830+ Kedarnath Shayari In Hindi | केदारनाथ शायरी स्टेटस

Kedarnath Shayari In Hindi , केदारनाथ शायरी स्टेटस
Author: Quotes And Status Post Published at: September 19, 2023 Post Updated at: June 10, 2024

Kedarnath Shayari In Hindi : तमन्ना है मरने से पहले मुझे भी ये मंजर नसीब हो केदारनाथ की राहों से गुजरती हवा मुझे भी मेहसूस हो। तू भस्म का श्रृंगार है मेरा पहला और आखिरी प्यार है सबके लिये तो देव है तु पर मेरे लिये संसार है। जय श्री महाकाल.

जटाओं के धारी, भक्तों का समूह,केदारनाथ के दर पर आते हैं सब रुप।

मेरे ऊपर दूसरा वाला सटीक बैठता हैं मैं राजीव जी से उम्र में काफी छोटा था इस लिए उन्होंने इस बात को काटना ही उचित माना

केदारनाथ में मिलता है आत्मीयता का अनुभव,भक्तों को देता है शांति और सुख का आदर्श।

“ केदार की घाटीऔर मौसम सुहाना दिलमें केदार और मैकेदारनाथ का दीवाना….!!

सर्व सृष्टी ज्यांच्या शरणात आहे, नमन त्या महादेवाच्या चरणात आहे.mahadev quotes marathi

कर्ता करे न कर सकै शिव करै सो होय तीन लोक नौ खंड में महादेव से बड़ा न कोय…।।

“ मेरे बाबा केदारनाथउनको भी खुश रखे,जो एक दिन भी खुशनहीं देख सकते हमें…..!!!

कर से कर को जोड़कर शिव को करू प्रणाम हर पल शिव का ध्यान धर सफल होवें सब काम…।।

बाबा भोलेनाथ की कृपा जिन भक्तों पर होती हैवही केदारनाथ जाते है और ज्योतिर्लिंग का दर्शन पाते है

लोग पूछते हैं कौन-सी दुनिया में जीते हो ! हमने भी कह दिया महाकाल कि भक्ति में, दुनिया कहा नजर आती है !

मेरी दुनिया में इतनी जो शौहरत है, मेरे बाबा केदारनाथ की बदौलत हैमेरे लिये तो मेरे केदारनाथ महादेव ही मेरी सबसे बड़ी दौलत है

“ किसी ने मुझसे कहाइतने ख़ूबसूरत नहीं हो तुम,मैंने कहा केदारनाथ महादेवके भक्त खूंखार ही अच्छे लगते हैं…!!

जहाँ झरने भी बाबा भोलेनाथ का नाम लेकर बहते है,इस जहाँ के उस स्वर्ग को केदारनाथ धाम कहते है.

कोई मुझसे मेरा सब कुछ छीन सकता हैं, पर महाकाल की दीवानगी, मुझसे कोई नही छीन सकता। जय महाकाल।

महादेवच स्वर्ग आहेतमहादेवच मोक्ष आहेत

झुकता नही शिव भक्त किसी के आगे, वो काल भी क्या करेगा महाकाल के आगे।

“ मैं सारी दुनिया घूमना नहीं चाहूँगा,जब बाबा बुलाएँगे तोकेदारनाथ आऊंगा…!!

“ जिंदगी की हर सुख औरसारी ख्वाहिश एक तरफ,तेरे साथ केदारनाथ जानेकी तमन्ना एक तरफ….!!!

जिस जगह वास करते हैं भोलेनाथ, उस जगह को कहते हैं हम केदारनाथ।

भावार्थ : हे उग्ररूपधारी यजमान सदृश आपको नमस्कार है । सोमरूप अमृतमूर्ति हे महादेव ! आपको नमस्कार है ।

“केदारनाथ मंदिर धार्मिक एवं सांस्कृतिक ट्राइब्स के लिए जीवन की एक महत्त्वपूर्ण यात्रा है।”

मैं सारी दुनिया घूमना नहीं चाहूँगाजब बाबा बुलाएँगे तो केदारनाथ आऊंगा

कविता यथार्थ के बिना जीवित नहीं रह सकती और दूसरी ओर यथार्थवाद के अलावा वह एक ख़ास तरह की विचार-परंपरा से भी जुड़ी होती है।

“केदारनाथ यात्रा आपके मन में आत्मविश्वास का बढ़ता है।”

“ महादेव तुझसे इतना प्यार है किमेरी खुशियों का हरदिन एक सोमवार है…!!!

