2516+ Do Line Shayari In Hindi | Two Line Shayari in Hindi

Do Line Shayari In Hindi , Two Line Shayari in Hindi
Author: Quotes And Status Post Published at: September 12, 2023 Post Updated at: October 4, 2023

Do Line Shayari In Hindi : कोई लम्बी छोड़ी बात नहीं है, बस यही कहना चाहती हूँ तेरे हाथों में हाथ देकर, मेह्फूस रहना चाहती हूँ..!! दुःख सुख तेरे लिए सहन करते रहेंगे, तुझे प्यार किया है और हमेशा करते रहेंगे..!!

ये कैसा सुरूर है तेरे इश्क का मेरे मेहरबा, सॅंवर कर भी रहते हैं बिखरे-बिखरे से हम।

न जाने रूठ के बैठा है दिल का चैन कहाँ, मिले तो उस को हमारा कोई सलाम कहे।

कितने बरसों का सफ़र ख़ाक हुआ, उसने जब पूछा, कहो, कैसे आना हुआ.!

बेनूर सी लगती है तुमसे बिछड़ कर ये रातें, चिराग तो जलते है मगर उजाला नही करते!!

एटीटयूड तो बचपन से है मुझमे, जब पैदा हुआ तो डेढ़ साल मैंने किसी से बात तक नहीं की !!

माँ के लिए हम लिखते है, शान से, माँ के जैसा कोई नहीं इस जहान में।

तुमने पूछा था न कैसा हूँ मैं, कभी भूल न पाओगे ऐसा हूं मैं.

इस तरह से याद आके बेचैनना किया करो एक ही सजा काफीहै कि मेरे नहीं हो तुम ।

दुनिया फ़रेब करके हुनरमंद हो गई, हम ऐतबार करके गुनाहगार हो गए।

जिसकी वजह से मेंने छोड़ी अपनी साँस, आज वो ही आके पूछती हे किसकी हे ये लाश.

सब कुछ ठीक चल रहा था अचानक उसे हम बुरे लगने लगे

याद अब सिर्फ तेरा ही आ रहा हैं,,। लगता हैं तेरा प्यार का नशा चढ़ रहा हैं,,।

हर पल में प्यार है हर लम्हे में ख़ुशी है,खो दो तो याद है जी लो तो जिंदगी है।

अगर बिकने पे आजाओ तो घट जाते हैं दाम अक्सर,न बिकने का इरादा होतो क़ीमत और बढ़ती है।

मैंने मेरे जीवन में अनेक रिश्ते निभाये, पर मुझे माँ जैसा कोई रिश्ता नहीं मिला।

तुम जमाने की बात करते होमेरा मुझ से भी फासला है बहुत

हर रोज ये ज़िन्दगी कुछ नए सितम दिखाती है, सही मायने में यही ज़िन्दगी को जीना सिखाती है ।।

गलतफहमी मत पाल तू कि तेरा राज़ हैबेटा आकर देख ले.. कौन किसका बाप है

अच्छे चेहरे की तलाश में हमसे दूर तो हो जाओगे, लेकिन जब दिल की बात आएगी तो हार जाओगे।

मेरा भाई मेरे दिल के इतने क़रीब हो, मेरे हिस्से की सारी खुशियाँ उसे नसीब हो।

मत लो मेरे सब्र के बाँध का इम्तेहान,जब जब ये टुटा है, तूफ़ान ही आया है !

कमाल की ख्वाहिशे हैं मेरी, एक एक कर सारी अधुरी रही।

“तुम होते कोइ दुश्मन तो बात ही क्या थी ! अपनो को मनाना है, जरा देर लगेंगी।”

अब समझ पाया कि खो क्यों गयी दुनिया से मासूमियत, ख़ुदा ने मासूमियत का सारा खज़ाना उनकी आँखों मे जो लुटा दिया।

पांवों के लड़खड़ाने पे तो सबकी है नज़र, सर पे कितना बोझ है कोई देखता नहीं।

ना कोई आया है और ना कोई आएगा,हम तुमसे कितना प्यार करते है ये गूगल भी नहीं बता पाएगा.!

अब दिल कि महफिल मे ये चर्चा-ए-आम हो गया उसने नजाकत से झुकाई आखे और मेरा काम तमाम हो गया

यूँ शक ना किया करो मेरी दोस्ती पे, तुम्हारे बिना भी हम तुम्हारे ही रहते है !

तुझे याद करना ना करना अब मेरे बस में कहाँ, दिल को आदत है हर धड़कन पे तेरा नाम लेने की

वो अपनी मर्जी से बात करते हैं औरहम कितने पागल हैं, जो उनकी मर्जी का इंतजार करते हैं।

मेरा झुकना और तेरा खुदा हो जाना,यार अच्छा नहीं इतना बड़ा हो जाना।Mera Jhukna Aur Tera Khuda Ho Jana,Yaar Achha Nahi Itna Bada Ho Jana.

