82+ Kisi Ko Itna Bhi Mat Chaho Shayari In Hindi | Kisi Ko Itna Mat Chaaho - Sad Shayari

Kisi Ko Itna Bhi Mat Chaho Shayari In Hindi , Kisi Ko Itna Mat Chaaho - Sad Shayari
Author: Quotes And Status Post Published at: July 22, 2023 Post Updated at: June 15, 2024

Kisi Ko Itna Bhi Mat Chaho Shayari In Hindi : न हारा है इश्क़ और न दुनिया थकी है,दिया भी जल रहा है हवा भी चल रही है। अंजाम-ए-वफ़ा ये है जिसने भी मोहब्बत की,मरने की दुआ माँगी जीने की सज़ा पाई।

इस दिल ने अब प्यार करना छोड़ दिया,जिस दिन से तुमने यह दिल तोड़ दिया,अब तो रो भी नहीं सकते अपनी बेबसी पे,इन आँखों ने अब रोना भी छोड़ दिया !

दिल के दर्द को दिखाना बड़ा मुश्किल हैधोखा खा कर बताना बड़ामुश्किल है!

जिंदगी में हमने जिसको चाहा था वह हमें ना मिला,पत्थर से दिल लगाया था हमने दर्द के सिवा कुछ भी हमें ना मिला

प्यार करने का हुनर हमें नहीं आता,इसलिए प्यार की बाज़ी हम हार गए,हमारी जिंदगी से उन्हें बहुत प्यार था,शायद इसीलिए वो हमें ज़िंदाही मार गए

कोई भी रिश्ता अधूरा नहीं होता,बस निभाने की चाहत दोनों तरफ होनी चाहिए

दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बैठे,यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बैठे,वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का,और हम उनके लिए जिंदगी लूटा बैठे !!

जल्द महसूस होगा तम्हें,कि मेरा होना क्या था,और मेरा ना होना क्या है

चुप रहना मेरी ताक़त है कमज़ोरी नहीं,अकेले रहना मेरी चाहत है,मजबूरी नहीं।

प्यार करके किसी को धोखा नही देना,दोस्तों को आंसुओ का तोहफा नही देना,कोई रोये आपको याद करके,जिंदगी में कभी ऐसा मौका नही देना

आज तेरी याद को सीने से लगा कर हम रोए ,हम तुझें तन्हाई में पास बुलाकर रोए ,पाना तो बहुत चाहा था हर बार तुझें ,पर हर बार तुझें न पाकर हम रोए

तेरे बिना जीना मुश्किल है,ये तुझे बताना और भी मुश्किल है।

काश कोई हम पर भी इतना प्यार जताती,पीछे से आकर वो हमारी आँखों को छुपाती,हम पूछते की कौन हो तुम,और वो हँसकर खुद को हमारी जान बताती

टूटता हुआ तारा सबकी दुआ पूरी करता हैक्योंकि उसे टूटने का दर्द मालूम होता है !

कभी किसी को इतना मत चाहो के,एक वक़्त ऐसा आये तुम उसे भूल ही ना पाओ।

हम तन्हाई में रोते हैं ,मगर सीख लिया है महफ़िल में मुस्कुरानाअब नहीं है मुझे तेरी ज़रूरत ,कभी लौट कर मत आना

मैं तो आईना हूँ टूटना मेरी फितरत है,इसलिए पत्थरों से मुझे कोई गिला नहीं।

हर घड़ी इस जिंदगी को आज़माया है हमने,इस जिंदगी में सिर्फ गम पाया है हमने,जिस ने हमारी कभी कदर ही न जानी,उस वेबफा को इस दिल में बसाया है हमने

ना ढूंढ मेरा किरदार दुनिया के भीड़ में,वफ़ादार तो हमेशा तन्हा ही मिलते है

प्यार हर किसी को जीना सिखा देता है,वफ़ा के नाम पर मरना सिखा देता है,प्यार नही किया तो करके देखो,ये हर दर्द सहना सिखा देता है

चेहरे से खूबसूरत तो हमसे और भी मिल जाएंगे ,पर बात दिल पे आएगी न तो हार जाओगे

नही है शिकवा हमे किसी की बेरुखी से,शायद हमे ही नही आता किसी के दिल में घर बनाना !!

