232+ Dil Ko Chu Jane Wali Shayari In Hindi | दिल को छू जाने वाली शायरी

Dil Ko Chu Jane Wali Shayari In Hindi , दिल को छू जाने वाली शायरी
Author: Quotes And Status Post Published at: July 20, 2023 Post Updated at: June 20, 2024

Dil Ko Chu Jane Wali Shayari In Hindi : तेरी एक झलक के लिए तरस जाता हूँ,खुश किस्मत है वो लोग जो तुझे रोज देखते है। एक दर्द के हसरतों का मेला हैं मेरे सीने मे,फिर भी तमन्ना रखता हूँ वफा़ से जीने मे..!!

तुम्हें जब भी लगे की तुम मेरे हो तो पास आने में ज़रा भी देर ना करना।

देखी है दरार आज मैंने आइने में,पता नहीं शीशा टूटा था या मै।

वक्त के क्रूर छल का भरोसा नहीं आज जी लो की कल का भरोसा नहीं दे रहे है वो अगले जनम  की खबर ,जिनको अगले ही पल का भरोसा नहीं ||

खुशी मेरी काँच के जैसी थी ऐ दोस्तों,ना जाने कितनों को चुभ गयी

ये आंसू भी एक अलग परेशानी है ख़ुशी और गम की निशानी है समझने वालो के लिए तो अनमोल है और जो ना समझे उनके लिए सिर्फ पानी है।

ये कह कर मेरा दुश्मन मुझे हस्ते छोड़ गया तेरे अपने ही बोहोत है तुझे रुलाने के लिए।

हर साँस में तेरी याद होती है,मेरी आँखों को तेरी तलाश होती हैकितनी खुबसूरत चीज है ये मोहब्बत,कि दिल धडकने में भी तेरी आवाज होती है.

आखिर सीखा ही दिया दुनिया ने अपनों पर शक करना वरना मैं तो गैरो पर भी भरोसा करता था।

बच्चे से ही शायद मोहब्बत हुयी थी मुझे,दिल मिला नहीं की खेल कर चला गया।

लो तुमने भी ये आग़ाज़ कर दिया,धड़कन को दिल का साज़ कर दियादेकर मेरी ग़ज़ल को अपनी आवाज़,खंडहर सी इमारत को ताज कर दिया.

मांगी थी हमने तुमसे मोहब्बत सी जिंदगी, अरे मांगी थी हमने तुमसे मोहब्बत सी जिंदगी। लेकिन तुमने तो मोहब्बत को ही जिंदगी बना दिया।

प्यार करूँगा तो धोखा मिलेगादोस्ती करूँगा तो ग़द्दारीअब मुझे अकेले जीना का शौक़ हैभाड़ में जाए ये दुनियां सारी।

ढूंढ तो लेते अपने प्यार को हम, ;शहर में भीड़ इतनी भी न थी..;पर रोक दी तलाश हमने, ;क्योंकि वो खोये नहीं थे, बदल गये थे।

कितना अजीब हुआ न,पहले वो बुलाते थे मैं Ignore करता था,अब वो नहीं आते मेरे बुलाने पे।

रिश्ता हमारा इस जहा में सबसे प्यारा हो जैसे ज़िन्दगी को साँसों का सहारा हो याद रखना हमें उस पलमें भी जब हम अकेले हो और सारा जहा तुम्हारा हो।

दिल को छूने वाली बात  So baar kaha dil sebhool ja uskoSo baar kaha dil netum dil se nahi kehte ho..!

कुछ रिश्ते महंदी के रंग की तरह होते है शुरआत में गहरे बाद में फीके हो जाते है।

बरसात भी नहीं पर बादल गरज रहे है ,सुलझी हुई है जुल्फे और हम उलझ रहे है ,मदमस्त एक भंवरा क्या चाहता कली  से ,तुम भी समझ रहे हो हम भी समझ रहे हैं ||

