1292+ Krishna Bhakti Shayari In Hindi | श्री कृष्णा पर शायरी इन हिंदी

Krishna Bhakti Shayari In Hindi , श्री कृष्णा पर शायरी इन हिंदी
Author: Quotes And Status Post Published at: August 25, 2023 Post Updated at: November 5, 2023

Krishna Bhakti Shayari In Hindi : मन की आँखों को जब तेरा दीदार हो जाता है,मेरा तो हर दिन प्रिय मोहन त्यौहार हो जाता है। एक तरफ साँवले कृष्ण, दूसरी तरफ राधिका गोरीजैसे एक-दूसरे से मिल गए हों चाँद-चकोरी

फूट चुकी है किरणे सूरज की हो गई है भोर,ढूंढने लगी है राधा अपने कान्हा को चारो और..!!

जब सुकून ना मिले दिखावे की बस्ती में,तब खो जाना मेरे श्याम की मस्ती में..!!

जो सच्चे प्रेम को समझ पाता हैवही राधे कृष्णा को समझ पाता है

आपकी मोहिनी मुरत से हृदय को छूआ है,आपकी मुक्ति दर्शन से मन को शांति पाई है।

प्रेम में प्रेमियों की आत्मा एक हो जाती है,कोई बताएगा राधा से कृष्ण कब बिछड़े.

पता नहीं मजाक था या प्यार का पैगाम लिखा था, जब मैनें राधा और उसने श्याम लिखा था। Click To Tweet

प्रेम से राधा-राधा जपो हो जाएगा उद्धार,यही वो नाम है जिससे मोहन करते प्यार।

इस जगत में जिसनेराधा कृष्ण को नहीं जानावो प्रेम को क्या समझ पाएगा!!…

बहुत खुबसूरत है मेरे ख्यालो की दुनिया, बस कृष्ण से शुरू और कृष्ण पर ही खत्म !! राधे-कृष्णा

कितने सुंदर नैन तेरे ओ राधा प्यारी, इन नैनों में खो गये मेरे बांकेबिहारी।

इश्क़ तो राधा ने किया थाजिसको कृष्ण की दूरियां भी मंजूर थीऔर रुकमणी भी कबूल थी🌺🌺

कर भरोसा राधे नाम का,धोखा कभी न खायेगा….हर मौके पर कृष्णा,तेरे घर सबसे पहले आयेगा..*जय श्री राधेकृष्णा…

😎मेरा विश्वास ही 🔥मेरी सबसे बड़ी ताकत है 😍श्रीकृष्ण ये नाम ही काफी है 🙏जय श्री कृष्ण🙏

मुझे मालूम था की वो मेरा हो ही नहीं सकता मगर देखो मुझे फिर भी प्रेम हो गया उससे।

इश्क़ ही इबादत होने लगा है इंतज़ार फ़कत एक जन्म का नहीं लगता…

आज जन्माष्टमी की रात आई,कृष्णा जी की लीला जगाई।मन में प्रेम का आग जलाते हैं,कृष्णा भगवान को याद दिलाते हैं।

किसी की सूरत बदल गईकिसी की नियत बदल गईजब से तूने पकड़ा मेरा हाथ“राधे” मेरी तो किस्मत ही बदल गई

प्रेम के दो मीठे बोल बोलकर खरीद लो हमें,कीमत से सोचोगे तो पूरी दुनिया बेचनी पडेगी.✬

साँवरे को दिल में बसा कर तो देखो,दुनिया से मन को हटा के देखो,बड़े ही दयालु हैं बाँके बिहारी,एक बार चौखट पे दामनफैला कर तो देखो.

जब सुकून ना मिले दिखावे की बस्ती में तब खो जाना मेरे श्याम की मस्ती में।

बड़प्पन वह गुण हैं जो पद से नही सस्कारों से प्राप्त होता हैं, परायों को अपना बनाना उतना मुश्किल नही जितना अपनों को अपना बनाए रखना होता हैं।।

छोड़ दुनिया समाऊं तुझ मेंकुछ ऐसी कृपा दातार करोतेरे चरणों में रह जाऊंकुछ ऐसा मेरा हाल करोराधे कृष्ण… राधे कृष्ण…