सच्चा इश्क किया है तो अब बेवफाई के गीत हम ही गायेंगे,बेवफाई में तेरा नाम न उठे इसलिए हम आंशुलेकर हर शहर में मुस्कुरायेंगे !!

हकीकत कहो तो उन्हें ख़्वाब लगता हैशिकवा करो तो उन्हें मज़ाक लगता हैकितनी सिद्दत से हम उन्हें याद करते हैंऔर वो एक है जिन्हे ये सब मज़ाक लगता है !!

प्यार हुआ बस हो गया! फिर अचानक से खो गया।

धोखा खाए इंसान को टूटने के लिए नहींबल्कि खुद को समेटने के लिएहिम्मत चाहिए !!

अफ़सोस तो इस बात का है कीउसे मेरी कमी से कोई गम नहीं !!

अब सोचते हैं लाएँगे तुझ सा कहाँ से हम,उठने को उठ तो आए तेरे आस्ताँ से हम।

खुद को माफ़ नहीं कर पाओगे,जिस दिन जिंदगी में हमारी कमी पाओगे

न हारा है इश्क़ और न दुनिया थकी है,दिया भी जल रहा है हवा भी चल रही है।

जब भी थोड़ा वक़्त मिले बात कर लिया करो,धड़कनों का क्या भरोसा कब धड़कना बंद कर दे !

नींद से जाग कर उठ बैठती हूँ, ख्वाब तुम्हारा मैं जब देख लेती हूँ।

साथ रहना था ही नहीं तो तुमने हमसे नाता क्यों जोड़ा.हमे धोखा देकर तुमने हमे कही कानहीं छोड़ा !

मैंने उनसे प्यार किया,यह मेरे प्यार की हद थी,मैंने उनपे एतबार किया,यह मेरे एतबार की हद थी,मर कर भी खुली रही मेरी आँखें, यह मेरे इन्तेजार की हद थी!!!

मेरी चाहत ने उसे खुशी दे दी,बदले में उसने मुझे सिर्फ खामोशी दे दी,ख़ुदा से दुआ मांगी मरने की लेकिन,उसने भी तड़पने के लिए जिंदगी दे दी !

जब भी टुटो अकेले में टूटना क्योंकि यह दुनिया तमाशा देखने में माहिर है।

अनजाने से दिल लगा बैठे हम,इस प्यार में धोखा खा बैठे हम ,उनसे क्या गिला करे, अरे भूल तो हमारी ही थी,जो बिना दिल वालों से दिल लगा बैठे हम !

मुझे मालूम है, तुम खुश हो मेरी जुदाई से !अब ख्याल रखना अपना, तुम्हेँ तुम जैसा ना मिल जाए कोई !!

अच्छी लगती है ये खामोशियाँ भी अब,हर किसी को जवाब देने का सिलसिला ख़त्म हो गया।

अगर मिले प्यार में बेवफाई तो गम ना करना,आँखे अपनी किसी के लिए नम ना करना,करने दो लाख नफरते उसे तुमसे,पर तुम अपना प्यार कभी उसकेलिए कम न करना !!

धोखा दिया था जब तूने मुझे,जिंदगी से मैं नाराज था,सोचा कि दिल से तुझे निकाल दू , मगर कंबख्तदिल भी तेरे ही पास था !!

इस मतलबी दुनिया में किसी से दिल न लगाना ,बिन बुलाए आने वाले अक़्सर बिन बताए चले जाते हैं

ढूढने पर वही मिलेंगे जो खो गये थे,वो कभी नही मिलेंगे जोबदल गये हैं

अंजाम-ए-वफ़ा ये है जिसने भी मोहब्बत की,मरने की दुआ माँगी जीने की सज़ा पाई।

मुझे पता होता की,समय के साथ बदलना होता है,तो शायद मैं भी बदल जाता !!

वक्त के बदल जाने से इतनी तकलीफ नही होती है,जितनी किसी अपने के बदल जाने से तकलीफ होती है।

ऐ दिल तू समझा कर बात को,जिसे तू खोना नही चाहता वो तेरा होना नही चाहता !