मेरी दुनिया में इतनी जो शौहरत है, मेरे बाबा केदारनाथ की बदौलत हैमेरे लिये तो मेरे केदारनाथ महादेव ही मेरी सबसे बड़ी दौलत है

केदारनाथ धाम, पवित्र और न्यारा,जगत के मन को बहुत भाता है प्यारा।

जब भी दुखी हो तू नाम ले बाबा केदारनाथ काबाबा केदारनाथ का नाम देगा, तुझे बहुत आराम।

विशुद्धज्ञानदेहाय त्रिवेदीदिव्यचक्षुषे।श्रेय:प्राप्तिनिमित्ताय नम: सोमाद्र्धधारिणे।।

हम बाबा केदारनाथ के दिवाने है, तान के सीना चलते है ।ये बाबा का जंगल है, जहाँ शेर करते दंगल है

हर आस को छोड़, सजदे में तेरे खुद को सौंपने आए है 🔱 Mere #mahadev देख तेरे दर केदारनाथ पे आए है 🙏🙏

स्वर्ग कहूं या केदारनाथ बात तो एक ही है

नमस्ते भगवान रुद्र भास्करामित तेजसे । नमो भवाय देवाय रसायाम्बुमयात्मने ॥

मौत का डर उनको लगता है, जिनके कर्मों मे दाग है ।हम तो महाकाल के भक्त है, हमारे तो खून में ही आग है ।🌻Jai Shree Mahakal🌻

ना चाहुँ सुख महलो का ना कोई वैभव माँगू देदे बाबा थोड़ी जगह अपनी चरणों में मैं भी अपना जीवन सँवारु। || हर हर महादेव ||

महाकाल कि महेफिल में बैठा किजिये साहब । बादशाहत का अंदाज खुद ब खुद आ जायेगा।

मुझको तसल्ली है ये के होने तलक रात हम दोनों साथ है

संसारसृष्टिघटनापरिवर्तनाय रक्ष: पिशाचगणसिद्धसमाकुलाय । सिद्धोरगग्रहगणेन्द्रनिषेविताय शार्दूलचर्मवसनाय नम: शिवाय ॥

ना जीने की खुशी न मौत का गम, जब तक है दम महादेव के भक्त रहेंगे हम ! हर हर महादेव !

जो अपने को चाहें वह अपना हैमेरा केदारनाथ जाने का सब से बड़ा सपना है

बाबा हृदय में तेरा वास हो, दुःख-सुख में तेरा साथ होजब आये आखिरी वक़्त, जुबां पर नाम केदारनाथ हो

सबसे बड़ा तेरा दरबार है तू ही सब का पालनहार है सजा दे या माफी महादेव तू ही हमारी सरकार है

जब भी मेरा स्वर्ग देखने का मन होता हैं तो एक चक्कर मेरा केदारनाथ की ओर हो आता है।

ना कोई हमारा ना हम किसी के हैंबस एक महादेव ही है और हम उसी के हैं..हर-हर महादेव

“ एक ही फर्क हैस्वर्ग और केदारनाथ मेंस्वर्ग में देव औरकेदारनाथ में महादेव…!!!

“ मौसम सर्द और नज़ारा रात कासाथ तेरा और सफर केदारनाथ का…!!

महाकाल आपसे छुप जाए मेरी तकलीफ ऐसी कोई बात नही तेरी भक्ति से ही पहचान है मेरी वरना मेरी कोई औकात नही.

