1292+ Krishna Bhakti Shayari In Hindi | श्री कृष्णा पर शायरी इन हिंदी

Krishna Bhakti Shayari In Hindi , श्री कृष्णा पर शायरी इन हिंदी
Author: Quotes And Status Post Published at: August 25, 2023 Post Updated at: November 5, 2023

Krishna Bhakti Shayari In Hindi : मन की आँखों को जब तेरा दीदार हो जाता है,मेरा तो हर दिन प्रिय मोहन त्यौहार हो जाता है। एक तरफ साँवले कृष्ण, दूसरी तरफ राधिका गोरीजैसे एक-दूसरे से मिल गए हों चाँद-चकोरी

तू है अर्जुन, ब्रह्मा का अवतार,समर्पण और साहस से तू कर सकता है विचार।

पर्दा ना कर पुजारी दिखने दे राधा प्यारी , मेरे पास वक्त कम हैं, और बाते हैं ढेर सारी। Click To Tweet

वो व्यक्ति सफल होता है, जो खुद के ऊपर फेंके पत्थरों से नीव तैयार कर लेता है

साँवरे को दिल में बसा कर तो देखो,दुनिया से मन को हटा के देखो,बड़े ही दयालु हैं बाँके बिहारी,एक बार चौखट पे दामनफैला कर तो देखो..✮🌷

राधा की चाहत हैं कृष्ण, उसके दिल की विरासत हैं कृष्ण, चाहे कितना भी रास रचा ले कृष्ण दुनिया तो फिर भी यही कहती हैं राधे कृष्ण राधे कृष्ण।

प्रेम के दो मीठे बोल बोलकर खरीद लो हमें,कीमत से सोचोगे तो पूरी दुनिया बेचनी पडेगी.

राधा कृष्ण का मिलन तो बस एक बहाना था, दुनियाँ को प्यार का सही मतलब जो समझाना था।।

तुम्हारी “चाहत” की,“हद” हो सकती है मगर,“दिल” की बात बताता हूॅ,मै “बेहद” तुम्हे चाहता हूॅ….!!राधे कृष्णा हरे कृष्णा….!!💛

प्रेम से श्री कृष्ण का नाम जपो, दिल की हर इच्छा पूरी होगी, कृष्ण आराधना में लीन हो जाओ, उनकी महिमा जीवन खुशहाल कर देगी…।।

आज फिर याद आ गए कान्हा मुझे .. तुमसे मिलने के कुछ प्यारे लम्हे फिर से तेरा चेहरा सामने नजर आया झील के नीले-नीले पानी में…!

अजीब नशा है, अजीब खुमारी है,हमे कोई रोग नहीं बस,जय श्री राधे कृष्णा, राधे कृष्णा बोलने बीमारी है….

एक तुम्हारे ख्याल में हमने ना जाने कितने ख्याल छोड़े हैं सांवरिया।।

हे कान्हा ! रूबरू होने का मौका रोज कहाँ मिलता है… इसलिए मैं तुम्हे शब्दों से छू लेती हूँ…!

जब प्रेम का सुरूर मेरे दिल पर छाता है, मेरा हृदय चारों तरफ राधा-कृष्ण को ही पाता है।

दिल तुमसे लगा बैठे है,प्रेम की राह पर सपने सजाएं बैठे है,हर किसी ने तोड़े है सपने हमारे,एक तू ही है कन्हैया जिससे हर उम्मीद लगाए बैठे है।

प्यार मे कितनी बाधा देखी,फिर भी कृष्ण के साथ राधा देखी🌺🌺

Radha Krishna Love Statusकिसी के पास ego हैं, किसी के पास attitude हैं,मेरे पास तो मेरा साँवरा हैं, जो बड़ा क्यूट हैं।राधे-राधे जय श्रीकृष्णा

आपके मन को अगर आप अपने वश में नही करेंगे तो वो आपके दुश्मन की तरह काम करना शुरू कर देगा।

किसी और का काम पूर्णता से करने से कहीं अच्छा हैकि अपना काम करें,भले ही उसे अपूर्णता से करना पड़े ।

जब भी राधा की आंख मेंआंसू आते है।तब तब कृष्ण का सहाराउनके पास ही होता है।

अगर तुमने राधा के कृष्ण के प्रति समर्पण को जान लिया, तो तुमने प्यार को सच्चे अर्थों में जान लिया।

