1171+ Positive God Quotes In Hindi | ईश्वर के अनमोल विचार

positive god quotes in hindi, भगवान पर अनमोल वचन, Beautiful God Quotes, ईश्वर के अनमोल विचार, भगवान पर ब्यूटीफुल कोट्स
Author: Quotes And Status Post Published at: June 27, 2023 Post Updated at: July 1, 2024

Positive God Quotes In Hindi: जिस इंसान का मन पहले से ही गन्दा हो भला उसकी प्राथना ईश्वर कैसे स्वीकार कर सकते है। कामियाबी के मार्ग पर चुनौतियां तो आएंगी ही इसलिए भगवान को दोष देने की बजाय उन चुनौतियों से निपटना सीखो।

दुख में भगवान को #याद करने का हक# उसी को है जो,#सुख में उसका शुक्रिया #अदा किया हो?।

परमेश्वर, परमेश्वर पर अनमोल वचन, परमेश्वर पर सुविचार, परमेश्वर हिंदी में, परमेश्वर पर विचार, परमेश्वर पर कथन,परमेश्वर पर उद्धरण,

जो प्रभु कृपा में सच्चा विश्वास रखता है!!उसके लिए अनंत कृपा बहती है!!

“ प्रभु के सामने झुकने वाला तोहर किसी को अच्छा लग सकता हैलेकिन जो सबके साथ झुककर चलेवो प्रभु को अच्छा लगता है…!!

जो मनुष्य जीवन मेंसत्य के मार्ग पर चलता हैं,उसका सफ़र ईश्वर के पासआके ही समाप्त होता है।

मौन प्रार्थनाएँ जल्दी पहुँचती है भगवान तक,क्योंकि वो शब्दों के बोझ से मुक्त होती है।

ईश्वर हर व्यक्ति में एक निजी दरवाज़े से प्रवेश करता है। – राल्फ वाल्डो एमर्सन

“ भगवान को मंदिर से ज्यादामनुष्य का हृदय पसंद है,क्योंकि मंदिर में इंसान की चलती है,हृदय में भगवान की…!!

ईश्वर के दो निवास स्थान हैं!!एक बैकुंठ में और दूसरा नम्र और कृतज्ञ हृदय में!!

जो लोग भगवान पर भरोसा करते हैं,वह कभी अकेले हो ही नहीं सकते।

में हमेशा सोचता हूँ की ईश्वर को जानने का सबसे अच्छा तरीका है बहुत सी चीजों से प्यार करना। विन्सेंट वान गाग

“ईश्वर एक है और वह एकता को पसंद करता है।”

मैं हर रोज़ गुनाह करता हूँ!!तू हर रोज़ माफ़ करता है!!मैं आदत से मजबूर हूँ!!तू रेहमत से मशहूर है!!

“भगवान ने आपको एक चेहरा दिया है, और आप अपने आप को एक और चेहरा बनाते हैं।”

“ मुझे आप मिल गये ईश्वर,सहारा हो तो ऐसा होजिधर देखू उधर तूम हो,नजारा हो तो ऐसा हो…..!!

भगवान हर जगह नहीं पहुंच सकते…इसीलिए उन्होंने माता-पिता को बनाया।

“प्रार्थना और ध्यान इंसान के लिए बहुत जरूरी है। प्रार्थना में भगवान आपकी बात सुनते है, और ध्यान में आप भगवान की बात सुनते है।”

“ मिटाने से मिटते नहीं ये भाग्य के लेख,आप कर्म अच्छा करते चलें,फिर ईश्वर की महिमा देखें…!!!

मेरे और ईश्वर के बीच बहुत ही ख़ूबसूरत रिश्ता हैं, मैं ज्यादा की उम्मीद नहीं करता और वो उम्मीद से ज्यादा देते है।

ईश्वर भक्ति से मन केविकार समाप्त हो जाते हैंऔर हम भगवान कीसमीप पहुँच जाते हैं।

“ शरीर की नजरों से देखने सेभगवान कभी दिखाई नहीं देतेउन्हें देखने के लिएमन की आंखें खुली होनी चाहिए…!!