कृष्णा राधा के निश्चल प्रेम कोये दुनिया क्या समझ पाएगी…जो खुद को शरीरों में बांधती हैवह आत्मा को क्या समझ पाएगी…

ऐसी नजर कहाँ से लाऊँ मेरे राधा कृष्णा कि आपको याद करूँ और दर्शन हो जाए

राधा कृष्ण का मिलन तो बस एक बहाना था,दुनियाँ को प्यार का सही मतलब जो समझाना था।

मन की आंखों से रब का दीदार करो, दो पल का है अंधेरा बस सुबह का इंतजार करो, क्या रखा है आपस के बैर में छोटी सी है जिंदगी सब से प्यार करो।

पैदा हुआ इन्सान, तब जितना वजन था..मृत्यु के उपरांत राख की ढेरी बन जाता है, तब भी उतना ही वजन रह जाता है।

आपके कर्म ही आपकी पहचान है, वरना एक नाम के हजारों इंशान हैं।।

अभी तो बस इश्क़ हुआ है,कान्हा से,मंजिल तो वृंदावन में ही मिलेगी…!

कृष्ण का नाम लो सहारा मिलेंगा,यह जीवन ना तुमको दुबारा मिलेगा !!

मोहे तेरी याद सताए रे, तेरे प्यार की बौछार छाए रे, राधा के नाम की माला सजाए रे, कृष्णा के संग रंगीन ख्वाब बुनाए रे।

कान्हा इन आंखों को जब तेरा दीदार हो जाता है दिन कोई भी हो मेरा तो त्यौहार हो जाता है

“व्यक्ति” जीवन में गलतियाँ करके उतना दुखी नहीं होता, जितना कि वह उन गलतियों के बारे में बार-बार सोचकर दुखी होता है।

राधा-कृष्णा ही प्रेम की सबसे अच्छी परिभाषा है, बिना कहे जो समझ में आ जाए, प्रेम ऐसी भाषा है।

हर मौके पर कृष्ण तेरे होंगे जब भी तुम उनको बुलाओगे

राधा के बिना अधूरा है ये जीवन, कृष्णा के बिना थमा है ये मन, प्रेम की बांसुरी बजाती है ये धड़कन, आओ मेरे कान्हा, कर दो मुझे अपना।

रूप बड़ा प्यारा है, चेहरा बड़ा निराला है, बड़ी से बड़ी मुसीबत को मेरे कान्हा ने पल भर में हल कर डाला है।

कृष्ण की प्रेम बाँसुरिया सुन भई वो प्रेम दिवानी, जब-जब कान्हा मुरली बजाएँ दौड़ी आये राधा रानी।

माखन चोर नन्द किशोर,बांधी जिसने प्रीत की डोर,हरे कृष्ण हरे मुरारी,पुजती जिन्हें दुनिया सारी,आओ उनके गुण गाएं सबमिल के जन्माष्टमी मनाये.

कान्हा तुझे ख्वाबों में पाकर दिल खो ही जाता हैं खुदको जितना भी रोक लू, प्यार हो ही जाता हैं।

श्याम तेरे मिलने का सत्संग ही बहाना है, दुनिया वाले क्या जाने ये रिश्ता पुराना है.

राधा की कृपा, कृष्णा की कृपा,जय पे हो जाए,भगवान को पाए,मौज उड़ाए,सब सुख पाए.जय श्री राधे

कर भरोसा राधे नाम का धोखा कभी ना खायेगा, हर मौके पर कृष्ण तेरे घर सबसे पहले आयेगा।

एक तरफ साँवले कृष्ण, दूसरी तरफ राधिका गोरी जैसे एक-दूसरे से मिल गए हों चाँद-चकोरी। Click To Tweet

कान्हा जी लो आज हम आपसे निकाह-ए-इश्क करते हैं. हाँ हमें आपसे मोहब्बत है मोहब्बत है , मोहब्बत है।।

जीवन के हर मोड़ पर तू जीता है,कृष्णा के आदर्शों को अपना मंत्र बना ले।

मैं भगवान को मन के मंदिरो में ढूंढता रहा,वो इंसानो के रूप में आकर मुझे राह दिखाता रहा..!!