कर भरोसा राधे नाम का, धोखा कभी न खायेगा, हर मौके पर कृष्ण, तेरे घर सबसे पहले आयेगा… जय राधे कृष्ण

हे कान्हा, तुम्हे पाना जरूरी तो नहीं, तुम्हारा हो जाना ही काफी हैं मेरे लिए। Thank u sir

चारों तरफ फैल रही हैं, इनके प्यार की खुशबू थोड़ी-थोड़ी कितनी प्यारी लग रही हैं, साँवरे-गोरी की यह जोड़ी।। Click To Tweet

जिनके लिए प्रेम एक पूजा हैउनके दिल में सदा राधे कृष्णा बसते हैं।

सच्चे भाव काकहां कोई द्वार होता है…जिस दर पर हरि मिलेवही हरिद्वार होता है…

एक तेरे ख्वाबो का शोक,एक तेरी याद की आदत,तू ही बता साँवरे…सोकर तेरा दीदार करूँ या जाग कर तुझे याद….💙

बड़ा मीठा नशा है कृष्ण की याद का..वक्त गुजरात गया और हम आदि होते गए.जय श्री कृष्णा

ज्यादा हंसने और बोलने वाला व्यक्तिअगर चुप हो जाए तो मान लेनावह भीतर से टूट चुका है।।

जो हुआ, वह अच्छा हुआ। जो हो रहा हैवह अच्छा हो रहा है।जो होगा,वह भी अच्छा ही होगा।तुम भूत का पश्चाताप न करो,भविष्य की चिंता न करो,वर्तमान चल रहा है।

जैसे राधा ने माला जपि श्याम के नाम की, मैं भी ओढू चुनरिया तेरे नाम की।

जिसकी लीला है निराली जिसके नाम से आती खुशहाली उस कृष्ण की दीवानी दुनिया सारी…।।

जन्माष्टमी के इस अवसर पर,हम ये कामना करते हैं कि श्री कृष्ण की कृपा आप पर,और आपके पूरे परिवार पर हमेशा बनी रहे..🌹

कान्हा को राधा ने प्यार का पैगाम लिखा,पुरे खत में सिर्फ कान्हा कान्हा नाम लिखा।

जिंदगी में दो लोगों का होना बहुत जरूरी है,एक कृष्ण जो ना लड़े फिर भी जीत पक्की कर दे,दूसरा कर्ण जो हार सामने हो फिर भी साथ ना छोड़े।

कोई प्यार करे तो राधा-कृष्ण की तरह करे जो एक बार मिले, तो फिर कभी बिछड़े हीं नहीं।

इस लेख को अंत तक पढने के लिए आपका धन्यवाद. आप सभी को दिल से देशी की ओर से जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनायें.

श्रद्धा का मतलब है आत्मविश्वास, और आत्मविश्वास का मतलब है, भगवान में विश्वास

अभी तो बस इश्क़ हुआ है,कान्हा सेमंजिल तो वृंदावन में ही मिलेगी.राधे राधे

सुनो कन्हैया जहाँ से तेरा मन करे, मेरी जिन्दगी को पड़ लो पन्ना चाहे, कोईं भी खोलो हर पन्ने पर तेरा नाम होगा मेरे कान्हा।।

भगवान को अर्पण करने के लिएहमारे पास है ही क्या?सब कुछ तो हमने उन्हीं से मांगा है।यहां तक कि हमारी सांसे भीउन ही की दी हुई है!!..

न हार चाहिए ना जीत चाहिए, जीवन में अच्छी सफलता के लिए परिवार और कुछ मित्र का साथ चाहियें।।

राधा की चाहत है कृष्णउसके दिल की विरासत है कृष्णचाहे कितना भी रास रचा ले कृष्णदुनिया तो फिर भी यही कहती हैराधे कृष्ण राधे कृष्ण

सावले सलोने कृष्णाराधा गोरी गोरी…वृंदावन में रास खेलनगए दोनों चांद चकोरी…राधे कृष्ण… राधे कृष्ण…

वो दिन कभी न आए,हद से ज्यादा गरूर हो जाये,बस इतना झुका कर रखना,“मेरे कन्हैया”की हर दिल दुआ देने को मजबूर हो जाये..🙏

झुका लो माथा राधे रमन के चरणों में, नसीब का बंद ताला भी खुल जाएगा।

काश मैं कोई ऐसा जुर्म करू की सजा मिले हर्जाने में,मेरा जीवन बीते वृंदावन में और मौत मिले बरसाने में..!!