खामोशियां बेवजह नहीं होती,कुछ दर्द आवाज छीन लिया करते हैं।

जो टूटकर भी मुस्कुरा दे,ऐसा बेशरम इंसान हूं मैं

“लकीरें अपने हाथों की बनाना हमको आता है, वो कोई और होंगे अपनी किस्मत पे जो रोते हैं।”

मेरा तुझसे लड़ना तो एक बहाना है,मुझे तो तेरे साथ सिर्फ वक्त बिताना है।

शौक भले ही Ham मेहफिलो का रखते hai, लेकिन waha शराब का nahi, हमारी दोस्ती का नशा रहता है

मेरे जुनूँ को ज़ुल्फ़ के साए से दूर रख,रस्ते में छाँव पा के मुसाफ़िर ठहर न जाए।

उजालो में हाथ थाम कर रखा था अच्छा हुआ अँधेरे ने परख करा दी अपनों की

तबाह होकर भी तबाही दिखती नही, ये इश्क़ है इसकी दवा कहीं बिकती नहीं।

जिसे सोच कर ही चेहरे पर मेरे खुशी आ जाये, वो खूबसूरत सा एहसास हो तुम।

⇒⇒ अपने ही होते है जो दिल पर वार करते है ! गैरों को क्या खबर दिल किस बात पर दुखता है !!

“उन हसीं पालो को याद कर रहे थे,आसमान से आपकी “बात” कर रहे थे,दिल को “सुकून” मिला जब “हवाओ” ने बताया,आप भी हमें “याद” कर रहे थे”

जिस दिल में बसा था नाम तेरा हमने वो तोड़ दियान होने दिया तुझे बदनाम बस तेरे नाम लेना छोड़ दिया

अरे कौन नही जानता इस सच्चाई को, पैसे ने भी दूर किया भाई से भाई को।

उनका इतना सा किरदार है मेरे जीने में, की उनका ❤️ धड़कता है मेरे सीने में.

डर अब घाव से नही लगता, लोगो से झुठे लगाव से लगता है…

किस लिए कतरा के जाता है मुसाफिर दम तो ले, आज सूखा पेड़ हूँ कल तेरा साया मैं ही था.

बहुत ही खूबसूरत लगती है तुम्हारे चेहरे की मुस्कुराहट, हमें हो ही जाती है तुम्हारे आने की आहत।

उसकी यादों से भरी है मेरे दिल की तिजोरीकोई कोहिनूर भी दे तो भी मैं सौदा ना करूँ…!!!

अगर जिंदगी में जुदाई न होती, तो कभी किसी की याद आई न होती, साथ ही गुज़रता हर लम्हा तो शायद, रिश्तों में यह गहराई न होती.

खूब हौसला बढ़ाया था आँधियों ने धूल का, मगर दो बूँद बारिश ने आँधियों कि पल भर में औकात बता दी।

इश्क़ पर ज़ोर नहीं है ये वो आतिश ‘ग़ालिब’ कि लगाए न लगे और बुझाए न बने

तुम्हे पाकर भी खुश न था,तुम्हे खोने का भी गम हैतेरे जाने के बाद भी,‘तेरा’ होने का गम है।

मुस्कान आती है चेहरे पर हमारी, जब उनकी यादों में सिर्फ और सिर्फ हम होते है.

ये बारिश ये हसीन मौसम और ये हवाये। लगता हैं आज मुहब्बत ने किसी का साथ दिया हैं।

मैं अब भी बेताब हं कितना उसका होने को, एक वो शख्स है जो मेरा होना नहीं चाहता !

मेरा कर्म ही मेरा भाग्य है ऐसा मानकरकाम करने वाला कभी हारता नहीं।

कल का दिन किसने देखा है, तो आज का दिन खोये क्यों, जिन घड़ी मैं हँस सकते है उन घड़ियों मैं रोये क्यों ।।

मुझे किसी के बदल जाने का गम नहीं बस कोई था जिस पर खुद से ज्यादा भरोसा था…!!!

तेरी एक मुस्कुराहट को देखने को,,। हम तरसते हैं मिस हम तुझे बहुत करते हैं,,।

रिश्ते की गहराई नापनी हो तो,रूठ कर देख लो एक बार तुम !!

दो जवाँ दिलों का ग़म, दूरियाँ समझती हैं, कौन याद करता है , हिचकियाँ समझती हैं।

बस थोड़ा इन्तजार कर लो, किसी का दिलबदलेगा तो किसी के दिन बदलेंगे।

आँखें बयान कर देती है दिल की दास्तान, मोहब्बत लफ्जों की मोहताज नहीं होती।

हर पल करता लड़ाई हूं, पर प्यार भी क्यूंकि मै तेरा भाई हूं।

माँ के लिए प्रभु से मन्नत है, मेरी माँ की गोदी मेरे लिए जन्नत है।

⇒ उन्होंने कहा चाय में चीनी कितनी डालूं! हमने कहा बस आपने छू लिया ये मीठी हो गयी!!

किसी ने पूछा इश्क हुआ था क्या?हमने मुस्कुरा कर कहा आज भी है।

दुनिया फ़रेब करके हुनरमंद हो गई,हम ऐतबार करके गुनाहगार हो गए।

दिल में होता है गम तो आंखें होती है नम, मुस्कान भरे चेहरे के दीवाने है हम।

अब तो रहम कर मुझ पर करीब आ मेरे, यूं दूर से मोहब्बत अब हमसे और नहीं होगी।

एक मैं हूँ के समझा नहीं खुद को आज तकऔर लोग हैं, न जाने मुझे क्या-क्या समझ लेते हैं।

Recent Posts