कहने को तो बहुत कुछ बाकी है।पर तेरे लिए मेरी खामोशी ही काफी है।

देखते है अब क्या मुकाम आता है सहाब सुख्खे पत्ते को इश्क़हो गया बहती हवा से।

अपनी हद से गुज़र कर वो बोला मुझे,सुनो ज़रा हद में रहा करो।

#बेवजह हम वजह ढूंढ़ते हैं तेरे पास आने को ये “दिल” बेकरार है

वो हसी थी कही खो गई मैं जज़्बात था कही बिखर गया।

क्या “अजीब” खेल रहा है इस #मोहब्बत का भी,किसी को हम न मिले और कोई हमें न मिला।

हाँ उसे मोहब्बत तो थीकिसी से, लेकिन वो मैं नहीं था।

अच्छा करने के लिए अपने दिल को लगाओ, इसे बार बार करो और फिर तुम #आनंद से भर जाओगे

अज़ीब सी बस्ती में ठिकाना है मेरा जहा लोग मुलाक़ात कम और झांकते ज्यादा है।

जब वक़्त ज़वाब देता है तब गवाहों की ज़रूरत नहीं होती।

बेवज़ह तुम्हे  रूठने की आदत है किसी अपने का साथपाने की आदत है तुम खुश रहो मेरा क्या है मैं तो सितारा हु मुझे टूटने की आदत है।

तुम्हारी यादों से हैमेरी ज़िन्दगी में रौनकइसलिए अपनी नहींतुम्हारी ज़िन्दगी की दुआ करते हैं।

माँ ना होती तो वफ़ा कौन करेगा ममता का हक़ अदा कौन करेगा रब हर माँ को सलामत रखना वरना हमारे लिए दुआ कौन करेगा।

लिखना तो ये था की खुश हु तेरे बगैर पर कलम से पहले कागज़ पर आंसू गिर गए।

तेरी एक झलक के लिए तरस जाता हूँ,खुश किस्मत है वो लोग जो तुझे रोज देखते है।

बरसात भी नहीं पर बादल गरज रहे है ,सुलझी हुई है जुल्फे और हम उलझ रहे है ,मदमस्त एक भंवरा क्या चाहता कली  से ,तुम भी समझ रहे हो हम भी समझ रहे हैं ||

तेरे शहर के कारीगर बड़े अजीब है ऐ दिल काच की मरम्मत करते है पत्थरों के औजारों से।

तुम्हे मालूम ही नहीं तुमसे कितना प्यार करने लगे है जितना तुम दूर जाते हो उतने ही पास आने लगे है।

वादे वफ़ा के और चाहत जिस्म की अगर ये मोहब्बत है तो हवस किसे कहते है।

चलो यूँ ही सही हम_बेवफ़ा हैं,मगर ये #तो बताएँ आप क्या हैं.

हमे कहां मालुम था इश्क होता क्या हैबस एक तुम मिलें और जिन्दगी मुहब्बत बन गई।

मेरी ज़िन्दगी की सारी खुशिया तेरे बहाने से है कुछ तेरे सताने से कुछ तेरे मनाने से।

मैं  सब पे प्यार लुटाऊँ, ये दुआएं देदे  ए मेरे रब, मैं साँस साँस में महक जाऊंमेरी आवाज की खुसबू को हवाएं देदे ||

तेरे शहर के कारीगर , बड़े अजीब है ऐ दिल काच की मरम्मत करते है , पत्थरों के औजारों से।

अब कोई हसरत ना रही #किसी से वफा़ पाने की,दिल इस कद्र टूट गया जररत ना रही #दर्द बताने की..!!

रेत पर नाम लिखने से क्या फायदा, एक आई लहर कुछ बचेगा नहीं ,तुमने पत्थर सा दिल हमको कह तो दिया ,पत्थरों पे लिखोगे मिटेगा नहीं ||

ख्वाइश नही अब कुछ भी पाने की, जब जाना ही था तुझे जो जरूरत ही क्या थी मेरी जिंदगी में आने की।

चलो यूँ ही सही हम बेवफ़ा हैं,मगर ये तो बताएँ आप क्या हैं.