प्रेम को भी खुद पर गुमान है क्योंकि, राधा-कृष्ण का प्रेम हर दिल में विराजमान हैं.

कभी कभी हम गलत नहीं होते है, लेकिन हमारे पास वो शब्द ही नही होते जो हमें सही साबित कर सके

माखन चुराकर जिसने खायाबंसी बजाकर जिसने नचायाख़ुशी मनाओ उनके जन्म दिन कीजिन्होंने दुनिया को प्रेम का रास्ता दिखाया

😇श्रीकृष्ण तेरी मेरी प्रीत पुरानी 🥹शक की ना गुंजाइश है 🙏रखना हमेशा चरणों में ही ☺️छोटी सी ये फरमाइश है 🚩जय श्रीकृष्ण 🚩

बाजार के रंगो में रंगने की मुझे जरुरत नहीमेरे कान्हा की याद आते हीये चेहरा गुलाबी हो जाता है

हर पल, हर दिन कहता है कान्हा का मन.तू कर ले पल-पल राधा का सुमिरन.

तुम्हारी ही तो ख्वाहिश है हमें राधे सारी दुनिया किसने मांगी है। tumhari hi to khwahish hai humein radhe sari duniya kisne mangi ha.

कृष्णा के कदमो पे कदम बढाते चलो,अब मुरली नही तो सीटी बजाते चलोराधा तो घर वाले दिलाएंगे ही,मगर तब तक गोपियाँ पटाते चलो।

सच्चे प्रेम में चाहे कितनीबाधाएं आ जाएलेकिन फिर भी कृष्ण के साथराधा ही होती है…राधे… राधे… राधे… राधे…

जो अपने मन पर नियंत्रण नहीं रखता, वह स्वयं का शनै शत्रु बनता जाता है।।

भरोसा अगर खुद पर रखो तो ताकत बन जाती है और दूसरों पर रखो तो कमजोरी बन जाती है,

एक तरफ साँवले कृष्ण, दूसरी तरफ राधिका गोरी जैसे एक-दूसरे से मिल गए हों चाँद-चकोरी।

मधुर मुस्कान और मोहक बातें,हर पल साथ रहती हैं ये दोनों की यादें।

तुम क्या मिले की साँवरे,मेरा मुकद्दर सवंर गया,उजड़े हुए नसीब का गुलशन निखर गया…

हर पल, हर दिन कहता हैं कान्हा का मन तू कर ले पल-पल राधा का सुमिरन।

दौलत छोड़ी शोहरत छोड़ी सारा खजाना छोड़ दिया,कृष्णा के प्रेम दीवानों ने सारा जमाना छोड़ दिया..!!

हर पल आंखों में पानी हैं चाहत में राधा दीवानी हैमैं हूँ तुझसे, तू हैं मुझसे, कान्हा बस यही कहानी हैं।

कान्हा जब तू मेरे साथ हैतो फिर मुझे क्या कमी हैतेरे विरह में इतना सुख हैतो विलास में कितना आनंद होगा!!…

यदि प्रेम का मतलब सिर्फ पा लेना होता, तो हर हृदय में राधा-कृष्ण का नाम नही होता।

मान, अपमान, लाभ-हानि खुश हो जाना या दुखी हो जाना यह सब मन की शरारत है।।

जिस व्यक्ति को आपकी कदर नहीं,उसके साथ खड़े रहने से अच्छा आप अकेले रहें.

जब हम स्वयं जीवन के शिल्पकार हैं, तो चलो हम अपनी मुश्किलें को हराते हैं, जीवन में मुस्कुराते हैं।।

कृष्ण के प्रेम की बंसी सुनकरहो गई राधा दीवानीजब जब कृष्ण बंसी बजाएदौड़ी जाए राधा रानीराधे कृष्णा… राधे कृष्णा…

मेरे भी कई जन्म हो चुके हैं, तुम्हारे भी कई जन्म हो चुके हैं, ना तो यह मेरा आखिरी जन्म है और ना यह तुम्हारा आखिरी जन्म है ।

एक तरफ साँवले कृष्ण, दूसरी तरफ राधिका गोरी जैसे एक-दूसरे से मिल गए हों चाँद-चकोरी।

Recent Posts