2150+ Kasam Shayari In Hindi | कसम पर शायरी

Kasam Shayari In Hindi , कसम पर शायरी
Author: Quotes And Status Post Published at: October 2, 2023 Post Updated at: October 25, 2023

Kasam Shayari In Hindi : कसम से बहुत सताते हो तुम,अक्सर बिना आवाज, बिना दस्तक, दबे पाँव,मेरे ख्यालों में चले आते हो तुम… हम तुम्हे कभी खोना नहीं चाहते,कसम खुदा की तुम्हारे सिवा,हम किसी और के होना नहीं चाहते…

कौन कहता है जनाब झुठी कसमें खाने से मरते है मेरे मेहबूब ने तो हर कसम मेरी झुठी खयी है।।

एक यादों का ही रिश्ता है जो नहीं छुटता…!!! ~ वरना तो इक मुद्दत हुई उनको हमसे दूर हुए…..!!!

चाँद सी शक्ल जो अल्लाह ने दी थी तुम को, ~ काश रौशन मिरी क़िस्मत का सितारा करते

मकान बन जाते है कुछ दिनों में, ये पैसा कुछ ऐसा है, और घर टूट जाते है चंद पलों में, ये पैसा ही कुछ ऐसा है…!!! 167

मेरी दहलीज़ पे आ रुकी है दस्तक ऐ मुहब्बत ~ मेहमान नवाज़ी का शौक़ भी है और उजड़ जाने का खौफ़ भी!!!

ना चाहकर भी मेरे लब पर ये फ़रियाद आ जाती है ऐ चाँद सामने न आ किसी की याद आ जाती है…!!!

घर का अँधेरा देख तू , आकाश के तारे न देख..!

जो लम्हा साथ है उसे जी भर के जी लेना, ये कमबख्त जिन्दगी भरोसे के काबिल नहीं है !

लोगों को लगता है कि फैशन-परस्त है बंदा बड़ा सूट-बूट के सहारे अपनी मायूसी ठहरने नहीं देता …

दिमाग पर जोर लगा कर गिनते हो गलतियां मेरी,कभी दिल पर हाथ लगा कर पूछना की कसूर किसका था.

सब्र कहता है रफ्ता रफ्ता मिट जाएगा दाग ~ दिल कहता है बुझने की ये चिंगारी नहीं!!

जो खोया है उस से बेहतरीन पाएंगेसब्र रख मेरे दोस्त दिन अपने भी आयेंगे !

हम ना रहें भी तो हमारी यादें वफा करेंगी तुम से, ये ना समझना की तुम्हें चाहा था बस दो दिन के लिए !!

हमारा ध्यान रखते रखतेजो खुद को भूल जाती हैदुनिया में वो एक ही शख्सियत हैजो माँ कहलाती है

“ईमानदार होना शिखर पर पहुंचने का सबसे सरल रास्ता है।”

सोचा था बताएंगे सब दुख दर्द तुमको, ~ पर तुमने तो इतना भी ना पूछा की खामोश क्यूँ हो ….!!!!

मैं अकेला जरूर हू पर अपनेदिल का बादशाह हू!💯🔥🤞🏻

मेरी कामयाबी से जलने वालोये मेरे हक़ की कमाई हैमैन तेरे बाप के पैसों की रोटियां नही खाई है

हम तो😯 वो विलेन है🙏 जो शराफत✊ की उम्मीद, तो खुद🤨 से भी नही❌ करते😅😅😅

“हे भगवान, तुम उन्हें स्वर्ग में हीजगह देना जिन्होंने मुझे 9 महीनेअपनी कोख में जगह दी”।

अरे बदमाश क्या करेगा मेरी हिस्ट्री जान केप्यार से दो बात करले हमें अपना जीजा मान के

तेरे पास आने को जी चाहता है ~ नये ज़ख्म खाने को जी चाहता है

जिनके😏 मिज़ाज दुनियाँ🌍 से अलग😣 होते है,महफ़िलों 😇मैं चर्चे उन्ही😱 के ग़जब होते है.🔥🔥🔥

