रुलाके खुद रोने लग जाए वो माँ। Love You Maa

मैंने मेरे जीवन में अनेक रिश्ते निभाये, पर मुझे माँ जैसा कोई रिश्ता नहीं मिला।

सख्त राहों में भी आसान सफ़र लगता है,ये मेरी माँ की दुआओं का असर लगता है।

माँ से ऊँचा न कोई माँ से गहरा कोई नहीं, वैसे तो मुझको सभी दोस्त प्यारे हैं, पर माँ से प्यार कोई नहीं ! Love you Maa 😘💚💯

गिनं लेती है दिन बगैर मेरे गुजारे हैं कितने,भला कैसे कह दूं कि माँ अनपढ़ है मेरी।

जब जब कागज पर लिखा मैंने मां का नाम !!कलम अदब से बोल उठी हो गए चारों धाम !!

जिसके होने से मैं खुद को मुक्कम्मल मानता हूँ, में खुदा से पहले मेरी माँ को जानता हूँ।

ये ऐसा क़र्ज़ है जो मैं अदा कर ही नहीं सकता,मैं जब तक घर न लौटूं, मेरी माँ सज़दे में रहती है।

वक़्त आँखों से जब नींदें चुरा लेता हैदर्द आँखों में घरौंदा बना लेता हैज़ख्म यादों के सिरहाने बैठ जाता हैमाँ की गोद तन्हाई को बना लेता है

अगर किसी की पूजा करनी ही हैतो इतना याद रखनाकि घर से बड़ा कोई मंदिर नहींऔर माँ से बड़ा कोई भगवान नहीं

एक तेरा ही प्यार सच्चा है माँ, औरो की तो शर्ते ही बहुत है । 💚😘 Love You Maa

न जाने क्यों आज के इंसान इस बात से अनजान हैं, छोड़ देते हैं बुढ़ापे में जिसे वो माँ तो एक वरदान है। “मदर डे” की शुभकामनाएं

पूरी बात नहीं लिखूंगा, मां पर कोई लिखने बैठेगा तो उसकी पूरी जिंदगी लग जाएगी।

आज बहुत दिनों बाद रोना आ गया माँ, जब तेरे बने हाथ के उस खानें की याद आया, जब बहुत भूख लगी थी और खानें में स्वाद नहीं था।

दुआ है रब से वो शाम कभी ना आए,जब माँ दूर मुझसे हो जाए।

राहे मुश्किल थी रोकने की कोशिश बहुत की,लेकिन रोक न पाए क्योंकि मैं घर से मां के पैर छू निकला था।

उसकी दुआओ मे ऐसा असर हैकी सोये भाग्य जगा देती है,मिट जाते है दुःख दर्द सभीमाँ जीवन मे चार चाँद लगा देती है।

मत कहिये मेरे साथ रहती है माँ,कहिये की माँ के साथ रहते है हम।

काम से घर लौट कर आया तो सपने को क्या लाए, बस एक मां ने पूछा बेटा कुछ खाया कि नहीं।

कितना भी लिखो इसके लिये कम है।सच है ये कि ” माँ ” तू है, तो हम है

माँ के लिये क्या लिखूं दोस्तों, माँ ने मुझे खुद लिखा है |

उसके रहते जीवन में कोई गम नहीं होता, धोखा भले ही दे-दे ये दुनिया पर माँ का प्यार कभी कम नहीं होता ।

चलती फिरती आँखों से अज़ाँ देखी है मैंने जन्नत तो नहीं देखी है माँ देखी है

मुझे बस इस लिए अच्छी बहार लगती हैकि ये भी माँ की तरह ख़ुशगवार लगती है

गिनती 🙁नही आती 👎मेरी माँ को यारों,🤗मैं एक 🤔रोटी मांगता 😊हूँ वो हमेशा👍 दो ही लेकर आती है💖💖💖

सब 🤔कह रहें हैं😇आज 🤱माँ का दिन है🙁वो🤔 कौन सा🤗 दिन है..😌जो मां 🤰के बिन है💥💥💥

दुआ बस इतनी सी दुआ है,मां तेरी हर दुआ कबूल हो जाए,जो आप देखो हर रात ख्वाब,वह ख्वाब हर सुबह पूरा हो जाए।

मैं रोया परदेस में भीगा माँ का प्यारदुख ने दुख से बातें की बिन चिट्ठी बिन तारनिदा फ़ाज़ली

जो रुला कर मना ले वो पापा है,और जो रुला कर ख़ुद भी रोये वो मां है..!👩‍👧❤👩‍👧

कहीं भी चला जाऊं दिल बेचैन रहता है !!जब घर जाता हूं तो माँ के आंचल में ही सुकून मिलता है !!

बिन कहे आँखों में सब पढ़ लेती है, बिन कहे जो गलती माफ़ कर दे वो माँ है।

आँख खोलू तो चेहरा मेरी माँ का हो,आँख बंद हो तो सपना मेरी माँ का हो,मैं मर भी जाऊँ तो भी कोई गम नहीं,लेकिन कफन मिले तो दुपट्टा मेरी माँ का हो।

हंसती हो मुझे हंसाने के लिएरोने पे रोती हो मुझे चुप कराने के लिएमाँ तुम एक बार रूठ के तो देखोपूरी कायनात एक कर दूंगा तुम्हें मनाने के लिए

सख्त राहों में भी आसान सफर लगता है,यह मेरी माँ की दुआओं का ही असर लगता है।

Recent Posts