“केदारनाथ मंदिर हिन्दुओं की एक महान धार्मिक स्थल है।”

जिनके मन में श्रद्धा नहीं होती है वही कहते है भोलेनाथ का दरबार दूर है जिनके मन श्रद्धा होती है वो केदारनाथ जाते जरूर है।

“ जब भी दुखी हो तू नाम ले बाबा केदारनाथ का बाबा केदारनाथ का नाम देगा,तुझे बहुत आराम…!!

एक ही फर्क है स्वर्ग और केदारनाथ मेंस्वर्ग में देव और केदारनाथ में महादेव

“ केदारनाथ महादेव एकतुम्हें ही देखने की चाह,तन्हा रखती हैख्यालों की भीड़ में भी…..!!

संग चल रहे हैं संग चल रहे हैं धुप के किनारे छाव की तरह..

“ तुम्हारे नाम से शुरू,मेरे नाम का प्रेममेरे जीवन की अंतिमसांस तक का व्रत है…!!

खौफ फैला देना नाम का कोई पुछे तो कह देना, भक्त लौट आया है महादेव का !!

हे महाकाल मेरे गुनाहों को माफ कर देना क्योंकि, मैं जिस माहौल में रहेता हूँ उसका नाम है दुनिया ! जय महाकाल की !

दुनिया में अमीर भी रोता है गरीब भी रोता है जो रहता है महादेव के करीब बस वही चैन से सोता है

दक्षप्रजापतिमहाखनाशनाय क्षिप्रं महात्रिपुरदानवघातनाय । ब्रह्मोर्जितोर्ध्वगक्रोटिनिकृंतनाय योगाय योगनमिताय नम: शिवाय ॥

काल की आँखो में आँखे डाल के वही देख सकता है, जिसकी निगाहो मै महाकाल बसते है

जिनके रोम-रोम में शिव हैं वही विष पिया करते हैं जमाना उन्हें क्या जलाएगा ,जो श्रृंगार ही अंगार से किया करते हैं,जय भोलेनाथ.

“ ना कोई हुनर मेरे पास है,ना भाग्य मेरे साथ हैफिर भी रहता हूं मैंबेफिक्र क्योंकि महादेव मेरे पास है…!!!

जब भक्ति का प्रसाद पाएंगे, जब बाबा भोलेनाथ बुलाएंगेउठाकर झोला अंजान राहो से, तभी हम केदारनाथ जाएंगे

बड़ा थका-हारा हूँ अपनी गोद में सुला ले,भोले बाबा मुझे भी केदारनाथ बुला ले. – महाकाल स्टेटस।

“ बाबा भोलेनाथ की कृपाजिन भक्तों पर होती हैवही केदारनाथ जाते हैऔर ज्योतिर्लिंग का दर्शन पाते है…!!

“केदारनाथ यात्रा पूरी भीतरी शांति और सुख लाती है।”

“ भोले का भक़्त हूँ मैं महाकांल का चेलाकिसी दिन अपने पे आ गया अगर मैंपूरा सिस्टम हिला दूँगा अकेला…!!!

वो सफर हसीं जरूर होगा अगर वो सफर केदारनाथ की ओर जाने का होगा।

बाबा भोलेनाथ के भक्त हैं हम एक बार तो जरूर केदारनाथ होकर आएंगे हम।

एक ही फर्क है स्वर्ग और केदारनाथ मेंस्वर्ग में देव और केदारनाथ में महादेव

“ शेरो वाली दहाड़ फ़िर सुनाने आए हैं,आग उगलने को फ़िर परवाने आये हैं,रास्ता भी छोड़ दिया स्वयं काल ने,जबदेखा उसने महाकाल के दीवाने आए हैं…!!

मैं सारी दुनिया घूमना नहीं चाहूँगा जब बाबा बुलाएँगे तो केदारनाथ आऊंगा। Me sari duniya ghumna nahi chahunga jab baba bulayenge to kedarnath aaunga.

“ जमाने से हारा हूं बाबा,अपनी गोद में बुला लेजनम जनम के पापों को,क्षण भर में भुला दे..!!

Recent Posts