688+ Sukoon Quotes In Hindi | सुकून शायरी इन हिंदी

Sukoon Quotes In Hindi , सुकून शायरी इन हिंदी
Author: Quotes And Status Post Published at: October 6, 2023 Post Updated at: April 4, 2024

Sukoon Quotes In Hindi : सुने पड़े इस दिल के तूफां में थोड़ा जुनूं-सा लाती है लबों से लबों की टकराहट थोड़ा सुकूं-सा लाती है। जब नज़रों में उनके हम नज़र आतें है वो ख़ुशी के चंद पल बरसों का सुकून दे जाते है।

थोड़ा सुकून भी ज़रूरी है ज़िन्दगी के लिए, वर्ण ये ज़रूरतें तो कभी ख़त्म नहीं होगी।

ना जाने इतना भी क्या खफा है, सुकून अब हमसे मिलता ही नहीं।

कभी-कभी सोचता हूँ सुकून की शामें बेच कर अगर अमीरी के दिन मिल भी गए तो क्या फायदा।

सुकून संसार की !!सबसे महंगी वस्तु है !!जो आपको केवल !!ईश्वर की भक्ति में मिलेगी !!

कितना सुकून मिलता है उस जगह पर बैठ कर रोने से.!!जिस जगह पर अल्लाह के सिवा और कोई ना हो.!!

आपका खुश रहना ही आपके दुश्मनों के लिए सबसे बड़ी सजा है!!

बड़ा ही खुश हो जाता हूँ जब कोई मेरे गाँव से आता है,जैसे वो कोई मरहम मेरे दिल के घाव का लाता है।

ज़िन्दगी तेरे इश्क़ में.!!कितनी दूर हम चल चुके.!!कहीँ सुकून मिला नहीं.!!कितने शहर बदल चुके.!!

सुकून की बात मत कर ऐ दोस्त.!!बचपन वाला इतवार जाने क्यूँ अब नहीं आता.!!

हर किसी को धन दौलत शोहरत कमाने का जुनून है,यहाँ हर शख्स भाग रहा है कहाँ किसी को सुकून है।

दिल को सुकून मिलता है !!जब लबों पर तेरा नाम आता है !!जब मैं तुझे मुस्कुराता हुआ देखूँ !!तब इन आँखों को आराम आता है !!

बुजदिल हैं वो लोग जो मुहब्बत नहीं करते,जिगर चाहिए खुद को बर्बाद करने के लिए।

दिल को बहुत सुकून मिलता है जब तू मुझे अपना कहता है Dil ko bahut sukoon milata hai jab tu mujhe apna kahta hai

कुछ फ़साने भूले कुछ याद रहेतेरे बाद फिर कहां शाद रहें..सुकून छीनने वालों का भला होंयहीं लब पर सदा फ़रियाद रहे..

वो एक ही शब्द काफी है मेरे सुकून के लिए,बस तुम दिल से एक बार कह दो की तुम खास हो मेरे लिए..!!

सुकून का एहसास तब होता है जब नजरो के सामने तू होता है Sukoon ka ehsaas tab hota hai jab najaro ke samane tu hota hai

प्यार में इत्मीनान से याद करते थेचाहें घूमें कहीं, हम जाए जहां..तब राते अलग थी, बातें अलग थीअब चैन किसे, अब सुकून कहां..

किसी को बे-सुकून करने वाला, कभी सुकून नहीं पा सकता.Kisi ko Sukoon Dene Vala, Kabhi Sukoon Nahi Paa Sakta.

अपनी महंगी घड़ी हाथों में संभाले हुए सोचता हूँ ना जाने कितना वक़्त निकल गया खुद के लिए वक़्त निकाले हुए।

वह व्यक्ति जो ये नहीं जानता है कि उसका अगला रुपया कहाँ से आने वाला है,वो अक्सर ये भी नहीं जानता है कि इससे पहले उसका रुपया कहाँ ख़र्च हुआ था।

कुछ इस तरह सुकून-ऐ-जिंदगी हासिल कर ली,किसी को माफ कर दिया, किसी से नफरत कर ली..!!