Attitude😎 तो बचपन से 👍है, जब 🤨पैदा हुआ तो 😱डेढ़ साल मैंने😇 किसीसे 😅बात नही की ❌❌

जाने क्यूँ बरसने से, मुकर जाता है हर बार, ~ मेरे हिस्से में आया है, जो टुकड़ा बादल का…

जो शख्स तुम्हे अल्लाह की तरफ ले जाये, उससे मोहब्बत नहीं बल्कि बेशुमार मोहबत करे।

इस Kasam Shayari DP की मदत से, आप की कसम, किसी दूसरे के साथ हम जीना तो क्या, मरना भी नहीं चाहते हैं..आप तो उनके प्यार में खुद को डूबा चुके हो.

जब करें तुमको उदास, तुम कर देना हमको माफ़, जानती हो मोहब्बत में कच्चा हूँ, अभी तो मैं मोहब्बत में बच्चा हूँ।

सुकून चाहते हो तो नमाज़ पढ़ो, और अगर सेहत चाहते हो तो रोज़ा रखो।

एक वादा तुमने भी किया थातुम भूल गए शायदकसमें तुमने भी खाई थीतुम भूल गए शायद।

इश्क़💙 कर लीजिये बेइंतेहा किताबों📚 से, एक☝️ यही हैं जो अपनी बातों🗣 से पलटा ❌नहीं करतीं!

रख लूँ अपने हाथों से कफन मेरी लाश पर; ~ कि तेरे दिए जख़्मों के तोहफे कोई और ना देख ले।।

खुद को अच्छा बना लीजिये, ~ दुनिया से एक बुरा इंसान कम हो जायेगा..!!

दोस्तों मैंने पूरी रात जन्नत की सैर कर ली।लेकिन जब सुबह आंख खुली तोमैंने अपना सर माँ की गोद में पाया।

उसने होठो से छू कर दरिया का पानी गुलाबी कर दिया… हमारी तो बात और थी उसने मछलियों को भी शराबी कर दिया….!!

हमारे इश्क का अंदाज कुछ अजीब सा था दोस्तों, लोग इन्सान देखकर मोहब्बत करते है, हमनें मोहब्बत करके इन्सान देख लिया…!!

चमन वालों ख़ुदा हाफ़िज़ क़फ़स में ले चली ग़र्दिश, वतन में ग़र अँधेरा हो तो मेरा घर जला देना… ****************************************

“जब रास्तों पर चलते चलते ध्यान मंजिल का हो तो आप सही रास्ते पर हैं I”

ज़िंदा है शाहजहाँ की चाहत अब तक, गवाह है मुमताज़ की उल्फत अब तक, .. जाके देखो ताज महल को ए दोस्तों, पत्थर से टपकती है मोहब्बत अब तक..

छुपे छुपे से रहते हैं, सरेआम नहीं हुआ करते.. कुछ रिश्ते बस एहसास होते हैं, उनके नाम नहीं हुआ करते..!

“सुना है वक्त बदलना मुश्किल है, पर मेरे हौसले के सामने ये भी पस्त पड़ गई।”

तुम्हें मालूम था कि मैं गरीब हूँ, फिर भी ~ तुमने मेरी हर चीज़ तोड़ दी…

गुनाह होता तो सज़ा भी दे देते उन्हें जनाब,वो तो मुस्कुरा कर बस अपनी कसम दे गए ।

बहुत 🔥जलने लगा 🤟है जमाना🌍 सारा💫क्योंकि 🤨चलने लगा😌 है नाम हमारा 😎😎

जीवन की सबसे बड़ी ख़ुशीउस काम को करने में हैं जिसे लोगकहते हैं. “तुम नहीं कर सकते”

गुफ्तगू बंद न हो बात से बात चले ~ नजरों में रहो कैद दिल से दिल मिले!