“भगवान का भक्त होने का मतलब यह नहीं कि आप कभी गिरेंगे नहीं,

हम धार्मिक मन की अधिक सतर्क तर्क के बजाय उत्कीर्ण हृदय की अंतर्दृष्टि का पालन करने के लिए बुद्धिमान हो सकते हैं।

मेरा विश्वास भगवान के चमत्कारों को स्वीकार करने के लिए पर्याप्त बड़ा है।

अपने जीवन में इस बात का ध्यान हमेशा रखियेगा की माता-पिता की सेवा करना ही ईश्वर की सेवा करने के समान है।

“ईश्वर चित्र में नहीं, चरित्र में बसते है, इसलिये अपनी आत्मा को मंदिर बनाओं… “

ए इंसान…इस जगत में तू अपनी समस्या देख औरईश्वर का कद देख जब दोनों को देखेगा…तो तुझे तेरी समस्या एक बिंदु मात्र नजर आएगी…

बड़ा ही खुबसूरत रिश्ता है, मेरा और मेरे प्रभु के बीच,ज्यादा मैं कभी मांगता नहीं और कम वो कभी देता नहीं

जीवन बीत गया चाबी खोजने में जबकि दरवाजा ही नहीं था ईश्वर के घर में।

“ एक भगवान आपके घर में भी होता है,जिसे हम “माँ-बाप” के नाम से जानते है…!!!

“मनुष्य ईश्वर की सर्वोत्कृष्ट रचना है।”

पर जब आप गिरेंगे तो भगवान आपको स्वयं थाम लेंगे ।”

तेरी मेहर पर शक नहीं है मुझे ऐ मेरे परमात्माशक तो ये है मुझे कि, मैं तेरे रहम के काबिल हूँ ?

“वक्रतुण्ड महाकाय सुर्यकोटि समप्रभनिर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा”

भगवान कभी भी36 प्रकार के व्यंजनों से खुश नहीं होतेवह तो प्रेम के भूखे हैंमुट्ठी भर तंदुल से भीवह खुश हो जाते हैं।

जो ईश्वर को जानते हैं,वह उन्हें मंदिरों में ढूंढते हैं!!..लेकिन जो ईश्वर को पहचानते हैं,वह उन्हें ढूंढना छोड़ देते हैं!!..

गुरूर तुझे किस बात का ऐ बंदे,आज तू मिट्टी के ऊपर तोकल मिट्टी के नीचे…

उस दिन हमारी #सारी परेशानियाँ #ख़त्म हो जायेगी,#जिस दिन हमें यकीन# हो जाएगा की हमारा#सारा काम ईश्वर की #मर्जी से होता है ?।

जगत में ईश्वर हर जगहमौजूद नहीं होतालेकिन इस दुनिया के हर कोने में,हर जगह ईश्वर का कानून औरउसकी कुदरत मौजूद रहती है।

“दुनिया उम्मीद तोड़ सकती है, पर दुनिया बनाने वाला नही।”

भगवान की मौजूदगी के लिए बुद्धि से प्रमाण नहीं मिल सकता, क्योंकि भगवान बुद्धि से परे है।

“ ईश्वर की कृपा ता अनंत रहती हैवह कभी नापी नहीं जा सकती लेकिन,हमारी बुद्धि संकुचित होने की वजह सेवह अनंत कृपा हमें दिखाई नहीं देती…!!!

जब तेरे दर का नूर मेरे पास है तो,मुझे दुनिया के अंधेरों सेडरने की क्या जरूरत है।

भगवान से कुछ माँगनेपर न मिले तो उनसेनाराज मत होना क्योकिभगवान वह नही देतेजो आपको अच्छा लगता होबल्कि वह देते हैं जो आपकेलिए अच्छा होता हैं।

हे मनुष्य… दु:खी मत होमैं तेरे साथ ही हूं…आंखे बंद कर औरमुझ में ध्यान लगामैं तेरे आस पास ही हूं…

एक भगवान आपके# घर में भी होता है,#जिसे हम “माँ-बाप” के नाम #से जानते है?।

जो परमात्मा को पा लेता है!!वो शांतचित्त हो जाता है!!