आप दुसरो को तब तक खुश नही कर सकतें जब तक आप खुद खुश नही हो !

ख़ुशी का असली राज़ रोज़मर्रा की ज़िंदगी की हर चीज़ में सच में दिलचस्पी लेने लेने में है।

सुना है बहोत बड़ेदौलतमंद हो गए हो..बताओ तो कहा बेचकरआये हो अपने सुकून को…

चेहरे पर सुकून तो बस दिखाने भर का हैं.!!वरना बेचैन तो दिल जमाने भर का है.!!

कट जाऐं संकट इनकी शरण मेंबैठ कर तो देखो भोलेनाथ के चरण में

मिलता है सुकुन दिल को.!!जब तुम मेरे करीब होते हो.!!आता है तुम पर बेइंतहा प्यार.!!जब तुम शैतानियां करते हो.!!

जब भी Motivation कम होने लगे तो अपनी माँ.!!की तरफ देखना और वापस उस काम को करने.!!में लग जाना जो करने करने का मन नहीं कर रहा.!!

हमसे मत पूछना ख़्वाबों के क़ीमत बहुत ख़्वाबों को पाला है हमने भी सुकून बेच कर।

अपनी हार पर कितना सुकून था मुझे.!!जब उसने गले लगाया जीतने के बाद.!!

सुकुन-ए-जिन्दगी पल भर को तरसती है,तेरी गैर मौजूदगी में ना जाने ये आंखे क्यूँ बरसती है..!!

तेरे पास होने से दिल को सुकून मिलता है,तेरे दूर जाने से ये दिल तड़पता है,तुम जुनून तुम सुकून हो दिल का,तेरे होने से ही ये दिल धड़कता है।

जो  मिला उसको  चाहना प्रसन्नता  है

तन्हाइयों में न जाने.!!अकेलापन कैसा दे गए.!!बेवफाई से भरे वादे.!!दिल का सुकून ले गए.!!

दान करके देखो बड़ा ही सुकून मिलेगा.!!जब किसी को आपकी वजह से खून मिलेगा.!!

चलो थोड़ा सुकून की और चला जाए.!!जो दिल दुखाते हैं उनसे दूर ही रहा जाए.!!

सुकून की रात अब नही आती है वो चली गई अब उसकी याद भी नही आती है Sukoon ki raat ab nahi aati hai wo chali gai hai ab usaki yaad bhi nahi aati hai

बड़े करीब रखता हूँ मैं अपने दोस्तों को,क्यूंकि ना तो ये दिल दुखाते है,और ना भर-भर आंसू रुलाते है।

ना शायरी में मिलेगा ,ना नग्मों में मिलेगा.!!ये सुकून बस माँ के क़दमों में मिलेगा.!!

सुकुन-ए-जिन्दगी पल भर को तरसती है तेरी गैर मौजूदगी में ना जाने ये आंखे क्यूँ बरसती है।

सुकून तो क्रोध को नियंत्रित करने में है,सुकून तो सबका सम्मान करने में है,सुकून तो दूसरों की मदत करने में है,सुकून तो जिंदगी भर मेहनत करने में है.

आपने देखे होंगे हजारों ख्वाब हमने तो सिर्फ आपको देखा है Apane dekhe hone hajaro khwab hamne to sirf apko dekha hai

शब भर रोता फिरता हैं कोईदरिया सागर में गिरता है कोई..सुकून छीनने वालो को खबर कहांकैसे बन कर बिखरता हैं कोई..

मोहब्बत में सुकून का रास्ता,मिलता नहीं जाने कब तकमहबूब की नजरें इनायत,न कर दे बेहिसाब जब तक

सोचा था घर बनाकर बेठुंगा सुकून से.!!पर घर की जरूरतों ने मुसाफिर बना डाला.!!

सुकून की बात मत कर ऐ दोस्त.!!बचपन वाला इतवार जाने क्यूँ अब नहीं आता.!!