उदास छोड़ गया वो मुझको,खील उठता था मैं जिसके मुस्कुराने से।

पढ़ाई की उमर मे किसी लड़की से दिल मत लगाना दोस्तोदिल लगाना ही है तो किताबों से लगाओ यारअगर बेवफा भी निकल गयी तो काबिल बनाकर ही छोड़ेगी

कमबख्त दिल को अग़र इश्क़ में लगाओगे,लिख के ले लो धोखा ज़रूर पाओगे !!

वजह बता देते मुझे छोड़ने की,नाराज़ थे मुझसे या हज़ार थे मुझ जैसे

उन परिंदों को क़ैद रखना मेरी फितरत नहीं ,दिल के पिंजरे में रहकर जो दूसरों के साथ उड़ने का शौक़ रखते हों !

ज़रा सी ज़िंदगी है अरमान बहुत है,हमदर्द नहीं कोई पर इंसान बहुत है,दिल का दर्द सुनाए किसको,जो शख्सदिल के करीब है वो अंजान बहुत है

शायरी उसी के लबों पे सजती है साहेबजिसकी आँखों में इश्क़ रोता हो

सौ बार कहा दिल से, चल भूल जा उसे,सौ बार कहा दिल ने, तुम दिल से नही कहते !

हजारों महफिलें है और लाखों मेले है,पर जहाँ तुम नहीं वहाँ हम अकेले है।

सुक्रिया तुमने एक हंसते हुए चेहरे को खामोश कर दिया।

ज़िंदगी से क्यूँ रूठ गए हो तुम,इतने मायूस क्यूँ हो गए हो तुम,ज़रूर तुम्हारा किसी ने दिल तोड़ा है,जो इतने बे परवाह हो गए हो तुम

न हारा है इश्क़ और न दुनिया थकी है,दिया भी जल रहा है हवा भी चल रही है।

नफरत करनी है तोइस कदर करनाकी हम दुनिया से चले जाए परतेरी आँख में आँसू न आए

पल पल उसका साथ निभाया हमनेउसके एक इशारे पे दुनिया छोड़ जाते हमसमुंदर के बीच में पहुँच कर फरेब किया उसनेवो कहती तो किनारे पर ही डूब कर मर जाते हम !

पागल है कितना ये दिल मेरा जिसे पता है की,वो बेवफा है फिर भी उसे वो दिल में रखता है!

तुम्हारे छोड़ जाने के बाद अकेला ना रहा मैं,तन्हाई हर वक़्त मेरे साथ रहती है।

ऐ दिल मत कर इतनी मोहब्बत किसी से,इश्क में मिला दर्द तू सह नहीं पायेगा,टूट कर बिखर जायेगा अपनों के हाथों,किसने तोड़ा ये भी किसी से कह नहीं पायेगा !

सारी दुनिया के रूठ जाने की परवाह नहीं मुझे,बस एक तेरा खामोश रहना मुझे तकलीफ देता है।

बड़ी हसीन थी ज़िंदगी जब ना किसी से मुहब्बत ना किसी से नफ़रत थी!ज़िंदगी में एक मोड़ ऐसा आया मुहब्बत उससे हुई औरनफ़रत सारी दुनिया से हो गयी

वो करते है मोहब्बत की बात,लेकिन मोहब्बत के दर्द का उन्हें एहसास नही,मोहब्बत तो वो चाँद है जो दिखता तो है सबको,लेकिन उसको पाना सबके बस की बात नही

दस्त-ए-तक़दीर से हर शख्स ने हिस्सा पाया,मेरे हिस्से में तेरे साथ की हसरत आई।

चाहत की राह में बिखरे अरमान बहुत हैं,हम उसकी याद में परेशान बहुत हैं,वह हर बार दिल तोड़ती है ये कह कर कि,मेरी उम्मीदों की दुनिया में अभी मुकाम बहुत हैं

किसी को इतना मत चाहो कि भुला न सको,यहाँ मिजाज बदलते हैं मौसम की तरह।

दिल पत्ते जैसा होता है,एक बार टूट गया तो,दोबारा नहीं जुड़ेगा !!!

जिंदगी किसी के लिए नही बदलती,बस जीने की वजह बदल जाती है !

बहुत रोओंगे तुम एक दिन मेरे लिए, और कहोगे एक पागल थी, जो पागल थी सिर्फ मेरे लिए।

Recent Posts