” यदि परमेश्वर आपका साथी है, तो अपनी योजनाओं को बड़ा करें!”

अगर जिंदगी में कुछ हासिल ना हो तो समझ जाना कि…ऊपर वाले ने उससे कुछ बेहतरआपके लिए सोच कर रखा है…

गुनाह मेरे बड़े है!!है तेरा दिल भी बड़ा!!यकीन है माफ़ करेगा!!इसलिए दर पे हूँ खड़ा!!

भगवान को आपके सोने, चांदी, हीरा, मोती के जवाहरातों केचढ़ावे नहीं चाहिए… उन्हें बस प्रेम से दो पुष्पअर्पण कर दो वो उससे ही खुश हो जाते हैं।

तेरी लगन का रंग मुझ परऐसा चढ़ा है कान्हा…अब मुझे दुनिया के रंग बिरंगेरंगों की जरूरत नहीं पड़ती!!..

“ईश्वर एक ही है, भक्ति उसे अलग-अलग रूप में वर्णन करती है।”

लोग भगवान कोमन की इच्छा पूरी करने का जरिया समझते हैं!!…लेकिन भगवान तो इच्छाओं कानाश करने का आदेश देते हैं!!…

“ ईश्वर की न्याय की चक्कीधीमी जरूर चलती हैलेकिन पिसती बहुत बारीक है….!!

पूरी दुनिया में ढूढ़ने के बादभी नही मिलता हैं वही माया हैंऔर जो एक जगह पर बैठे हीमिल जाए वही परमात्मा हैं।

“ संस्कार और संस्कृति की शान मिले ऐसे,हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले ऐसे,की मंदिर में अल्लाहऔर मस्जिद में राम मिले जैसे…!!!

परमात्मा सत्य है और प्रकाश इसकी छाया है।

प्रेम में कोई #वियोग नहीं होता,#प्रेम ही अंतिम योग है,अंतिम मिलन है? ।

परमेश्वर को देखा नहीं जा सकता, पर महसूस हर जगह किया जा सकता है।

विपत्ति में इंसान कोउसके ये सात गुणबचाते हैं – ज्ञान, विनम्रता,विवेक, साहस, अच्छे कर्म,सत्य बोलने की आदत औरईश्वर में विश्वास।

जब आप एकदम अकेला महसूस करते हैं तब भी आपके साथ ईश्वर होते हैं।

तुझमे राम मुझमे राम!!सब में राम समाया है!!कर लो प्यार जगत में सभी से!!कोई नहीं पराया है!!

मैं हमेशा सोचता हूँ की ईश्वर को जानने का सबसे अच्छा तरीका है!!बहुत सी चीजों से प्यार करना!!

आपको कब और क्या देना है,वह आप से बेहतर उसे पता है।

तकलीफे चाहे जितनी बड़ी हो!!पर भगवान् से तो बड़ी नहीं है!!

मुझे कौन याद करेगा इस मतलबी दुनिया में हे प्रभुयहाँ तो बिना मतलब के तो लोगतुझे भी याद नहीं करते…

“और भी खूबसूरत हो गया है ये सफ़र, जबसे तू हमसफ़र बना है ।”

“ कर्म हमेशा संभलकर करने चाहिए क्योंकिना किसी की बददुआ खाली जाती हैऔर ना किसी की दुआ…!!!

ईश्वर के प्रति भक्ति भाव रखनाऔर अच्छे कार्य को करनाहमे मानसिक शांति देता हैं।

ईश्वर का वादा तो रात में चमकते तारों की तरह हैं, रात जितनी काली होगी, तारें उतना ही तेज और ज्यादा चमकेगें।

अहंकार मिटा दे,भगवान् मिल जायेंगे।कबीर

Recent Posts