बहुत रोया हूँ मैं जब से ये मैं ने ख़्वाब देखा है कि आप आँसू बहाते सामने दुश्मन के बैठे हैं

हवाओं की तबाही को सभी चुपचाप सहते हैं। च़रागों से हुई गलती तो सारे बोल जाते हैं।।

तुम… मैं… हम… भीड़, बस इतनी सी हो…

हजारो खुशिया देखकर भीदिल कभी खुश ना रहाना जाने क्या बात थीउसके एक झूठे वादे मेंदिल में रौनक सी आ गई।

तू दिल के करीब होकर भी दूर है,दिल तेरी ही वजह से इतना मजबूर है,तेरे बिना मेरा बहुत बुरा हाल है,ये दिल अब पत्थर की तरह चूर चूर है.

“हमे उन लोगों को जरूर धन्यवाद कहना चाहिए जो हमें हमेशा उत्साहित करते हैं।”

बुरा वक्त भी कमाल का हैं,जी कहने वाले भी,तू कहने लगते जाते हैं…Bura waqt bhi kamal ka hain,Ji kahne wale bhi,Tu kahne lag jate hain..

ना ❌पैसा लगता हैं💰 ना ख़र्चा लगता 👎हैं, स्माइल 😌कीजिये बड़ा👍 अच्छा लगता हैं…💫💫💫

मोहब्बत कभी झूठी नही होती है,झूठे तो कसमे, वादे और लोग होते हैं.

महफिल सजी थी लफ्जों में दुनिया जहान की मेरी शायरी का नाम तब तलाश नहीं था!!!

अजब क़िस्म के अन्धो से मिलता हूँ रोज़… वो जो पत्थर में खुदा ढूंढ लेते हैं मगर दिल में नहीं..

आधे से कुछ ज़्यादा है… पूरे से कुछ कम, कुछ जिन्दगी, कुछ ग़म, कुछ इश्क, कुछ हम.

इस क़दर कीमती तो नहीं था मेरा चैन-ओ-सुकून, लूट कर ले गया कोई अनमोल खज़ाने की तरह…!! ****************************************

Mother Ke Liye Shayariजिसके होने से मैं खुद को मुक्कम्मल मानता हूँमेरे रब के बाद मैं बस अपनी माँ को जानता हूँ

चलो मान लिया हमने की है बेवफाई वो इसलिए ताकि उन पर इल्जाम ना आय कोई!!! ****************************************

जरूरतों की फिकर में आँखें जाग रही हैं, बस इसी तरह हमारी जिन्दगी भाग रही है !

चलो..तलाशते है..कोई तरीका ऐसा… मंद “हवा” भी चले… और “चिराग” भी जले…!!!

दिल टूटा है सम्भलने में कुछ वक़्त तो लगेगा, हर चीज़ इश्क़ तो नहीं कि एक पल में हो जाए..! *************************************

गिनती ठीक से सीखा नहीं उस बच्चे ने… मगर इतना मालूम हैं खुशियाँ बांटने से बढती हैं …

सपनों 😰 की दुनिया में हम खोते चले गए, 😜 मदहोश न थे पर मदहोश होते चले गए, 😍 ना जाने क्या बात थी उस चेहरे में, ना चाहते हुए 😀 भी उसके होते चले गए।

हम वो है जो बात से जातऔर हरकतों से औकात नाप लेते हैं.!

खुदा करे कोई इश्क़ का शिकार ना हो;जुदा अपने प्यार से कोई प्यार ना हो;मैं उसके बिना ज़िंदगी गुज़ार दूँ;बेशर्ते उसको किसी से प्यार ना हो.

“उन्नति सम्पत्ति से नहीं, “सद्गुण” और “सद्बुद्धि” से होती है।”

मेरी माँ भी गिनती मैं अक्सर गलती कर जाती हैरोटी एक मांगता हूंतो 2 ही दे जाती हैLove you 😘 Maa

तलब उठती है बार-बार तेरे दीदार की, ~ ना जाने देखते-देखते कब तुम आदत बन गये

अच्छा तो तुम ऐसे थे, ~ दूर से कैसे लगते थे…

Recent Posts