राधा-राधा जपने से हो जाएगा तेरा उद्धार, क्योंकि यही वही वो नाम हैं जिससे कृष्ण को हैं प्यार। Click To Tweet

राधा कृष्ण का मिलन तो बस एक बहाना था, दुनियाँ को प्यार का सही मतलब जो समझाना था। Click To Tweet

चारों तरफ फैल रही हैं, इनके प्यार की खुशबू थोड़ी-थोड़ी कितनी प्यारी लग रही हैं, साँवरे-गोरी की यह जोड़ी।।

बड़ी बरकत है तेरे इश्क़ में कान्हा, जब से हुआ है कोई और दूसरा दर्द ही नहीं भाता!

इस जन्म जो तेरा प्यार मिले तोजन्म मरण से छूट जाऊं…तेरे चरणों में जगह मिले तोकान्हा मैं तेरी हो जाऊं…हरे कृष्ण… हरे कृष्ण…

राधा कृष्ण का मिलन तो बस एक बहाना थादुनिया को प्यार का सही मतलब जो समझाना था

प्यार दो आत्माओ का मिलन होता है ठीक वैसे ही जैसे.. प्यार में कृष्ण का नाम राधा और राधा का नाम कृष्ण होता है !!

अभी तो बस इश्क़ हुआ है कान्हा से,मंजिल तो वृंदावन में ही मिलेगी..!!

मैं कान्हा था, कान्हा हूँ, ओर कान्हा ही रहूँगा, फैसला तुझे करना हैं पगली, तुझे गोपी बनना हैं, मीरा बनना हैं, या मेरी राधा।

कान्हा को राधा ने प्यार का पैगाम लिखा, पूरे खत में सिर्फ कान्हा कान्हा नाम लिखा।

प्रेम पूरा हो तो श्री राम जैसा हो, और अधूरा हो तो राधे श्याम जैसा हो !

राधा के हृदय में श्याम,राधा की साँसों में श्याम,राधा में ही हैं श्याम,इसीलिए दुनिया कहती हैं,बोलो श्याम श्याम श्याम।

मुझे बैकुंठ भी मिले तो नहीं जाना, अपने ब्रजराज के इन चरणों की धुली से शोभित श्री वृंदावन धाम में जीना मरना है।

राधा की कृपा, कृष्णा की कृपा, जिस पर हो जाएभगवान को पाए, मौज उड़ाए, सब सुख पाए

भगवान को प्रेम के दो मीठे बोल से ही पा लिया करते हैंकीमत देकर तुम क्या दे सकोगेपूरी सृष्टि ही उसकी बनाई हुई है…

गोकुल मैं हैं जिनका वास गोपियो संग करे निवास देवकी यशोदा हैं जिनकी मैया ऐसे हैं हमारे कृष्ण कन्हैया।

प्रेम को भी खुद पर गुमान है क्योंकि, राधा-कृष्ण का प्रेम हर दिल में विराजमान हैं.

सुध-बुध खो रही राधा रानीइंतजार अब सहा न जाएँकोई कह दो सावरे सेवो जल्दी राधा के पास आएँ

जग में चमकेगी तेरी प्रभावशाली कहानी,कृष्णा की आदर्श जीवन-दर्शनी है ये कहानी।

जीवन ना तो भविष्य में है और नाही अतीत में, जीवन तो केवल कृष्णा के ध्यान में है !! जय श्री कृष्णा

कोई प्यार करे तो राधा-कृष्ण की तरह करे.जो एक बार मिले, तो फिर कभी बिछड़े हीं नहीं.मेरे राधा कृष्णा

राधे तेरे इश्क़ से मिली हैंमेरे वजूद को ये शोहरत…!मेरा जिक्र ही कहाँ थातेरी दास्तां से पहले….!!🌺🌺

🙏जय श्री कृष्ण🙏 👉Drama Queen👸🏻 👉Mom Dad Lover👩‍❤️‍👨 👉Royal Blood🩸 👉Unique Personality😎 👉Music Lover🎵 👉Login In The World 13 June🎂 👉Single😜

आई बागों में बहार, झूला झूले राधा प्यारी । झूले राधा प्यारी, हाँ झूले राधा प्यारी ॥

हे कान्हा, तुम संग बीते वक़्त का मैं कोई हिसाब नहीं रखती मैं बस लम्हे जीती हूँ, इसके आगे कोई ख्वाब नहीं रखती।

Recent Posts