सबसे अच्छा स्थान सुकून की खोज में अपने अंतर में ढूंढने का होता है।

हर पेड़ फल दे.!!यह जरूरी नहीं है.!!किसी की छाया भी.!!बड़ी सुकून देती है.!!

आत्म-प्यार और समय की कीमत समझने पर ही सुकून मिलता है।

गाँव की प्यारी यादों को दिल में सजाया करो,शहर में तरक्की कितनी भी करो लो,पर गाँव अपनों से मिलने आया करो।

क़रार दिल को सदा जिस के नाम से आयावो आया भी तो किसी और काम से आयाजमाल एहसानी

मेरे खेत की मिट्टी से पलता है तेरे शहर का पेट,मेरा नादान गाँव अब भी उलझा है कर्ज की किश्तों में।

दिन की शुरुआत में हमें लगता है कि जीवन में पैसा बहुत ज़रूरी है.!!लेकिन दिन ढलने के बाद अहसास होता है कि जीवन में सुकून सबसे ज़रूरी है.!!

तू मुझसे दूर है और पास भी.!!तू लबों की हंसी है और आंसू भी.!!तू दिल का सुकून है और बेचैनी भी.!!तु मेरी अमानत है और एक सपना भी.!!

जब नज़रों में उनके हम नज़र आतें है,वो ख़ुशी के चंद पल बरसों का सुकून दे जाते है..!!

किसी और से दिल लगाते, तो हम भी सुकून पाते,उसकी चाहत में, यूँ सरेआम जलालत ना उठाते।

अपनी मदहोश रात का इक हिस्सा हमे दे दें,ले जा सुकून मेरा, अपनी बेचैनियाँ हमे दे दें.

खुद औरों को दर्द दिये फिरतें हैं.!!और कहतें हैं सुकून भरी बाँहों की.!!तलाश है हमें.!!

सब कुछ खो दूंगा कोई गम नही मगर तेरे बिना हम कुछ नही Sab kuchh kho dunga koi gam nahi magar tere bina ham kuchh nahi

यदि आपकी ख़ुशी इस बात पर निर्भर करती है कि कोई और क्या करता है तो मेरा मानना ​​है कि आपको कोई समस्या नहीं है।

दौलतमन्द दौलत कमाकर भी मीठी नींद नहीं पाते हैंगरीब चंद पैसे कमाकर भी सुकून से सो जाते हैं.

दिल को आता है करार जब ख़त्म तेरा इंतजार होता है,मेरे आँखों को मिलता है सुकून जब तेरा दीदार होता है।

कमाता चला जा रहा है पर वक्त नहीं है,क्या ख़ुशी ढूंढ रहा है जब सुकून नहीं है..!!

सुकून की तलाश में भटकता रहा हू,चंद पैसों के खातिर खुदका चैन गवा रहा हू।

मकान है पर थकान उतरती ही नहीं.!!ये जिन्दगी जो सालों से बिखरी हुई है संवरती ही नहीं.!!

मरने का भय नहीं है मुझेजिंदा है तो भगत महादेव केमर गये तो संगत महादेव केहर हर महादेव…

तेरी आंखें मानो कोई झिल हो जैसे,दिल करता है इसमें डूब जाऊ,तेरी आदत मानों सुकून हो जैसे,लगता है तेरे हर वक्त साथ रहूं।

बचपन जो गया ,सुकून साथ ले गया.!!चुनौतियों और जिम्मेदारियों का बोझ दे गया.!!

खुद को कैद नहीं करना है चार दीवारों में,मुझे तो खुलकर जीना है प्रकृति की हवाओं में.

लोगों को हमेशा छोटी-छोटी चीजों में खुशियां ढूंढने चाहिए।

किसी को चाहकर छोड़ देना तो आसान है,लेकिन किसी को छोड़कर भी चाहो,तो पता चलेगा मोहब्बत किसे कहते है।

मैं खुद पहल करूँ या उधर से हो इब्तिदा,बरसों गुज़र गए हैं यही सोचते हुए।

Recent Posts