प्यार को हमने आजमाकर देख लियाएक धोखा हमने भी खाकर देख लियाक्या हुआ फ़िर मेरा दिल टुटा तो इस बहाने उन्होंने अपना दिल बहलाकर  देख लिया

जिसे मैंने था कभी भुलाया, ऐ खुदावो याद आया है आज फिर।

तुम भी कर के देख लो मोहब्बत किसी से, जान जाओगे की हम मुस्कुराना क्यों भूल गए।

ज़िन्दगी को टुकड़ो में जी रहा हूँ, कल उसकी मोहब्बत में जीया, आज उसकी यादो में जी रहा हूँ।

सोचता था कि  तुम गिर के संभल जाओगे,रोशनी बनके अंधेरों को निगल जाओगे, न तो मौसम थे न हालात न तारीख  न दिन,किसे पता था की तुम इतना बदल जाओगे ||

चेहरे पे उदासी होंठों पे हंसी,बस ऐसी ज़िन्दगी हम जिये जा रहे हैं।

मेरा तबाह होना तक़दीर में था तेरा छोड़ जाना तो बस बहाना है।

चला गया वो हमें छोड़ कर बेगानों की तरह, जैसे कभी हमे अपना समझा ही नही।

प्यास बुझ जाए तो सबनम खरीद सकता हूँ ,जख्म मिल जाए तो मरहम खरीद सकता हूँ ,ये मानता हूँ मैं दौलत नहीं कमा पाया ,मगर तुम्हारा हर एक गम खरीद सकता हूँ ||

वो बोहोत गौर से देखते है हमारी तस्वीर शायद उसमे जान डालने का इरादा है उनका।

ज़िन्दगी में रिश्ते ख़राब होनेकी एक वजह ये भी है कि लोगज़रा सा झुकना पसंद नहीं करते।

जो दिल के आईने में होवो प्यार के क़ाबिल है वरना दीवार के क़ाबिल तो हर तस्वींर होती है।

अब न खोलो मेरे घर के उदास दरवाज़े, हवा का शोर मेरी उलझनें बढ़ा देता है।

वो दर्द ही क्या जो आँखों से बह जाए वो ख़ुशी ही क्या जो होंटो पर रह जाए कभी तो समझा करो मेरी ख़ामोशी को वो बात ही क्या जो लफ्ज़कह जाए।

इंसान को बोलना सिखने में दो साल लग जाते हैं,लेकिन क्या बोलना है ये सिखने मेंपूरी ज़िन्दगी निकल जाती।

उन्होंने अपने होंटो सेलगाया और छोड़ दिया वो बोले इतना ज़हर काफी है तेरी कतरा कतरा मौत के लिए।

कौन कहता है सिर्फ नफरतो में ही दर्द है, कभी कभी बेपनाह मोहब्बत भी बहुत दर्द देती है।

अगर मुझे समझना चाहते हो तो सिर्फ मुझे अपना समझो।

जिंदगी के लिये जान ज़रूरी है,जीने के लिये अरमान ज़रूरी है,हमारे पास हो चाहे कितना भी गम,लेकिन तेरे चहरे पर मुस्कान ज़रूरी है…Advertisement

चाह कर भी पूछ नहीं सकते दिल का हाल उनका कही कह ना दे कि ये हक़ तुम्हे किसने दिया।

दीवाना हूं मैं उसके लिए इस तरह, दीवानी है वो किसी और के लिए जिस तरह।

टूटे हुए काँच की तरह चकनाचूर हो गए,किसी को लग ना जाये इसलिए सबसे दूर हो गए।

तेरे सीने का दिल भी धड़कता होगा मुझे देखने को तू भी तरसता होगा ये मानने में क्या हर्ज़ है की मुझे याद कर तू भी कभी सिसकता होगा।

ज़िन्दगी हसीन है पर जीना नहीं आता हर चीज़ में नशा है पर पीना नहीं आता सब मेरे बगैर जी सकते है बस मुझे ही किसी के बगैर जीना नहीं आता।

मेरी प्यार की परवाह  ना की उसने अपनी पसंद पे तो विश्वास  किया होतासुना है वो उसकी भी ना हुईमुझे नहीं पर उसे तो अपना लिया होता।

गहराईयां चाहिए इश्क़ मे मगर डुब जाने का डर हैं,मोहब्बत दिल से ही करेंगे मगर टूट जाने का डर हैं..!!

Recent Posts